न्यूज़

ONE Championship एथलीट्स ने पेटमोराकोट Vs. योडसंकलाई मुकाबले को लेकर दी अपनी राय

ONE: NO SURRENDER के को-मेन इवेंट में युवा स्टार का सामना प्रसिद्ध मॉय थाई दिग्गज से होगा।

इस शुक्रवार, 31 जुलाई को ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन पेटमोराकोट पेटयिंडी एकेडमी अपने टाइटल को योडसंकलाई “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” IWE फेयरटेक्स के खिलाफ डिफेंड करेंगे।

पेटमोराकोट ने फरवरी में इंडोनेशिया के जकार्ता में आयोजित हुए ONE: WARRIOR’S CODE में 5 राउंड के शानदार प्रदर्शन के बाद डिविजन के पहले टाइटल पर कब्जा किया था।

इस शुक्रवार थाई राजधानी में वो दिग्गज को हराने और अपनी विरासत कायम करने की कोशिश करेंगे।

खैर, योडसंकलाई मानते थे कि वो अपने हमवतन को फिनिश करके टाइटल पर कब्जा कर सकते हैं, जिसने उनके तीन-दशकों के किकबॉक्सिंग और मॉय थाई करियर को उभारा है।

इस मुकाबले पर सबकी नजरें हैं और ONE Championship के बड़े स्टार्स की इस बड़े मुकाबले पर अलग-अलग राय है।

हिरोकी “काईबुटसुकुन” सुजुकी

Japanese Muay Thai fighter Hiroaki Suzuki

“योडसंकलाई के पास आक्रामक क्षमता है और मुझे उनका फाइटिंग स्टाइल पसंद है। उनकी उम्र मेरे जितनी है और हमारा फिजिक भी एक-जैसा है। साथ ही हम लेफ्टी (बाएं हाथ के) हैं और मैं उनसे काफी कुछ सीखता हूं।

“दूसरी ओर, पेटमोराकोट के पास भी बढ़िया स्किल्स हैं और वो चतुर हैं। कुछ कह रहे हैं कि पेटमोराकोट, योडसंकलाई को अपनी स्किल्स से हरा देंगे। इसके बावजूद मैं योडसंकलाई के प्रदर्शन पर नजर डालूंगा।”

जोश “टाइमबॉम्ब” टोना

Josh Tonna is congratulated by Andy Howson at ONE WARRIOR'S CODE

“पेटमोराकोट और योडसंकलाई की एक शानदार फाइट होने वाली है। ये किक्स बनाम नीज़ का मुकाबला है। पेटमोराकोट के पास पिछली कुछ जीत और अनुभव का साथ है, वहीं योडसंकलाई की कुछ कठिन फाइट्स रहीं लेकिन मैं मानता हूं कि वो जीत के भूखे हैं और उन्होंने जीतने के लिए कठोर ट्रेनिंग की है।”

“मेरा मानना है कि ये फाइट योडसंकलाई के लिए पिछली फाइट्स से भी बेहतर है, इसलिए वो एक चौंकाने वाला प्रदर्शन करने के साथ जीत हासिल कर सकते हैं।”

गुरदर्शन “सेंट लॉयन” मंगत

The top pound-for-pound Indian mixed martial artist, Gurdarshan Mangat

“ये एक और ऐतिहासिक फाइट है!

“मैंने जापान में योडसंकलाई को लाइव देखा था और मैं (मार्च 2019 में आयोजित हुए ONE: A NEW ERA में) एंडी सावर के खिलाफ उनके प्रदर्शन को देखकर प्रभावित हुआ था। पेटमोराकोट (जुलाई 2019 में आयोजित हुए ONE: MASTERS OF DESTINY के) मेन इवेंट में थे और मैं मलेशिया में आयोजित हुए इस कार्ड में भी था।

“दोनों ने स्किल्स और अच्छे प्रदर्शन पर ध्यान दिया है लेकिन मुझे पेटमोराकोट के साथ जाना होगा।”

पूजा “द साइक्लोन” तोमर

Puja Tomar defeats Priscilla Hertati Lumban Gaol at ONE: ETERNAL GLORY

“मैं उम्मीद करती हूं कि ये बाउट 5 राउंड्स तक चले, ताकि फैंस का मनोरंजन हो। इसमें से एक को चुनना मुश्किल है लेकिन मैं पेटमोराकोट के साथ जाऊंगी क्योंकि वो चैंपियन हैं और मैं मानती हूं कि वो टाइटल डिफेंड कर पाएंगे।”

ऋतु फोगाट

Indian wrestling star Ritu Phogat gets the winner's medal

“इस मुकाबले को को-मेन इवेंट होना ही चाहिए था। मुझे उनकी मॉय थाई स्किल्स देखना पसंद है। इससे सीखने को भी मिलता है। मैं दोनों के बीच एक को नहीं चुन सकती, उम्मीद है कि उस दिन सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति जीते।”

रोशन मैनम

“पेटमोराकोट vs योडसंकलाई एक शानदार फाइट है, क्योंकि दोनों ही विश्वस्तरीय फाइटर्स हैं। मेरे अनुसार पेटमोराकोट को इसमें जीत मिल सकती है और वो चैंपियन बने रह सकते हैं।”

हिमांशु कौशिक

“पेटमोराकोट को ये मैच जीतना चाहिए। मैं मनाता हूं कि उनकी एल्बोज़ और नीज़, तेज और ताकतवर हैं। साथ ही वो मैच में किसी भी समय योडसंकलाई को नॉकआउट कर सकते हैं।”

युता वतनबे

Japanese Muay Thai fighter Yuta Watanabe raises his arm

“मैं मानता हूं कि इस बाउट में मुख्य चीज़ होगी कि कैसे वे पास आकर एक-दूसरे पर हमला करेंगे।

“पेटमोराकोट भले ही धीरे शुरुआत करने वाले व्यक्ति हैं लेकिन वो तीसरे राउंड के करीब क्लिंच और नीज़ का उपयोग करके अपने विरोधी को डैमेज करना चाहेंगे।

“इसी दौरान योडसंकलाई पंचों का उपयोग करके क्लोज रेंज में हमला करेंगे। मैं देखना चाहूंगा कि वो दूरी कैसे कम करेंगे, क्योंकि पेटमोराकोट के पास ज्यादा रीच है।”



केंटा यमाडा

Japanese Muay Thai fighter Kenta Yamada with the winner's medal

“योडसंकलाई ने अपने लंबे करियर में थाई के बाहर के एथलीट्स के साथ ज्यादा फाइट्स की है लेकिन इस बार उनका मुकाबला अपने हमवतन एथलीट से होगा।

“इस मामले में मानता हूं कि पेटमोराकोट ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करेंगे और बाउट में दबदबा बनाएंगे। साथ ही ये संभावना, मेरी पेटमोराकोट से हुई फाइट के निजी अनुभव से आई है।”

एको रोनी सपुत्र

Eko Roni Saputra at ONE DAWN OF VALOR

“मैंने फरवरी में (ONE: WARRIOR’S CODE में) पेटमोराकोट के साथ जकार्ता में एक ही कार्ड में मुकाबला किया था। मैं मानता हूं कि वो उस समय अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए।

“मैं मानता हूं कि योडसंकलाई जीतने वाले हैं। उनका अनुभव अविश्वसनीय है और मैं उनसे सिंगापुर में आयोजित हुए Evolve के सेमिनार मिला था। उनके पंच बढ़िया हैं और उनकी लेफ्ट किक तेज है।

“पेटमोराकोट ऊंचे हैं लेकिन मैं नहीं मानता कि इसका कोई असर होगा क्योंकि वो एक वजन के हैं। पेटमोराकोट, हर एक लंबे एथलीट की तरह ज्यादा हेड किक्स लगाने की कोशिश करेंगे। मैं मानता हूं कि इसका नतीजा जजों के स्कोरकार्ड से निकलेगा।

“ये पूरी तरह गेम को समझने की क्षमता और अटैक्स पर निर्भर रहेगा। इसके अलावा ये चीज़ धैर्य पर भी निर्भर होगी।”

ये भी पढ़ें: ONE Championship एथलीटों ने रोडटंग Vs पेचडम मुकाबले का विश्लेषण किया