न्यूज़

ऐतिहासिक मुकाबले में जीत दर्ज कर पेटमोराकोट बने वर्ल्ड चैंपियन

पेटमोराकोट पेटयिंडी एकेडमी ने इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में हुए मैच से ONE Championship के इतिहास के पन्नों में अपना नाम सुनहरे अक्षरों से दर्ज करवा लिया है।

25 वर्षीय एथलीट ने पोंगसिरी पीके. साइन्चेमॉयथाईजिम को ONE: WARRIOR’S CODE के मेन इवेंट में सर्वसम्मत निर्णय से हराकर पहला ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन होने का गौरव हासिल किया है।

Petchmorakot Petchyindee Academy defeats Pongsiri PK.Saenchaimuaythaigym ONE WARRIOR'S CODE

इस्तोरा सेनयन में हुए इस मेन इवेंट मुकाबले की शुरुआत से ही ये साफ़ हो चुका था कि पेटमोराकोट के पास ना केवल हाइट एडवांटेज है बल्कि उन्हें अपनी रीच से भी लाभ मिलने वाला है। इसका उन्होंने पूरा फायदा उठाते हुए ना केवल दमदार जैब लगाए बल्कि पुश किक्स भी लगाईं।

पहले राउंड में अच्छी बढ़त के बाद उनहोंने लेफ्ट क्रॉस और लेफ्ट हाई किक भी लगानी शुरू कर दी और अपने प्रतिद्वंदी के चेहरे को खूब क्षति पहुंचाई। इस दौरान PK.Saenchai MuayThaiGym के प्रतिनिधि संघर्ष करते हुए नजर आ रहे थे।

दूसरे राउंड की शुरुआत में पेटयिंडी एकेडमी ने जैब-क्रॉस लगाया और उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को बॉडी और सिर पर लेफ्ट किक्स लगाकर जैसे झकझोर दिया था। एक ऐसा भी मौका आया जब पोंगसिरी ने पेटमोराकोट की किक को पकड़ कर काउंटर किया लेकिन इसके बाद उनके प्रतिद्वंदी ने और भी अधिक आक्रामक रवैया अपनाते हुए बॉडी पर लेफ्ट नी लगानी शुरू कर दी।

Petchmorakot Petchyindee Academy defeats Pongsiri PK.Saenchaimuaythaigym ONE WARRIOR'S CODE

जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ा पेटमोराकोट का खुद पर भरोसा बढ़ने लगा और उन्होंने जबरदस्त लेफ्ट किक्स और नी लगानी जारी रखीं। पोंगसिरी ने भी राइट हैंड लगाकर वापसी करने की कोशिश की लेकिन उनके प्रतिद्वंदी ने उन्हें पंच और पुश किक्स लगाते हुए लगातार दबाव में रखने में सफलता पाई थी।

PK.Saenchai MuayThaiGym के एथलीट ने कुछ लो किक्स लगाईं लेकिन जब भी वो कोई स्ट्राइक लगाने की कोशिश करते, जवाब में उन्हें पंच और नी झेलनी पड़ रही थीं।

चैंपियनशिप राउंड्स में दाखिल होने के बाद दोनों ही ओर से कड़ा संघर्ष देखा गया। हालांकि, पेटमोराकोट चौथे राउंड में भी बढ़त बनाए हुए थे और उन्होंने अपने हमवतन एथलीट को लगातार एल्बोज़ से क्षति पहुंचाना जारी रखा।

Petchmorakot Petchyindee Academy defeats Pongsiri PK.Saenchaimuaythaigym ONE WARRIOR'S CODE

पोंगसिरी ने भी दबाव बनाने की कोशिश की लेकिन उनके ओवरहैंड राइट लगातार मिस हो रहे थे, वहीं उनके प्रतिद्वंदी लगातार लेफ्ट नी, किक और अपरकट से उन्हें दर्द दे रहे थे।

पेटमोराकोट जानते थे कि पांचवें राउंड तक उन्हें अच्छी बढ़त मिल चुकी है, उन्होंने अपनी पुरानी रणनीति पर ही टिके रहने का फैसला लिया। उन्होंने 29 वर्षीय स्टार को जैब-क्रॉस लगाया, लेफ्ट किक्स और नी ने उनकी बॉडी को खूब क्षति पहुंचाई और इसके साथ ही दूरी बनाए रखी और पुश किक्स लगाईं।

एक ऐसा भी समय आया जब पोंगसिरी के स्वीप से उनके प्रतिद्वंदी नीचे गिर पड़े थे लेकिन वो इसके बावजूद राउंड को अपने नाम करने में सफल नहीं हो पाए और 15 मिनट के जबरदस्त एक्शन के बाद पेटमोराकोट को विजेता घोषित किया गया।

Petchmorakot Petchyindee Academy defeats Pongsiri PK.Saenchaimuaythaigym ONE WARRIOR'S CODE

बैंकॉक से आने वाले पेटमोराकोट ने अब पांचवां वर्ल्ड टाइटल अपने नाम कर लिया है और उनका शानदार सफ़र अब 160-35-2 के रिकॉर्ड पर जा पहुंचा है।

मैच के बाद पेटमोराकोट ने कहा, “मैं अपने प्रतिद्वंदी के प्रति सम्मान व्यक्त करना चाहता हूँ। वो एक अच्छे इंसान हैं और एक टफ़ फाइटर हैं।”

“मैं ONE में किसी भी एथलीट का सामना करने के लिए तैयार हूँ।”

ये भी पढ़ें: डी रिडर ने अटाईडिस को हराकर मिडलवेट वर्ल्ड टाइटल शॉट हासिल किया