मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ONE फ्लाइवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डिविजन पर एक नजर

सितंबर 24, 2020

फ्लाइवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डिविजन एक बार फिर फैंस के लिए आकर्षण का केंद्र बनने के लिए तैयार है।

शुक्रवार, 9 अक्टूबर को ONE: REIGN OF DYNASTIES के को-मेन इवेंट में अपराजित एथलीट अलेक्सी “द जायंट” टोइवोनन का सामना #5-रैंक के फ्लाइवेट कंटेंडर रीस “लाइटनिंग” मैकलेरन से होने वाला है।

इस धमाकेदार मुकाबले में जीत दर्ज करने वाला एथलीट ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड टाइटल शॉट हासिल करने से 1 या 2 बड़ी जीत दूर रह जाएगा।

इससे पहले ये बड़ा मुकाबला शुरू हो, यहां हम ONE फ्लाइवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डिविजन पर प्रकाश डाल रहे हैं।

वर्ल्ड चैंपियन

एड्रियानो “मिकीन्यो” मोरेस मौजूदा ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड चैंपियन हैं और उन्हें हराकर किसी एथलीट के लिए वर्ल्ड चैंपियन बनना आसान बिल्कुल भी नहीं होगा।

32 वर्षीय स्टार ब्राजीलियन जिउ-जित्सु (BJJ) ब्लैक बेल्ट होल्डर हैं, उनका स्टैमिना बेहतरीन है और मॉय थाई स्किल्स भी शानदार हैं।

ब्राजीलियाई स्टार ने सबसे पहले सितंबर 2014 में जेहे “ग्रैविटी” युस्ताकियो को सबमिशन से हराकर ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड टाइटल जीता था। हालांकि, उसके बाद 2 बार उन्हें करीबी मुकाबलों में हार के कारण टाइटल गंवाना भी पड़ा है। लेकिन जनवरी 2019 में उन्होंने एक बार फिर रफ्तार पकड़ी और चैंपियन बने।

इस सफर में मोरेस ने डिविजन के कई टॉप एथलीट्स को मात दी है, जिनमें #2-रैंक के कंटेंडर डैनी “द किंग” किंगड के खिलाफ पहले राउंड में सबमिशन से आई जीत और #3-रैंक के कंटेंडर काइरत “द कज़ाख” अख्मेतोव के खिलाफ रीमैच में सर्वसम्मत निर्णय से आई जीत भी शामिल है।

मोरेस अब पिछले काफी समय से टॉप पर बने हुए हैं और उन्हें अपनी तीनों हार विभाजित निर्णय से झेलनी पड़ी हैं, इसका मतलब ये है कि उन्हें हरा पाना आसान नहीं है। फिर भी ऐसे कई प्रतिभाशाली एथलीट्स हैं, जिनका मानना है कि वो मोरेस को हराकर नए चैंपियन बन सकते हैं।

अगला प्रतिद्वंदी

डिमिट्रियस “माइटी माउस” जॉनसन को ONE में आने से पहले ही लैजेंड एथलीट का दर्जा प्राप्त था।

उन्होंने दुनिया के सबसे बेस्ट एथलीट्स में से एक के रूप में ONE Championship को जॉइन किया। उससे पहले ही वो 12 बार के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स वर्ल्ड चैंपियन रहे और उनका प्रोफेशनल रिकॉर्ड 27-3-1 का है।

अक्टूबर 2018 में प्रोमोशन में आने के बाद वो लगातार 3 मुकाबलों में जीत दर्ज कर चुके हैं।

पहले उन्होंने युया “लिटल पिरान्हा” वाकामत्सु को ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री के क्वार्टरफाइनल मैच में हराया। उसके बाद एक और जापानी स्टार तत्सुमित्सु “द स्वीपर” वाडा को टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में सर्वसम्मत निर्णय से हराया था।

वहीं, उनकी आखिरी जीत अक्टूबर 2019 में डैनी किंगड के खिलाफ आई, जब उन्होंने ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप अपने नाम की थी। सिल्वर बेल्ट को जीतने के साथ ही वो डिविजन के #1-रैंक के कंटेंडर बने और मोरेस के खिलाफ चैंपियनशिप मैच भी हासिल कर लिया था।



2 पूर्व प्रतिद्वंदी

Flyweight stars Danny Kingad and Kairat Akhmetov

2 प्रतिभाशाली एथलीट्स एक बार फिर “मिकीन्यो” को चुनौती देने के करीब आते जा रहे हैं।

हालांकि, नवंबर 2017 में किंगड को मोरेस के खिलाफ अपनी पहली प्रोफेशनल करियर की हार झेलनी पड़ी थी, लेकिन फिलीपीनो एथलीट ने उसके बाद खुद में काफी सुधार किया है। “द किंग” ने अपने ग्रैपलिंग गेम में सुधार किया और पिछले 8 में से 7 मुकाबलों में जीत दर्ज कर चुके हैं। उन्हें एकमात्र हार जॉनसन के खिलाफ मिली थी।

अब किंगड एक बार फिर ONE वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच हासिल करने की कगार पर खड़े हैं और अगले मैच में एक बड़ी जीत उन्हें टाइटल शॉट दिलाने में मदद कर सकती है।

दूसरी ओर, अख्मेतोव भी एक बड़ी जीत दर्ज करते हुए ब्राजीलियाई स्टार को एक बार फिर चुनौती दे सकते हैं।

कज़ाकिस्तानी रेसलिंग सुपरस्टार नवंबर 2015 में मोरेस को विभाजित निर्णय से हराकर वर्ल्ड चैंपियन भी बन चुके हैं। लेकिन चोट के कारण उन्हें करीब एक साल तक मार्शल आर्ट्स एक्शन से दूर रहना पड़ा। वापसी के बाद अगस्त 2017 में अख्मेतोव को हराकर “मिकीन्यो” एक बार फिर चैंपियन बने, लेकिन तब से उन्हें ब्राजीलियाई एथलीट के खिलाफ तीसरा मैच नहीं मिल सका है।

अब अख्मेतोव लगातार 2 मैचों में जीत दर्ज कर चुके हैं। पहले सितंबर 2018 में “द सदर्न ईगल” मा हाओ बिन को अपने ग्रैपलिंग गेम की मदद से और मार्च 2019 में करीबी मुकाबले में मैकलेरन को हराया था।

अगर “द कज़ाख” टॉप कंटेंडर्स में से किसी एक को हरा पाते हैं तो संभव ही उन्हें चैंपियनशिप मैच मिलने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

नॉकआउट आर्टिस्ट

Japanese rising star Yuya Wakamatsu pumps his fist

वाकामत्सु के ONE Championship सफर की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी।

जापानी स्टार को ONE में अपने 2 पहले मैचों में टॉप लेवल के एथलीट्स के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। पहले करीबी मुकाबले में किंगड के खिलाफ और उसके बाद जॉनसन ने उन्हें सबमिशन से हराया था। लेकिन “लिटल पिरान्हा” ने उसके बाद शानदार अंदाज में जीत की लय में वापसी की थी।

अगस्त 2019 में वाकामत्सु ने युस्ताकियो को 2 मिनट से भी कम समय में हरा दिया था और पूर्व ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड चैंपियन को नॉकआउट करने वाले पहले एथलीट बने। 2 महीने बाद उन्होंने पूर्व ONE बेंटमवेट वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर “ओट्टोगी” डे ह्वान किम को सर्वसम्मत निर्णय से मात दी।

इन 2 बड़ी जीतों का ही नतीजा है कि अब “लिटल पिरान्हा” #4-रैंक के कंटेंडर बन चुके हैं और एक नॉकआउट जीत उन्हें रैंकिंग्स में और भी ऊपर ले जा सकती है।

को-मेन इवेंट स्टार्स

REIGN OF DYNASTIES Co-Main Event Performers Aleksi Toivonen and Reece McLaren

ONE: REIGN OF DYNASTIES के को-मेन इवेंट में 2 संभावित फ्यूचर वर्ल्ड टाइटल कंटेंडर्स आमने-सामने आने वाले हैं।

टोइवोनन का प्रोफेशनल रिकॉर्ड 7-0 (2 नो कॉन्टेस्ट) का है और अभी तक 100% फिनिशिंग रेट के साथ आगे बढ़े हैं। इसके अलावा अपने करियर में 6 मुकाबलों को पहले ही राउंड में फिनिश कर चुके हैं।

अपराजित फिन एथलीट की ग्रैपलिंग स्किल्स शानदार हैं और उनके पंच काफी प्रभावशाली साबित होते हैं। इसके अलावा जुलाई 2019 में अपने प्रोमोशनल डेब्यू में उन्होंने अकिहिरो “सुपरजैप” फुजिसावा के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया और पहले ही राउंड में जापानी एथलीट को रीयर-नेकेड चोक लगाकर हराया था।

मैकलेरन का मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स रिकॉर्ड 13-7 का है और इस मामले में टोइवोनन उनसे थोड़ा आगे हैं, लेकिन जिउ-जित्सु स्टार ONE दिसंबर 2015 में कम समय के नोटिस पर मैच मिलने के बाद भी मार्क स्ट्रीग्ल को हराने में सफलता पाई थी।

उसके बाद ऑस्ट्रेलियाई स्टार ने मुईन “ताजिक” गफूरोव को अपने प्रोफेशनल करियर में पहली हार का स्वाद चखाया, ONE बेंटमवेट वर्ल्ड चैंपियन बिबियानो “द फ्लैश” फर्नांडीस को अपना बेस्ट प्रदर्शन करने के लिए पुश किया, जिसमें उन्हें विभाजित निर्णय से हार मिली थी। इसके अलावा फ्लाइवेट डिविजन में 4 बड़ी जीत दर्ज कर चुके हैं, जिनमें वाडा, अनतपोंग, जियानी सूबा और गुरदर्शन “सेंट लॉयन” मंगत के खिलाफ आई जीत भी शामिल हैं।

“लाइटनिंग” फिलहाल #5-रैंक के कंटेंडर बने हुए हैं और BJJ ब्लैक बेल्ट होल्डर भी हैं। इसके अलावा उनकी रेसलिंग और बॉक्सिंग स्किल्स भी शानदार हैं और उन्हें हरा पाना बिल्कुल भी आसान नहीं है, यही चीजें उन्हें टॉप पर पहुंचने में मदद कर सकती हैं।

फिलहाल 9 अक्टूबर को जिसे भी जीत मिलेगी, वो फ्लाइवेट डिविजन के टॉप कंटेंडर्स के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है।

ये भी पढ़ें: ONE: REIGN OF DYNASTIES को हेडलाइन करेंगे सैम-ए, टोना, टोइवोनन और मैकलेरन

और लोड करें

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.
By submitting this form, you are agreeing to our collection, use and disclosure of your information under our Privacy Policy. You may unsubscribe from these communications at any time.