किकबॉक्सिंग

ONE Championship के 5 सबसे बेहतरीन साउथपॉ फाइटर्स

फरवरी 19, 2021

कई साउथपॉ (बाएं हाथ के) एथलीट्स अपने अनोखे स्टाइल्स की वजह से ONE Championship में सफलता प्राप्त कर चुके हैं।

ONE Super Series में साउथपॉ स्ट्राइकर्स से लेकर मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में ग्रैपलर्स तक इन सभी साउथपॉ एथलीट्स का स्टाइल अन्य मार्शल आर्टिस्ट्स के लिए बड़ी मुसीबत साबित हुआ है।

यहां आप जान सकते हैं 5 सबसे बेहतरीन बाएं हाथ के ONE Championship फाइटर्स के बारे में और किन मैचों ने उन्हें सबसे ज्यादा पहचान दिलाई।

#1 जियोर्जियो पेट्रोसियन

ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियन जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन एक बेहतरीन लेफ्ट हैंड स्ट्राइकर हैं, जो इटली का प्रतिनिधित्व करते हैं।

उनका करियर रिकॉर्ड 103-2-2 (2 नो कॉन्टेस्ट) का है और 5 किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल जीत चुके हैं। वो अब सबसे पहली ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप बेल्ट को जीत छठी बार वर्ल्ड चैंपियन बनना चाहते हैं।

इस उपलब्धि को हासिल करने से पहले उन्हें 26 फरवरी को ONE: FISTS OF FURY में जॉर्जियाई स्ट्राइकर डेविट कीरिया की चुनौती से पार पाना होगा, इससे डिविजन में उनका #1 रैंक का स्थान और भी मजबूत हो जाएगा।

टाइमिंग और सटीकता पेट्रोसियन को खतरनाक साउथपॉ एथलीट बनाती है। अप्रैल 2018 में ONE Super Series को जॉइन करने के बाद वो अपने स्ट्रेट लेफ्ट पंच की मदद से 6 में से 5 मुकाबलों को जीत चुके हैं।

अगस्त 2019 में हुए ONE: DREAMS OF GOLD में हुए ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री सेमीफाइनल मैच में “स्मोकिन” जो नाटावट के खिलाफ पहले राउंड में आई नॉकआउट जीत ने दर्शा दिया था कि उनका लेफ्ट पंच कितना खतरनाक हो सकता है।

#2 योडसंकलाई IWE फेयरटेक्स

पूर्व ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” IWE फेयरटेक्स ने साउथपॉ स्टांस की मदद से ही अपनी विरासत बनाई है।

#5 रैंक के फेदरवेट कंटेंडर का प्रोफेशनल मॉय थाई और किकबॉक्सिंग रिकॉर्ड 202-74-4 का है और अपने लंबे करियर में दुनिया के लगभग हर कोने में मार्शल आर्ट्स मैचों में भाग ले चुके हैं।

साउथपॉ होते हुए भी उनके ना केवल लेफ्ट बल्कि दाईं ओर के अटैक्स भी बहुत प्रभावशाली हैं। उनकी लेफ्ट किक्स के सामने बड़े-बड़े दिग्गज हार मान बैठे हैं और राइट अपरकट्स भी उतने ही खतरनाक हैं। लेकिन ONE में उनकी सबसे बड़ी जीत लेफ्ट हैंड की मदद से ही आई।

मार्च 2019 में हुए ONE: A NEW ERA में “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” का सामना किकबॉक्सिंग मैच में अपने पुराने प्रतिद्वंदी एंडी “सावर पावर” सावर से हुआ। मुकाबले के दूसरे राउंड में उन्होंने स्ट्रेट लेफ्ट हैंड से डच स्टार को झकझोर कर रख दिया था।

योडसंकलाई ने चाहे लेफ्ट हैंड के दम पर उस प्रतिद्वंदिता को समाप्त किया हो, लेकिन कुलबडम ने इसी अंदाज में प्रतिद्वंदिता की शुरुआत की थी।



#3 कुलबडम सोर. जोर. पिएक उथाई

“लेफ्ट मीटियोराइट” निक नेम को साथ लिए कुलबडम सोर. जोर. पिएक उथाई कई यादगार मैचों का हिस्सा रहे हैं इसलिए उन्हें ONE के बेस्ट साउथपॉ एथलीट्स में से एक माना जाता है।

#3 रैंक के बेंटमवेट मॉय थाई कंटेंडर का रिकॉर्ड 62-11-5 का है और 2 बार Lumpinee Stadium वर्ल्ड चैंपियन रह चुके हैं।

हालांकि वो अन्य लैजेंड एथलीट्स की तरह इस खेल के टॉप पर तो नहीं पहुंच पाए, लेकिन अपने करियर में ढेरों नॉकआउट जीत दर्ज कर चुके हैं, जिनमें से अधिकतर उनके लेफ्ट हैंड की ताकत से आई हैं।

अगस्त 2020 में हुए ONE: NO SURRENDER III में कुलबडम ने “द मिलियन डॉलर बेबी” सांगमनी क्लोंग सुआनप्लूरिज़ॉर्ट को पहले ही राउंड में लेफ्ट हैंड की मदद से फिनिश कर सभी को चौंका दिया था।

#4 थान ली

ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन थान ली पारंपरिक मार्शल आर्ट्स बैकग्राउंड से आते हैं और उन्होंने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स से काफी अच्छा तालमेल बैठा लिया है।

खास बात ये है कि ONE Championship को जॉइन करने के बाद अभी तक उनका फिनिशिंग रेट 100% रहा है।

उनका स्टाइल अनोखा है और साउथपॉ होने के कारण ली के प्रतिद्वंदियों के लिए उनके मूव्स का अंदाजा लगाना बहुत मुश्किल होता है।

पिछले साल अक्टूबर में हुए ONE: INSIDE THE MATRIX में पूरी दुनिया ने ली की वर्ल्ड-क्लास स्किल्स को देखा। उन्होंने डिफेंडिंग वर्ल्ड चैंपियन मार्टिन “द सीटू-एशियन” गुयेन को लेफ्ट हुक-राइट अपरकट कॉम्बो लगाकर तीसरे राउंड में हराकर चैंपियनशिप अपने नाम की थी।

उस इवेंट में ली ही अकेले एथलीट नहीं रहे जो नए चैंपियन बने थे, मेन इवेंट में एक टॉप मिडलवेट कंटेंडर ने भी ऐसा ही कुछ किया था।

#5 रीनियर डी रिडर

हाल ही में ONE मिडलवेट वर्ल्ड चैंपियन बने रीनियर “द डच नाइट” डी रिडर अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर में अपराजेय रहे हैं।

डी रिडर का परफेक्ट रिकॉर्ड 13-0 का है और जनवरी 2019 में ONE को जॉइन करने के बाद अपने 4 में से 3 प्रतिद्वंदियों को नॉकआउट या सबमिशन से फिनिश कर चुके हैं।

“द डच नाइट” एक अनोखे ग्रैपलर और स्ट्राइकर भी हैं और लंबाई उनके लिए अभी तक लाभप्रद रही है। इन्हीं कारणों की वजह से उन्हें लगातार जीत मिलती आई हैं।

पिछले मैच में उन्होंने उस समय ONE मिडलवेट वर्ल्ड चैंपियन आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग को उनके टाइटल के लिए चैलेंज किया। डी रिडर ने अपनी लंबी रीच का फायदा उठाते हुए म्यांमार के दिग्गज को ग्रैपलिंग में मात देकर रीयर-नेकेड चोक लगाकर पहले राउंड में फिनिश किया।

ये भी पढ़ें: एनाहाचि और सुपरलैक ONE: FISTS OF FURY के लिए खास तैयारी में जुटे