मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ONE: NO SURRENDER के 3 मैच जो आपको जरूर देखने चाहिए

ONE Championship साल 2020 में इवेंट्स का आयोजन एक बार फिर शुरू कर दुनिया के मार्शल आर्ट्स फैंस का मनोरंजन करने के लिए तैयार है।

शुक्रवार, 31 जुलाई को ONE: NO SURRENDER का आयोजन थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में होने वाला है। बाउट कार्ड में 2 वर्ल्ड टाइटल मैच और किकबॉक्सिंग सुपर-बाउट भी शामिल है जो पिछले कई हफ्तों से सुर्खियां बटोर रही है।

फिर भी ऐसे 3 मैच हैं जो बाउट कार्ड को किसी अन्य मुकाबले से ज्यादा दिलचस्प बना रहे हैं और ये संभव ही शो के सबसे धमाकेदार मैच साबित हो सकते हैं।

इसलिए यहां हम उन 3 मुकाबलों से आपको अवगत कराने वाले हैं जो आपको जरूर देखने चाहिए।

सुपरलैक कियतमू9 Vs. पानपयाक जित्मुआंगनोन

Superlek Kitmoo9 walks to the Circle for his match

सुपरलैक “द किकिंग मशीन” कियतमू9 और “द एंजेल वॉरियर” पानपयाक जित्मुआंगनोन इससे पहले भी 6 बार एक-दूसरे का सामना कर चुके हैं। दोनों एक-दूसरे के स्टाइल से अच्छी तरह वाकिफ हैं और यही चीज इस मैच को धमाकेदार बना सकती है।

अभी तक इस प्रतिद्वंदिता में पानपयाक 4 जीतों के साथ आगे चल रहे हैं लेकिन जब सर्कल में ये आमने-सामने होंगे तो दोनों को अलग-अलग फायदे और नुकसान का सामना करना होगा, इसलिए मैच का परिणाम किसी भी ओर जा सकता है।

सुपरलैक की खतरनाक राइट किक की बात करें तो वो कई बार साबित कर चुके हैं कि अगर उनका प्रतिद्वंदी पंचों का ज्यादा इस्तेमाल करता है तो वो किसी भी पल मैच को समाप्त कर सकते हैं। दूसरी ओर, पानपयाक भी किक्स और स्ट्रेट लेफ्ट लगाना पसंद करते हैं लेकिन अगर उन्होंने ज्यादा देर तक पंचों का प्रयोग करना जारी रखा तो सुपरलैक भी अपने पैर से उनकी गर्दन को जकड़ने में देर नहीं लगाएंगे।

पानपयाक भी दमदार लेफ्ट किक्स लगाते हैं और खास बात ये है कि उनकी किक्स की मूवमेंट सुपरलैक से काफी तेज होती है। वो अपनी किक्स की मदद से थाईलैंड के मॉय थाई स्टेडियम्स में काफी मैचों को नॉकआउट से जीत चुके हैं। अपने पुराने प्रतिद्वंदी के खिलाफ वो 4 मैचों में जीत दर्ज कर चुके हैं इसलिए किक्स लगाते समय पानपयाक का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर होगा।

इसके अलावा ये पहला मौके होगा जब ये दोनों एथलीट 4-औंस के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स ग्लव्स पहनकर एक-दूसरे को क्षति पहुंचाने का प्रयास करेंगे, जो इस मैच के परिणाम में बड़ी भूमिका निभा सकता है।

फैंस को निश्चित रूप से एक ऐसा मैच देखने को मिलेगा, जहां दोनों स्टार्स एक-दूसरे की कमजोरियों का फायदा उठाने की कोशिश करेंगे और अंत में उसे जीत मिल सकती है जिसकी किक अधिक प्रभावशाली होगी।



स्टैम्प फेयरटेक्स Vs. सुनीसा श्रीसेन

इस शुक्रवार मौजूदा ONE एटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन स्टैम्प फेयरटेक्स 3-स्पोर्ट ONE वर्ल्ड चैंपियन बनने की ओर एक और कदम मजबूती से आगे बढ़ाना चाहेंगी। लेकिन संभव है कि आगामी इवेंट में स्टैम्प की हमवतन एथलीट सुनीसा “थंडरस्टॉर्म” श्रीसेन उनके मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर में अभी तक की सबसे कड़ी परीक्षा ले सकती हैं।

इस बात में भी कोई संदेह नहीं कि Fairtex टीम की मेंबर अपनी प्रतिद्वंदी से बेहतर स्ट्राइकर हैं क्योंकि इससे पहले वो किकबॉक्सिंग और मॉय थाई में भी ONE वर्ल्ड टाइटल जीत चुकी हैं और साथ ही खुद को ONE की सबसे बेहतर स्ट्राइकर्स में से एक साबित भी कर चुकी हैं।

उनके पास अपनी प्रतिद्वंदी से अधिक अनुभव है, अच्छा स्टैमिना है और साथ ही स्ट्राइकिंग गेम में उन्हें हराना बहुत मुश्किल है। इसके अलावा स्टैम्प इस मैच में ग्राउंड गेम को दिखाने के लिए भी प्रतिबद्ध हैं

लेकिन अच्छी रणनीति से मैच का परिणाम श्रीसेन के पक्ष में जा सकता है। 19 वर्षीय जूडो स्पेशलिस्ट कह चुकी हैं कि वो स्टैम्प की रेसलिंग स्किल्स की कड़ी परीक्षा लेने वाली हैं और संभव ही उनके पास बड़ा उलटफेर करने की काबिलियत भी है।

ये स्ट्राइकर बनाम ग्रैपलर के बीच धमाकेदार मुकाबला साबित होने वाला है और इस तरह के मैच आमतौर पर शानदार ही साबित होते आए हैं। खास बात ये है कि मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में दोनों ही एथलीट अभी तक अपराजित रही हैं। इसलिए आगामी इवेंट में किसी ना किसी की विनिंग स्ट्रीक का अंत होना निश्चित है।

मार्क फेयरटेक्स एबेलार्डो Vs. फैब्रिसियो एंड्राडे

Mark "Tyson" Fairtex Abelardo runs in with a cross

मार्क “टायसन” फेयरटेक्स एबेलार्डो हमेशा फैंस का मनोरंजन करते आए हैं और वो अपना प्रोमोशनल डेब्यू कर रहे फैब्रिसियो “वंडर बॉय” एंड्राडे के खिलाफ एक बार फिर ऐसा कर सकते हैं।

फिलीपीनो-कीवी एथलीट के पास अलग-अलग तरह के मूव्स मौजूद हैं और लंबे मुकाबलों का हिस्सा बनना उन्हें बेहद पसंद है। वो अपने रेसलिंग गेम का फायदा उठाना जानते हैं, दबाव बनाना जानते हैं और इस 67-किलोग्राम कैचवेट कॉन्टेस्ट में आखिरी राउंड तक भी पूरी एनर्जी के साथ अपने प्रतिद्वंदी को क्षति पहुंचाने में सक्षम हैं।

लेकिन एबेलार्डो को “वंडर बॉय” के स्टाइल के सामने संघर्ष भी करना पड़ सकता है।

एंड्राडे ब्राजीलियाई और दक्षिण अमेरिकी मॉय थाई चैंपियन रहे हैं और Tiger Muay Thai टीम में ट्रेनिंग करते हैं। उनका अभी तक का प्रोफेशनल किकबॉक्सिंग रिकॉर्ड 28-1 है। वो अपने स्टैंड-अप गेम से अपने प्रतिद्वंदियों पर बढ़त बनाते आए हैं और अभी तक ली जे टिंग और ज़ियाटिहे झुमाटाई जैसे चीनी ONE सुपरस्टार्स के खिलाफ जीत दर्ज कर चुके हैं।

एबेलार्डो की लंबे समय तक अटैक करने की काबिलियत और एंड्राडे के स्ट्राइकिंग गेम की ये टक्कर संभव ही इस मैच को कांटेदार बना सकती है। संभव है कि ये मुकाबला आगामी इवेंट का सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरने वाला मैच भी बन सकता है।

ये भी पढ़ें: इन 5 कारणों से आपको ONE: NO SURRENDER को मिस नहीं करना चाहिए