किकबॉक्सिंग

सैम-ए गैयानघादाओ ने जोश टोना की चुनौती का दिया जवाब

2-स्पोर्ट ONE वर्ल्ड चैंपियन सैम-ए गैयानघादाओ को पता है कि उनके पीछे किसी की नजरें लगी हैं। एक टॉप रैंक ONE Super Series मॉय थाई व किकबॉक्सिंग एथलीट हैं, जो स्ट्रॉवेट डिविजन के किंग पर निशाना साधे हुए हैं।

सैम-ए ने दिसंबर में पहला ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल और पहला ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल फरवरी में जीतकर खुद को इस वेट क्लास (भार वर्ग) में एक बेहतरीन स्ट्राइकर के तौर पर स्थापित किया था।

इस समय सिंगापुर में रह रहे थाई एथलीट ने अपनी दोनों में से किसी भी बेल्ट के लिए चैलेंजर नहीं चुना है। हालांकि, जोश “टाइमबॉम्ब” टोना का मानना है कि वो इस लैजेंड के खिलाफ मैच मिलना डिजर्व करते हैं।

टोना ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में MuayU में ट्रेनिंग करते हैं। उन्होंने हाल ही में मार्शल आर्ट्स की दुनिया को तब चौंका दिया था, जब उन्होंने कई बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन एंडी “पनिशर” हाओसन को ONE: WARRIOR’S CODE में सिर पर शानदार नी मारकर नॉकआउट कर दिया था।

यहां तक कि सैम-ए भी उनके इस प्रयास से प्रभावित थे।

36 साल के Evolve प्रतिनिधि ने बताया, “मैंने एंडी के साथ उनकी बाउट देखी। उस दौरान उनकी तकनीक पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाया लेकिन ये जान गया कि वो एक अच्छे फाइटर हैं।”



उस जीत ने इस ऑस्ट्रेलियाई स्ट्राइकर के लिए स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग रैंकिंग्स में चौथा और स्ट्रॉवेट मॉय थाई रैंकिंग्स में पहला स्थान पक्का कर दिया।

इस शानदार जीत के साथ ही “टाइमबॉम्ब” को लगता है कि उन्होंने सैम-ए से वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए मैच का हक पा लिया है।

और जैसा कि सुनने में आ रहा है कि जीते-जागते लैजेंड को इस मुकाबले से कोई ऐतराज नहीं है। वो अपने दोनों टाइटल बचाने को तैयार हैं बल्कि वो तो दोनों स्पोर्ट में चुनौती का स्वागत करते हैं।

सैम-ए ने बताया, “मुझे पक्का भरोसा है कि मेरे पास उनसे ज्यादा अनुभव है। 400 बाउट्स के साथ मुझे लगता है कि मेरे पास अनुभव की बढ़त है। इसके साथ ही मेरी तकनीक और स्पीड का लाभ भी मिलेगा। मैंने अपने जीवन में कई सारे अच्छे एथलीट्स से मुकाबला किया है इसलिए मुझे किसी चीज का डर नहीं है। अगर वो तेज हैं तो मैं ज्यादा तेज बनने की ट्रेनिंग लूंगा।”

“मैं टोना से मॉय थाई या किकबॉक्सिंग मैच में मुकाबला कर सकता हूं लेकिन मैं चाहता हूं कि पहले मॉय थाई में मुकाबला हो क्योंकि अगर वो हार गए तो उनके पास किकबॉक्सिंग में मुझसे मुकाबला करने का मौका रहेगा।”

Sam-A Gaiyanghadao connects with a knee to the body

हालांकि, सैम-ए ने टोना की हाओसन पर जीत वाले मुकाबले में उनकी मूवमेंट और स्ट्राइकिंग तकनीक पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया था लेकिन वो कैनबरा निवासी के स्टाइल से परिचित हैं और आसानी से इसका अनुमान लगा सकते हैं कि मैच कैसा रहेगा।

थाई आइकॉन ने बताया, “मुझे पता है कि उनकी तकनीक से किस तरह मुकाबला करना है। मैं उन्हें पहला ही पंच मारने से रोक दूंगा। इससे पहले कि वो उसके साथ दूसरा पंच मारें।”

“मेरे पास एक लंबा टीप (पुश-किक) है। उनसे दूरी बनाने के लिए मैं उन्हें दुविधा में डालने की कोशिश करूंगा। फिर अपनी स्ट्राइक से हमला करूंगा। उन्हें पता भी नहीं चलेगा कि उन पर किस तरह से हमला किया गया है।”

अभी कुछ भी आधिकारिक तौर पर नहीं है। हालांकि, स्ट्रॉवेट किंग को भरोसा है और वो अपने दोनों ONE वर्ल्ड टाइटल किसी से भी बचाने को तैयार हैं, खासकर “टाइमबॉम्ब” से।

ये भी पढ़ें: ONE Championship में इंडोनेशियाई एथलीट्स के 5 सबसे बेहतरीन नॉकआउट्स