Kickboxing

सैम-ए ने जीती दूसरी ONE Super Series विश्व चैम्पियनशिप

मलेशिया के कुआलालंपुर में उद्घाटन ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड खिताब पर कब्जा करने के लिए सैम-ए गैयानघादाओ को अपने स्ट्राइकिंग कैलिपर दिखाने से पहले शुरुआती मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

6 दिसंबर को पूर्व ONE फ्लायवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने वांग जनगुआंग “गोल्डन बॉय” के खिलाफ ONE: MARK OF GREATNESS के एशिता एरिना के मुख्य मैच में अपना किक बॉक्सिंग डेब्यू किया।

???? ONE STRAWWEIGHT KICKBOXING WORLD CHAMPION ????

???? ONE STRAWWEIGHT KICKBOXING WORLD CHAMPION ????In a back-and-forth five-round thriller, Muay Thai legend Sam-A Gaiyanghadao ???????? earns a unanimous decision victory over Wang Junguang!????: How to watch ???? http://bit.ly/ONEMOGHowToWatch????: Book your hotel ???? bit.ly/ONEhotelplanner????: Watch on the ONE Super App ???? bit.ly/ONESuperApp????: Shop official merchandise ???? bit.ly/ONECShop

Posted by ONE Championship on Friday, December 6, 2019

बाउट की शुरुआत में वांग ने गति दिखाई और अपने हुक से 36 वर्षीय Evolve एथलीट को बांधकर रख दिया। हालांकि, चीनी स्टार ने तब चालाकी दिखाई, जब वह पूर्व ONE वर्ल्ड चैंपियन की किक से बचने के लिए वापस झुक गए।

वॉन्ग ने दूसरे राउंड में भी अपनी तेजी बरकरार रखते हुए अपने दमदार हमले जारी रखे। जैसे-जैसे समय बीता, सैम-ए ने अपने प्रतिद्वंद्वी को समय देना शुरू किया और अपने गार्ड के माध्यम से चालाकी से बाएं हाथ से विपक्षी को भेदना शुरू कर दिया। फिर भी वांग के मूव्स ज्यादा आई-कैचिंग नजर आए। सैम-ए के हमले अधिक खतरनाक थे। उन्होंने चीन एथलीट के डिफेंस को भेदा और बैकफुट पर जाकर स्कोर किया।

तीसरे राउंड में गोल्डन बॉय आगे आए और सैम-ए के काउंटर्स का जवाब देना शुरू किया। कई बार मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने अपनी किक का बेहतरीन इस्तेमाल किया और चीनी एथलीट के मुकाबले लो किक मारने के बाद उन्हें कैनवस पर थकने के लिए मजबूर कर दिया। हालांकि, बाद में वांग की वापसी का क्षण आया लेकिन जैसे ही वह डंप्ड हुए थाई योद्धा ने उन्हें जकड़कर कैनवस पर फेंक दिया।

Sam-A Gaiyanghadao defeats Wang Junguang at ONE MARK OF GREATNESS

थाइलैंड के योद्धा ने चौथे दौर में जवाबी हमले जारी रखे और वांग ने बड़े शॉट्स लगाते हुए आगे बढ़ना जारी रखा। चीनी स्टार ने जहां अपनी पावर और वॉल्यूम पर ध्यान केंद्रित किया तो वहीं सैम-ए ने गति और सटीकता पर।

अब भी दोनों काउंटर्स की तलाश में थे। थाई हीरो ने अपने प्रतिद्वंद्वी पर बाएं हाथ से प्रहार कर दूरी बनाए रखी और एक शक्तिशाली राउंडहाउस किक जड़ दी। वांग ने भी आगे आते हुए दबाव को बनाए रखा लेकिन सैम-ए ने ज्यादातर चीनी स्टार के हमलों को निष्क्रिय कर दिया।

सैम-ए पांचवें दौर में भी अपनी शक्तिशाली किक्स की सीरीज से आगे खेलते गए। एक बार फिर गोल्डन बॉय ने कदम आगे बढ़ाए और थाई योद्धा को चौंकाने के लिए अपने स्ट्राइक्स से पराजित करने की कोशिश की।

Sam-A Gaiyanghadao defeats Wang Junguang at ONE MARK OF GREATNESS

सौभाग्य से सिंगापुर के एथलीट के लिए उनके स्ट्राइक काफी तेजतर्रार नज़र आ रहे थे क्योंकि वह वह लीड लेफ्ट हैंड की सीरीज से जुड़े थे। चीन के योद्धा ने सैम-ए की ठुड्डी को एक मिनट तक के लिए जकड़ा और राउंड के खत्म होने की घंटी बजने तक खुद को हावी रखा। अंतिम दौर में न तो कोई निर्णायक शॉट खेल सका और न ही कोई जजों के स्कोरकार्ड तक पहुंच पाया।

तीन जजों ने किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में सैम-ए के लिए स्कोर किया। इस जीत से उन्होंने ना केवल ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल का उद्घाटन किया बल्कि इसका मतलब यह भी था कि वह ONE Championship के इतिहास में पहले दो-स्पोर्ट, दो-डिवीजन वर्ल्ड चैंपियन बने।