विशेष कहानियाँ

ONE Championship के इतिहास के टॉप-10 एक ही पंच वाले नॉकआउट

ONE Championship के इतिहास में आज तक बड़ी संख्या में नॉकआउट देखे जा चुके हैं लेकिन सबसे अच्छे नॉकआउट्स की सूची में वो ही जगह बना पाए हैं, जब किसी एथलीट ने एक परफेक्ट शॉट के साथ मुकाबले को फिनिश कर दिया हो।

वैसे तो हर तरह के नॉकआउट्स को देखना हमेशा एक सुखद एहसास होता है लेकिन सबसे शानदार वही होते हैं, जब ONE में कोई एथलीट सही समय पर अपने पंच को सटीक जगह पर लैंड कराते हुए परफेक्ट शॉट के साथ मैच को अपने नाम करता है।

हम 10 सबसे बेहतरीन वन-पंच नॉकआउट्स से आपको अवगत कराने वाले हैं।

#10 हान जी हाओ Vs. रायन जकीरी

साल 2018 में जब ONE Super Series का अनावरण हुआ था, तो मॉय थाई एथलीट्स को छोटे ग्लव्स के साथ फाइट करने की आजादी दी गई थी। इससे ये तय हो चला था कि फैंस अब ज्यादा मैचों को फिनिश होते देख पाएंगे, खासतौर पर जब बात हान जी हाओ जैसे एथलीट्स की आती है जिनके पास बेहतरीन नॉकआउट पावर है।

ONE: PURSUIT OF GREATNESS में चीनी एथलीट ने रायन जकीरी को एक ही शॉट में चित्त कर दिया था। फिलीपींस के स्टार जब हान जी की किक को लेफ्ट हुक के साथ काउंटर करने की कोशिश कर रहे थे तो इस दौरान अपनी चिन (ठोड़ी) को डिफेंड करने के लिए उनके पास कोई मूव नहीं बचा था। इसी कारण हान जी के एक ही राइट क्रॉस से उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा।

#9 शेनन विराचाई Vs. राहुल राजू

थाईलैंड के शेनन “वनशिन” विराचाई के धैर्य, चपलता और ताकत ने ONE: IRON WILL में उन्हें राहुल “द केरल क्रशर” राजू के खिलाफ शानदार जीत दिलाई थी।

जैसे ही भारतीय स्टार ने आगे आकर अटैक करने की कोशिश की, विराचाई ने उसी दौरान काउंटर राइट हुक्स लगाने की कोशिश की थी। पहले कुछ प्रयासों के दौरान उन्हें सफलता नहीं मिल पाई लेकिन इसके बाद भी राजू ने फ्रंटफुट पर आकर अटैक करना नहीं छोड़ा। इसी गलती का भुगतान उन्हें तब करना पड़ा, जब विराचाई की स्ट्राइक सटीक निशाने पर जाकर लगी और मात्र 21 सेकंड में भारतीय स्टार को मैच में हार का सामना करना पड़ा था।

#8 जियोर्जियो पेट्रोसियन Vs. जो नाटावट

ONE: DREAMS OF GOLD में हुए ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री सेमीफाइनल में जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन ने अपनी आक्रामकता और गार्ड-स्प्लिटिंग से “स्मोकिन” जो नाटावट की चिन पर कडा प्रहार करते हुए जीत दर्ज की थी।

नाटावट ने जैसे ही आगे आने की कोशिश की, तभी इटेलियन एथलीट ने परफेक्ट टाइमिंग और पूरी ताकत के साथ स्ट्रेट लेफ्ट लगाया। शुरू में ऐसा प्रतीत हो रहा था कि थाई एथलीट अपने पैरों पर खड़े हो जाएंगे लेकिन वो अपना सिर भी ठीक से ऊपर नहीं उठा पा रहे थे इसलिए रेफरी ने मुकाबले को समाप्त करने की पुष्टि कर दी।

#7 एलन गलानी Vs. हिडेकी सकीने

इस लिस्ट में सबसे तेज नॉकआउट तब आया, जब ONE: TOTAL VICTORY में हिडेकी सकीने ने फ्रंटफुट पर आकर बड़ी गलती कर दी थी और एलन “द पैंथर” गलानी ने इस मौके का पूरा फायदा उठाया।

कैमरून के मॉय थाई और किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन ने पहले खुद को बचाया और तभी एक खतरनाक राइट हुक लगाया, जिससे सेकिने केवल 10 सेकंड के भीतर मुकाबला गंवा बैठे। इस रिकॉर्ड को तोड़ पाना शायद ही अब किसी ONE एथलीट के लिए संभव हो।

#6 नोंग-ओ गैयानघादाओ Vs. सैमापेच फेयरटेक्स

ONE: EDGE OF GREATNESS में हुए मैच के पहले 2 राउंड्स में सैमापेच फेयरटेक्स किसी तरह नोंग-ओ गैयानघादाओ के दमदार स्ट्राइक्स को झेलते रहे थे और यहाँ तक कि तीसरे राउंड में वापसी भी करने में सफल रहे।

आखिरकार नोंग-ओ को अंदाजा हो चुका था कि अब इस मैच को फिनिश करने के लिए उन्हें केवल सही मौके का इंतज़ार करना है। पहले चैंपियनशिप राउंड्स में उन्हें वो मौका मिला, जब सैमापेच थोड़ा घबराये हुए नजर आए। इससे ONE बेंटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन को बिजली की फुर्ती से क्रॉस लगाने का मौका मिल चुका था और स्ट्राइक के लैंड होने से अगले ही पल सैमापेच नीचे गिर पड़े।

#5 होनोरियो बानारियो Vs. यारोस्लाव यार्टिम

ONE: KINGS OF THE DESTINY में पूर्व ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन होनोरियो “द रॉक” बानारियो ने अपने घरेलू फैंस को ये दिखाया था कि उनके हीरो के पास अब भी वो ताकत है, जो उन्हें लाइटवेट डिविजन के टॉप स्टार्स में शामिल कराती है।

फिलीपींस के एथलीट ने जब बॉडी किक को काउंटर करने के लिए अपने प्रतिद्वंदी की बॉडी पर कडा प्रहार किया तो ऐसा लग रहा था कि यारोस्लाव यार्टिम इसे झेल जाएंगे लेकिन इसके बाद लेफ्ट हुक का वो जवाब देने में नाकाम रहे थे।

#4 ब्रेंडन वेरा Vs. मॉरो सेरिली

ONE: CONQUEST OF CHAMPIONS में मॉरो “द हैमर” सेरिली ने ब्रेंडन “द ट्रुथ” वेरा को उनके ONE हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज किया था लेकिन इस दौरान अपनी गलतियों की वजह से उन्होंने ब्रेंडन के पंचों को दोगुना खतरनाक बना दिया था।

एक तरफ इटेलियन एथलीट अटैक करने के लिए आगे आ रहे थे और उसी समय वेरा ने लेफ्ट हुक लगाया, सेरिली का मोमेंटम आगे की ओर था, इससे उस लेफ्ट हुक की ताकत दोगुनी हो गई थी। फिलीपींस के स्टार का पंच सीधा उनके प्रतिद्वंदी की चिन पर लैंड हुआ और इसका मतलब नॉकआउट था।

#3 जोशुआ पैचीओ Vs. रॉय डोलीगेज़

पूर्व प्रोफेशनल बॉक्सर रॉय डोलीगेज़ के पंचिंग अटैक की बराबरी कर पाना जोशुआ “द पेशन” पैचीओ के लिए असंभव था, इसलिए पैचीओ ने बॉक्सिंग अटैक का सामना करने का दूसरा तरीका ढूंढ निकाला था।

ONE: LEGENDS OF THE WORLD में फिलीपींस के स्टार किक लगाने की पोजीशन में आए लेकिन किक लगाई नहीं, इससे डोलीगेज़ को अपने बचाव में आगे झुकना पड़ा और इसी समय जोशुआ ने स्पिनिंग बैक फिस्ट लगाते हुए दूसरे राउंड में चौंकाने वाली जीत दर्ज की थी।

#2 मार्टिन गुयेन Vs. एडुअर्ड फोलायंग

ONE: LEGENDS OF THE WORLD में ही जोशुआ पैचीओ के धमाकेदार नॉकआउट के अलावा एक और बेहतरीन नॉकआउट आया था। सबसे चौंकाने वाली बात ये रही कि फैंस एडुअर्ड “लैंडस्लाइड” फोलायंग द्वारा इस नॉकआउट की उम्मीद कर रहे थे लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

उम्मीद थी कि फोलायंग, ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन मार्टिन “द सीटू-एशियन” गुयेन के खिलाफ अपने बड़े बॉडी साइज़ और ताकत का लाभ उठाकर इस मैच में ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल को सफलतापूर्वक डिफेंड करने वाले हैं। लेकिन ऑस्ट्रेलियाई एथलीट भी दमदार स्ट्राइक्स लगाना अच्छे से जानते हैं और उन्होंने सही मौके का इंतज़ार कर धमाकेदार पंच लगाया था।

जैसे ही फोलायंग बैक किक लगाने के लिए घूमे, तभी “द सीटू-एशियन” ने उन्हें शानदार ओवरहैंड राइट लगाते हुए हराया था।

#1 आंग ला न संग Vs. कैन हासेगावा

ONE के इतिहास के सबसे यादगार वर्ल्ड टाइटल मुकाबले में फिनिश की अत्यधिक संभावनाएं थीं और ऐसा ही कुछ आंग ला “द बर्मीस पाइथन” न संग ने केन हासेगावा के खिलाफ किया था। ये मैच 2018 बाउट ऑफ द ईअर साबित हुआ और आंग ला का पंच 2018 नॉकआउट ऑफ द ईअर साबित हुआ।

4 राउंड के जबरदस्त एक्शन के बाद दोनों ही एथलीट बेहद थके हुए नजर आने लगे थे लेकिन आंग ला ने अपनी बची हुई एनर्जी का प्रयोग खतरनाक राइट अपरकट लगाने के लिए किया था।

ONE: SPIRIT OF A WARRIOR में उनकी ये स्ट्राइक परफेक्ट टाइमिंग के साथ सटीक जगह पर लैंड हुई थी इसलिए हासेगावा लड़खड़ाते हुए भी नजर आए। इसका स्पष्ट मतलब ये था कि हासेगावा मैच को जारी नहीं रख पाएंगे।

ये भी पढ़ें: साल 2020 के पहले 3 महीने के टॉप-5 प्रदर्शन