विशेष कहानियाँ

साल 2020 के पहले 3 महीने के टॉप-5 प्रदर्शन

साल 2020 की शुरुआत ONE Championship के वर्ल्ड-क्लास मार्शल आर्टिस्ट्स ने धमाकेदार अंदाज में की है और वो कई बेहतरीन मुकाबलों का हिस्सा रह चुके हैं।

दबाव अधिक होने के बाद भी एथलीट्स ने हार नहीं मानी फिर चाहे वो मॉय थाई नियमों के अंतर्गत बाउट कर रहे हों, किकबॉक्सिंग या फिर मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स नियमों के अंतर्गत। इस दौरान कई एथलीट्स को ऐसी जीत भी मिली हैं जिसने उनके करियर को एक नई दिशा दिखाई है।

हम जनवरी से लेकर मार्च तक हुए कुछ सबसे बेहतरीन मुकाबलों से आपको अवगत कराने वाले हैं।

#1 सैम-ए ने दिखाई अपनी महानता

ONE: KING OF THE JUNGLE में थाई लैजेंड सैम-ए गैयानघादाओ ने उभरते हुए सितारे रॉकी ओग्डेन को हराकर ना केवल ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल जीता बल्कि ये भी दर्शा दिया था कि वो अभी भी टॉप-क्लास प्रदर्शन करने में सक्षम हैं।

ओग्डेन युवा हैं और उनकी आक्रामकता और पंचिंग पावर को सैम-ए के लिए बड़ा खतरा माना जा रहा था लेकिन 5 राउंड तक थाई एथलीट ने इस आक्रामकता का डटकर सामना किया।

सैम-ए की मूवमेंट भी काफी तेज रही और वो युवा ऑस्ट्रेलियाई स्टार की स्ट्राइक्स से खुद का बचाव कर रहे थे और साथ में काउंटर शॉट्स भी लगा रहे थे।

Evolve टीम के प्रतिनिधि, ओग्डेन से उम्र में 16 साल बड़े हैं, इसके बावजूद चैंपियनशिप राउंड्स में वो थके हुए नजर नहीं आए। आखिरी बैल बजने तक वो लगातार अपना बेस्ट प्रदर्शन करने की कोशिश करते रहे और अपने सभी हथियारों का प्रयोग कर तीसरा ONE Super Series वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया है।

ये भी पढ़ें: वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद सैम-ए ने रॉकी ओग्डेन के लिए सम्मान प्रकट किया

#2 ज़ाम्बोआंगा ने टाइटल शॉट हासिल किया

डेनिस “द मेनेस फेयरटेक्स” ज़ाम्बोआंगा के रूप में एक नई ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर उभरकर सामने आई हैं। ONE: KING OF THE JUNGLE में उन्होंने अपने डिविजन की टॉप एथलीट्स में से एक मेई यामागुची पर जीत दर्ज कर ये टाइटल शॉट हासिल किया है।

यामागुची, वर्ल्ड चैंपियन “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली को 2 बार 5 राउंड तक चले मुकाबले में अपना बेस्ट प्रदर्शन करने के लिए पुश कर चुकी हैं लेकिन जब उनका सामना “द मेनेस” से हुआ तो इस बार भी जीत उनके पक्ष में नहीं आ पाई थी।

फिलीपींस की एथलीट ने अपनी शानदार बॉक्सिंग स्किल्स के सहारे अच्छा स्ट्राइकिंग गेम दिखाया और यहाँ तक कि ग्रैपलिंग गेम में भी यामागुची को बैकफुट पर धकेलते हुए उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी को चौंका दिया था। ज़ाम्बोआंगा अपनी प्रतिद्वंदी के हर सबमिशन प्रयास को विफल करने में सफल साबित हुईं और ग्राउंड पर रहते हुए भी उन्होंने कुछ अच्छे शॉट्स लगाए, उसके बाद स्टैंड-अप गेम में बढ़त हासिल की।

इस प्रदर्शन से ONE के चेयरमैन और सीईओ चाट्री सिटयोटोंग प्रभावित नजर आए और उन्होंने मैच के समाप्त होने के बाद उन्हें टाइटल शॉट देने की पुष्टि की थी।

ये भी पढ़ें: वर्ल्ड टाइटल शॉट और यामागुची से मिली जीत पर ज़ाम्बोआंगा ने बताईं खास बातें

#3 रोडटंग ने बैंकॉक में हैगर्टी को हराया

रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन और जोनाथन “द जनरल” हैगर्टी के बीच पहली भिड़ंत धमाकेदार रही थी इसलिए ONE: A NEW TOMORROW में इनके रीमैच से भी फैंस पहले जैसी उम्मीद लगाए बैठे थे।

थाई सुपरस्टार इस बार एक अलग ही गेम प्लान के साथ रिंग में उतरे, उनका मानना था कि वो अपने प्रतिद्वंदी को फिनिश करने का दमखम रखते हैं। चौंकाने वाली बात ये रही कि उनकी ये भविष्यवाणी बिल्कुल सच साबित हुई क्योंकि शुरुआत से ही उन्होंने ब्रिटिश स्टार की बॉडी पर कड़ा प्रहार करना शुरू कर दिया था।

रोडटंग ने अपने ही अंदाज में हैगर्टी के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाया और पहले ही राउंड में उन्हें मैट पर गिराने में सफलता पाई। “द जनरल” ने वापसी जरूर की लेकिन जित्मुआंगनोन को जीत की राह मिल चुकी थी। वो लगातार ब्रिटिश स्टार के करीब जाकर पंचों की बरसात कर उन्हें दबाव में लाते रहे।

तीसरे राउंड में उन्होंने हैगर्टी को 3 बार नीचे गिराया और ना केवल मैच अपने नाम किया बल्कि ONE फ़्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल को भी सफलतापूर्वक डिफेंड किया।

ये भी पढ़ें: दूसरा वर्ल्ड टाइटल जीतने पर है रोडटंग की नजर

#4 टॉड को मिला स्टैम्प से बदला

ONE: KING OF THE JUNGLE में जेनेट “JT” टॉड शानदार गेम प्लान के साथ इस मैच में उतरीं और अपनी पुरानी प्रतिद्वंदी स्टैम्प फेयरटेक्स पर 5 राउंड तक चले मुक़ाबले में विभाजित निर्णय से जीत दर्ज की थी।

पिछले साल स्टैम्प ने किक काउंटर और दमदार राइट हैंड्स की रणनीति के सहारे के सहारे टॉड को हराकर ONE एटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया था। लेकिन इस बार जापानी-अमेरिकी स्टार ने पिछली गलतियों से सबक लेते हुए जीत दर्ज की है।

टॉड मैच में अधिकतर समय अपने फ्रंटफुट पर रहीं इसलिए थाई सुपरस्टार को किक्स लगाने का मौका नहीं मिल रहा था जैसा कि उन्होंने पिछले साल किया था। उन्होंने लॉन्ग, स्ट्रेट पंचों से भी स्टैम्प को पीछे धकेलना जारी रखा। वहीं, लो किक्स और हाई किक्स के बेहतरीन मिश्रण से उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी को उस स्थिति में ला खड़ा किया जिससे स्टैम्प के लिए अंदाजा लगाना मुश्किल हो रहा था।

आखिरी मोमेंट तक स्टैम्प ने हार नहीं मानी लेकिन “JT” ने अपने गेम प्लान को बेहतरीन तरीके से अमल में लाकर ONE एटमवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया है।

ये भी पढ़ें: जेनेट टॉड ने उस जीत के बारे में बात की जिसने उनकी जिंदगी ही बदल दी है

#5 पीटर बस्ट ने फोलायंग को चौंकाया

भले ही ONE: FIRE AND FURY से कुछ ही दिन पहले पीटर “द आर्केंजल” बस्ट को पता चला था कि उनका मैच इस स्पोर्ट के एक लैजेंड एथलीट से होने वाला है। डच स्टार के पास तैयारी के लिए केवल 2 हफ्तों का समय था लेकिन उन्होंने पूर्व ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन एडुअर्ड “द लैंडस्लाइड” फोलायंग से बेहतर प्रदर्शन किया और यहाँ तक कि उन्हें ग्रैपलिंग गेम में भी मात दी थी।

बस्ट ने अपनी लॉन्ग रीच का भरपूर फायदा उठाया और कुछ दमदार स्ट्राइक्स भी लगाईं, वहीं तीसरे राउंड में पीटर की हेड किक से फिलीपींस के स्टार लड़खड़ाने लगे थे। ग्राउंड गेम में रहते उन्होंने ट्रायंगल-आर्मबार भी लगाया जिसके सामने अधिकतर एथलीट टैप आउट कर देते लेकिन फोलायंग को अपने घरेलू फैंस का साथ मिल रहा था और शायद इसी वजह से वो इस सबमिशन मूव के बाद भी मैच में बने रहे।

फोलायंग को चाहे मनीला में अपने घरेलू फैंस से जबरदस्त समर्थन प्राप्त हो रहा था लेकिन “द आर्केंजल” हर तरीके से उनपर भारी पड़ते हुए नजर आए और जीत दर्ज कर वर्ल्ड टाइटल शॉट हासिल करने की रेस में जगह बना ली है।

ये भी पढ़ें: लैजेंड को हराने के बाद पीटर बस्ट ने चैंपियन को चुनौती दी