मॉय थाई

5 तरीके जिनसे आप ऊर्जावान आउटडोर मॉय थाई वर्कआउट पा सकते हैं

अच्छा मौसम आ चुका है। इसका मतलब ये हुआ कि अब आप अपना ज्यादातर समय पार्क या बीच पर बिता पाएंगे।

अगर आप किसी एथलीट की तरह हैं, जो ONE Championship के सर्कल में अपनी काबिलियत दिखाते हैं तो आप केवल घास या रेत पर लेटने के बारे में नहीं सोच रहे होंगे।

इसे दिमाग में रखते हुए ये वो पांच तरीके हैं, जिनसे अगली बार जब आप बाहर निकलें तो अपने मॉय थाई वर्कआउट को ऊर्जावान बना सकें।

#1 दौड़ें, खूब दौड़ें

View this post on Instagram

“My body is whole, healthy & complete. I am destined for success. I am constantly transforming. Obstacles do not exist. I am powerful beyond measure. My trajectory knows no ceiling. Gratitude is my fuel. The universe is conspiring on my behalf. Records are mine for the breaking. Fear is an illusion. My present self is stronger than my previous thoughts. Conduct the inertia, command the energy. I live in overflow. I am the athlete of my dreams. My opportunities are exceedingly abundant. I am aligned with my higher-self. I fight to fulfill my dreams. I see infinite possibilities in my future. I am masterfully designed and intentionally purposed.” – @gamereadyp — • • Thank you @athleta, for choosing to highlight me and my team of powerful sheroes on our journey to being our best selves; ????: @jonwjohnson ; ????: @jhlichtenstein ; ????: @glorianoto ; ????????‍♀️: @jamalhammadi ????????‍????: @kongnyc #powerofshe #athleta #affirmations #muaythai #selflove #strength #getgameready #motivation

A post shared by Janet “JT” Todd (@jmcoakle) on

इससे पहले कि आप कोई आउटडोर वर्कआउट शुरू करें, सबसे अच्छा ये रहेगा कि आप वॉर्म-अप कर लें। इसके लिए अपने पैरों से कंक्रीट पर जोर आजमाने से बेहतर तरीका और क्या हो सकता है।

विज्ञान हमें बताता है कि दौड़ने से आपकी बॉडी सिर्फ वर्कआउट के लिए ही तैयार नहीं होती बल्कि ये आपको पूरे दिन के लिए ऊर्जा से भर देती है। यहां तक कि केवल 30 मिनट की जॉगिंग आपके फिजिकल और मानसिक स्तर को काफी ऊंचा कर देती है। इससे आप अपनी बाकी आउटडोर एक्सरसाइज के लिए तैयार हो जाते हैं।

आप कैसे सोचते हैं कि एक एटमवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन जेनेट “JT” टॉड किकबॉक्सिंग के गौरव को हासिल करने के लिए बाउट में स्टैम्प फेयरटेक्स को हराने में सक्षम थीं। आपने सही पकड़ा क्योंकि वो दौड़ती रहीं।

#2 बॉडीवेट एक्सरसाइज

दौड़ने के बाद आप कुछ बॉडीवेट एक्सरसाइज करना चाहेंगे जैसे पुश-अप्स, जंपिंग जैक्स और बर्पीज़।

इन मूव्स से आपको ताकत बढ़ाने, टिके रहने और हर उस चीज को सही करने में मदद मिलती है, जिससे आप “द आर्ट ऑफ 8 लिंब्स” में आगे बढ़ सकें।

खासतौर पर पैड्स पर मसल्स को मजबूत बनाने के लिए, धीरज रखते हुए पूरे राउंड में तेजी बनाए रखने और अपने लंबे स्पारिंग पार्टनर को हेड किक्स मारते समय आपका संतुलन अच्छा रहेगा।

इसके साथ आप अपने वर्कआउट में कुछ समय के लिए शैडोबॉक्सिंग को भी शामिल कर सकते हैं। बिल्कुल ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग व मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन सैम-ए गैयानघादाओ की तरह।



#3 आक्रामकता पर ध्यान लगाएं

मॉय थाई में ताकत ही सब कुछ नहीं है। आपको तेज-तर्रार भी होना होता है इसलिए आपको अपने आउटडोर रूटीन में आक्रामकता भी बनानी होती है।

एक तरह है, जिससे आप ऐसा कर सकते हैं। वो है दौड़ लगाना। अगर आप चीजों को और चुनौतीपूर्ण बनाना चाहते हैं तो दौड़ते समय शरीर के पीछे टायर बांध सकते हैं।

बड़ी रबर रिंग को घसीटने से खासकर जो एक ट्रक से निकलकर आई हो तो इससे आपके पैरों में ताकत बढ़ने में काफी मदद मिलेगी। इस तरह की कड़ी एक्सरसाइज़ के बाद आप अपनी आक्रामकता अपनी किक में झोंक सकते हैं।

आप ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन को देखें, वो अपने पीछे कार के तीन टायर खींच रहे हैं। आप समझ जाएंगे कि ये एथलीट कभी भी पीछे कदम क्यों नहीं बढ़ाते हैं।

#4 पैड वर्क को कभी न भूलें

कोई भी आउटडोर मॉय थाई एक्सरसाइज़ बिना तगड़े पैड वर्क के पूरी नहीं हो सकती है।

इस तरह की ट्रेनिंग से काफी सारे फायदे मिलते हैं। इस बारे में ऊपर पहले ही चर्चा की जा चुकी है लेकिन इससे आपको मौज-मस्ती करने का भी मौका मिलता है, जो दूसरी एक्सरसाइज़ में नहीं मिल पाता है।

पूरे दिन के तनाव के बाद पैड को मारना किसे पसंद नहीं आएगा? और किसे पैड पकड़कर अपने ट्रेनिंग पार्टनर को उन्हें पछाड़ते हुए देखने में मजा नहीं आएगा।

हम एक ऐसे व्यक्ति को जानते हैं, जो सही में अपने पैड़ को अच्छे से मारते है: शेनन “वनशिन” विराचाई।

ऊपर वीडियो में आप देख सकते हैं कि एथलीट को कॉस्प्ले उतना ही पसंद है, जितना कि उन्हें थाइलैंड की गर्मी में मुकाबला करना पसंद है।

#5 स्ट्रेच जरूर करें

पैड वर्क के बाद आपको अपने शरीर को आराम देना होता है और इसमें केवल ड्रिंक्स ही शामिल नहीं होती हैं। दिन खत्म होने से पहले 10 से 15 मिनट तक कुछ स्टैटिक स्ट्रेच करना चाहिए।

अपने हैमस्ट्रिंग, काव्स, एब्स, ट्राइसेप, बाइसेप्स और बैक मसल्स पर ध्यान देना चाहिए, जिनका ध्यान थका देने वाले मॉय थाई वर्कआउट के बाद रखना बहुत जरूरी है।

एक्सरसाइज़ के बाद स्ट्रेचिंग करने से आपकी बॉडी में जमा लैक्टिक एसिड निकल जाता है और आपके मोशन की रेंज व लचीलापन बढ़ जाता है। इसमें सबसे जरूरी बात ये है कि स्ट्रेचिंग करने से दिमाग एंडॉरफिन रिलीज करता है। ऐसे में आउटडोर मॉय थाई वर्कआउट खत्म होने के बाद भी आप पूरी तरह ऊर्जावान महसूस करते हैं।

रिका “टाइनी डॉल” इशिगे को एक्सरसाइज़ के बाद स्ट्रेचिंग की अहमियत मालूम है। यही कारण है कि इस एटमवेट एथलीट को अपनी विरोधी पर किक मारते हुए जरा भी मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ती है।

ये भी पढ़ें: लिएंड्रो अटाईडिस ने अपनी 5 पसंदीदा फिल्मों के बारे में बताया