किकबॉक्सिंग

साल 2021 में जनवरी से मार्च तक ONE Super Series के 5 सबसे शानदार मुकाबले

मार्च 27, 2021

साल 2021 के पहले 3 महीनों में ONE Super Series मॉय थाई और किकबॉक्सिंग के कई बेहतरीन और यादगार मुकाबले देखे गए हैं।

वर्ल्ड चैंपियंस ने नए खेल में हाथ आजमाए, अपने टाइटल्स को डिफेंड किया और कई एथलीट्स ने पुरानी हार का हिसाब बराबर भी किया।

धमाकेदार एक्शन को ध्यान में रखते हुए आइए डालते हैं एक नजर 2021 में जनवरी से लेकर मार्च तक के 5 सबसे बेहतरीन मुकाबलों पर।

#1 रोडटंग जित्मुआंगनोन Vs. तगीर खलीलोव

ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन के खिलाफ किकबॉक्सिंग मैच से पहले उस समय अपना डेब्यू कर रहे “समिंगप्री” तगीर खलीलोव को कोई नहीं जानता था।

लेकिन मैच समाप्त होने तक खलीलोव अपने अलग फैनबेस तैयार कर चुके थे जबकि इस मैच में रोडटंग विजयी रहे थे।

26 फरवरी को हुए ONE: FISTS OF FURY में “द आयरन मैन” ने खलीलोव पर विभाजित निर्णय से जीत दर्ज की, जिसमें रूसी एथलीट ने रोडटंग का जीतना मुश्किल कर दिया था।

तीनों राउंड्स में रोडटंग ने आक्रामक रुख अपनाए रखा, लेकिन खलीलोव को इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ा। मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन जब भी अपने हाथों को नीचे करते, तभी उन्हें दमदार शॉट्स का प्रभाव झेलना पड़ रहा था। अंत में दमदार पंचों ने थाई सुपरस्टार को जीत दिलाई, लेकिन खलीलोव ने धैर्य ने उन्हें सम्मान दिलाया।

कुछ ऐसा ही जेनेट टॉड और अल्मा जुनिकु की भिड़ंत में भी हुआ था।

#2 जेनेट टॉड Vs. अल्मा जुनिकु

स्टैम्प फेयरटेक्स को हराकर नई ONE एटमवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद जेनेट “JT” टॉड का आत्मविश्वास और ONE में कद भी बढ़ा।

19 मार्च को हुए ONE: FISTS OF FURY III में टॉड ने उसी मोमेंटम को कायम रखते हुए #4 रैंक की एटमवेट कंटेंडर अल्मा जुनिकु को हराया।

अनुभवी स्टार ने सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज की, लेकिन युवा ऑस्ट्रेलियाई एथलीट ने टॉड को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए मजबूर किया था।

जुनिकु ज्यादा मूवमेंट ना करते हुए और दूरी बनाकर टॉड को पंच लगा रही थीं। “JT” ने बैकफुट पर रहकर काउंटर अटैक किया, जिससे मैच दिलचस्प बनता जा रहा था।

मैच का सबसे यादगार लम्हा दूसरे राउंड में देखने को मिला, जब टॉड ने राइट हैंड लगाकर अपनी विरोधी को मैट पर गिरा दिया था।

इस लिस्ट के पहले 2 मुकाबलों में जबरदस्त स्ट्राइकिंग देखी गई, तो अगले मैच में 2 सबसे अच्छे टेक्निकल एथलीट्स की भिड़ंत हुई।



#3 जियोर्जियो पेट्रोसियन Vs. डेविट कीरिया

जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन की ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री जीत के बाद ही फैंस उनकी वापसी का इंतज़ार करने लगे थे।

26 फरवरी को हुए ONE: FISTS OF FURY में लोगों की इच्छा पूरी हुई, जहां करीब 8 साल बाद उनका अपने पुराने प्रतिद्वंदी डेविट कीरिया से रीमैच होने वाला था।

पहली भिड़ंत में पेट्रोसियन विजयी रहे और दूसरी बाउट में भी उन्होंने सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज कर अपनी स्ट्रीक को जारी रखा।

अर्मेनियाई-इटालियन लैजेंड ने तकनीकी तौर पर कीरिया को मात देकर खूब क्षति पहुंचाई, इस बीच कीरिया भी “द डॉक्टर” को अपने मूव्स के झांसे में फंसाने में सफल रहे। लेकिन जॉर्जियाई स्ट्राइकर बढ़त हासिल नहीं कर पाए क्योंकि पेट्रोसियन पहले ही उनसे एक कदम आगे का सोचकर अटैक कर रहे थे।

पेट्रोसियन और कीरिया पुराने प्रतिद्वंदी हैं, लेकिन इस बीच एक नई प्रतिद्वंदिता की शुरुआत भी हुई।

#4 रेगिअन इरसल Vs. मुस्तफा हैडा

ONE लाइटवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन रेगिअन “द इम्मोर्टल” इरसल ने हाल ही में अभी तक के अपने सबसे कठिन प्रतिद्वंदी को हराने में सफलता पाई है।

19 मार्च को हुए ONE: FISTS OF FURY III में उनका सामना मुस्तफा “डायनामाइट” हैडा से हुआ। इस मैच में एक तरफ एक वर्ल्ड चैंपियन और दूसरी ओर बहुत मजबूत चिन (ठोड़ी) वाले उनके चैलेंजर।

“द इम्मोर्टल” ने अपने निकनेम पर खरा उतरते हुए 5 राउंड्स तक चले धमाकेदार एक्शन के बाद सर्वसम्मत निर्णय से जीत अपने नाम की।

हैडा लगातार इरसल की मुश्किलों को बढ़ा रहे थे। “डायनामाइट” ने फ्रंटफुट पर रहकर डिफेंडिंग चैंपियन पर दबाव बनाया हुआ था। इस बीच डच-सूरीनामी वॉरियर के दमदार शॉट के बाद ऐसा लगने लगा था जैसे हैडा अपने घुटने टेक लेंगे, इसके बावजूद वो कुछ और देर मैच में बने रहे और अंत में इरसल ने जीत हासिल की।

इस लिस्ट में पांचवें नंबर पर मैच में विजेता को जीत के लिए ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी, लेकिन उनकी दृढ़ता जरूर देखने को मिली।

#5 हिरोकी अकिमोटो Vs. झांग चेंगलोंग II

#3 रैंक के बेंटमवेट किकबॉक्सर हिरोकी अकिमोटो ने #4 रैंक के कंटेंडर “मॉय थाई बॉय” झांग चेंगलोंग को रीमैच में पहले से भी शानदार तरीके से हराया था।

अक्टूबर में अकिमोटो को झांग के खिलाफ विभाजित निर्णय से जीत मिली थी, उसके बाद 26 फरवरी को हुए ONE: FISTS OF FURY में उन्होंने एक बार फिर जीत अपने नाम की।

जापानी स्टार ने निरंतर अटैक करने की रणनीति अपनाते हुए सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज की।

शुरू से लेकर अंत तक अकिमोटो ने चीनी एथलीट पर प्रभावशाली लो किक्स और दमदार बॉक्सिंग कॉम्बिनेशन लगाने जारी रखे।

“मॉय थाई बॉय” खुद को बचाने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन जापानी एथलीट के दमदार शॉट्स को उनके लिए रोक पाना बहुत मुश्किल साबित हुआ।

ये भी पढ़ें: साल 2021 में जनवरी से मार्च तक ONE Super Series के 3 सबसे शानदार नॉकआउट्स

और लोड करें

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.