न्यूज़

मेई यागामुची को हराकर एंजेला ली को चुनौती देना चाहती हैं डेनिस ज़ाम्बोआंगा

डेनिस “द मेनेस फेयरटेक्स” ज़ाम्बोआंगा का मानना है कि अगर वो मेई “V.V” यामागुची को ONE: KING OF THE JUNGLE में हरा देती हैं तो ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड टाइटल शॉट पाने की हकदार बन जाएंगी।

फिलीपींस की राइजिंग स्टार कॉन्फिडेंट हैं कि वो अगले शुक्रवार, 28 फरवरी को सिंगापुर के इंडोर स्टेडियम में डिविजन की शीर्ष दावेदार एथलीट के खिलाफ जीत हासिल करने के लिए अपनी स्ट्राइकिंग दिखा सकती हैं, ताकि इस साल के अंत में “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली को वो चुनौती दे सकें।

ज़ाम्बोआंगा ने माना है कि उन्होंने इस मौके को तब हासिल किया, जब इवेंट होने में एक महीने से भी कम का वक्त बचा था लेकिन उन्हें चुनौती स्वीकार करने में कोई समस्या नहीं थी।

उन्होंने बताया, “मैं फिलीपींस में थी, तब फेयरटेक्स ने मुझे इसके बारे में बताने के लिए फोन किया। उन्होंने मुझसे कहा कि मेरे पास इसके बारे में सोचने के लिए एक दिन है।”

“मैंने हामी भरते हुए चैलेंज स्वीकार कर लिया। हालांकि, वो मेरा ऑफ सीज़न था क्योंकि मैं परिवार से काफी समय तक दूर रहने के बाद छुट्टियों में उनके साथ समय बिता रही थी। कुछ दिनों बाद मैं फिर से अपनी ट्रेनिंग के लिए तैयारियों में जुट गई।

“मेरा मानना है कि ये मैच मुझे वर्ल्ड टाइटल शॉट के करीब ले जाने में महत्वपूर्ण बन सकता है। अगर मैं हार गई तो ये मेरे लिए बड़ा झटका होगा लेकिन अगर मैं जीत गई तो ये मेरे लिए बहुत बड़ा पुरस्कार होगा। मेरे पास हासिल करने के लिए सबकुछ है और खोने के लिए कुछ भी नहीं। मैं किसी भी तरह से हारने की योजना नहीं बना रही हूं।

“अगर मैं मेई को हरा देती हूं तो एंजेला ली को बाउट करने के लिए चुनौती दूंगी।”

यामागुची ने ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड चैंपियन एंजेला ली से दो बार कड़ा मुकाबला किया है। दिसंबर 2018 के बाद से लगातार चार जीत के साथ डिविजन के प्रमुख एथलीटों में अपनी जगह मजबूत की है।

जापानी एथलीट, ज़ाम्बोआंगा के खिलाफ अपने करियर की सबसे कठिन परीक्षा देने के लिए निश्चिंत हैं लेकिन फिलीपींस की एथलीट को भरोसा है कि वो अपनी प्रतिद्वंदी के जीत के सिलसिले को रोकने का तरीका निकाल सकती हैं।



वो बताती हैं, “मैंने मेई के मैच देखे हैं। उन्होंने जेनी (हुआंग) से दो बार बाउट की और मैंने जेनी के साथ ट्रेनिंग (पटाया के फेयरटेक्स ट्रेनिंग सेंटर में) के दौरान बहुत वक्त बिताया है। मुझे लगता है कि मैं अपने विरोधी का बराबरी से मुकाबला कर सकती हूं।”

“वो सच में ग्राउंड पर बहुत अच्छी हैं और उनकी रेसलिंग शानदार है। मुझे उनसे दूरी बनाकर रखने की जरूरत होगी। वास्तव में मुझे अपनी स्ट्राइकिंग का जोर दिखाना है, ताकि मैं अपनी स्किल्स का एक अलग पक्ष सबको दिखा सकूं।

“मैं अपने आखिरी प्रदर्शन से वास्तव में संतुष्ट नहीं थी इसलिए इस बार तैयारी में कोई कमी नहीं रखना चाहती हूं।”

अपने आखिरी मैच में प्रदर्शन, ONE Championship में उनका डेब्यू, “द मेनेस” को प्रभावित करने के लिए काफी नहीं था हालांकि उन्होंने अपने डिविजन की सबसे प्रतिभाशाली एथलीटों में से एक जिहिन “शैडो कैट” राडज़ुआन को पराजित किया था।

हालांकि, मलेशिया के कुआलालंपुर में क्राउड अपने लोकल हीरो का लगातार समर्थन कर रहा था। फिर भी ज़ाम्बोआंगा हतोत्साहित नहीं हुई थीं। उन्होंने घंटी बजते ही स्ट्राइकिंग के साथ शुरुआत की और ग्राउंड पर हुए एक्शन को अपने कंट्रोल में रखा।

Denice Zamboanga graples with Jihin Radzuan

यहां तक कि जब वो जिहिन के आर्मबार से एक बार मुश्किल में आ गई थीं, तब भी अपराजित एटमवेट एथलीट ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन को बनाए रखा और जजों से अपने पक्ष में सर्वसम्मत निर्णय लेने के लिए अंक अर्जित किए।

यामागुची से आगे होने वाले मुकाबले के लिए उन्हें लगता है कि दिसंबर में हुई बाउट में मिली जीत की कई सारी चीजें उन्हें अगले मैच में मदद करेंगी।

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि स्ट्राइकिंग में मुझे ज्यादा फायदा है और मेरा टेकडाउन डिफेंस भी बेहतरीन है।”

“लगता है कि मेरी पहुंच का भी मुझे फायदा मिलेगा। मुझे लगता है कि मैं भी उन्हें नीचे ला सकती हूं। अगर हम ग्राउंड पर जाते हैं तो मैं उनके ग्रैपलिंग को डिफेंड करने और उन पर अपना नियंत्रण बनाए रखने में सक्षम साबित हो सकती हूं। उसी तरह जैसे मैंने जिहिन के साथ किया था।”

ये भी पढ़ें: नॉकआउट के जरिए दूसरा मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स मैच जीतना चाहती हैं ऋतु फोगाट