ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप का पूरा इतिहास

Kiamrian Abbasov James Nakashima Inside The Matrix II 44

ONE Championship का वेल्टरवेट डिविजन लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहा है, नए कंटेंडर्स और अनुभवी एथलीट्स का मेल इस डिविजन को साल 2021 में एक खास डिविजन का दर्जा दिला सकता है।

लेकिन इसकी शुरुआत से ही कुछ बड़े एथलीट्स टॉप पर बने हुए हैं और उनमें से केवल 4 ही ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियन बन पाए।

नए उभरते हुए स्टार्स को देखते हुए मौजूदा चैंपियन कियामरियन “ब्रेज़ेन” अबासोव के लिए आगे का सफर आसान नहीं होगा। लेकिन पिछले कुछ मैचों में उन्होंने दिखाया है कि उन्हें हराने के लिए अन्य एथलीट्स को चमत्कारी प्रदर्शन करने की जरूरत होगी।

इससे पहले अबासोव का नया चैलेंजर सामने आए, यहां हम ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड टाइटल के इतिहास पर नजर डालने वाले हैं। कुछ ऐसे नाम जिन्हें हराकर ही “ब्रेज़ेन” ONE के महान वेल्टरवेट एथलीट्स में शामिल हो पाएंगे।

पहला चैंपियन

The first ONE Welterweight World Champion, Nobutatsu Suzuki

जापानी स्टार नोबुतत्सु सुजुकी रीज़नल लेवल के मैचों में 9 नॉकआउट जीत दर्ज कर ONE Championship में आए थे। मई 2013 में उन्होंने अपने डेब्यू मैच में फिल बरोनी को तकनीकी नॉकआउट से हराकर सबसे पहले ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड टाइटल मुकाबले में जगह बनाई।

मार्च 2014 में हुए ONE: WAR OF NATIONS में आखिरकार सुजुकी का सामना वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉक लार्सन से हुआ। उन्होंने अच्छी रेसलिंग स्किल्स वाले अपने प्रतिद्वंदी की बॉडी को दमदार किक्स और नी स्ट्राइक्स लगाकर खूब क्षति पहुंचाई और 5 राउंड की जबरदस्त टक्कर के बाद चैंपियन बने।

दूसरी ओर, एक अन्य अमेरिकी रेसलर भी बहुत तेजी के साथ टॉप पर पहुंचने की ओर अग्रसर थे।

“फंकी” का दौर शुरू हुआ

ONE Welterweight World Champion Ben Askren

नॉर्थ अमेरिका में एक सफल वेल्टरवेट सुपरस्टार बनने के बाद बेन “फंकी” एस्क्रेन ने मई 2014 में ONE: HONOR & GLORY में अपना प्रोमोशनल डेब्यू किया। अपराजित अमेरिकी स्टार ने बख़्तियार अबासोव को पहले राउंड में सबमिशन से हराकर अपने परफेक्ट रिकॉर्ड को कायम रखा और चैंपियन के सामने चुनौती भी रखी।

एस्क्रेन की इच्छा करीब 3 महीने बाद पूरी हुई, जहां उन्होंने सुजुकी को मात्र 84 सेकंड में ग्राउंड एंड पाउंड अटैक की मदद से मात दी।

उनका पहला वर्ल्ड टाइटल डिफेंस अप्रैल 2015 में ONE: VALOR OF CHAMPIONS में ब्राजीलियाई एथलीट लुईस “सापो” सेंटोस के खिलाफ आया। लेकिन आंख में अंगुली लगने के कारण चैलेंजर को मैच से अपना नाम वापस लेना पड़ा इसलिए मुकाबले को नो-कॉन्टेस्ट माना गया।

“फंकी” ने उसके एक साल बाद ONE: GLOBAL RIVALS में निकोलाय अलेक्साखिन को हराया। ये एक नॉन-वर्ल्ड टाइटल मैच रहा क्योंकि रूसी स्टार का वजन तय की गई सीमा के मुताबिक नहीं था।

अगले मैच में अपराजित अगिलान “एलीगेटर” थानी, एस्क्रेन की कड़ी परीक्षा लेने वाले थे, लेकिन मई 2017 में हुए ONE: DYNASTIES OF HEROES में थानी का अपराजित रिकॉर्ड पहले राउंड में आई सबमिशन हार से समाप्त हो चला। एस्क्रेन ने थानी को मैट पर गिराया और अंत में आर्म-ट्रायंगल चोक लगाकर जीत दर्ज की।

पोस्ट-फाइट इंटरव्यू में एस्क्रेन ने स्वीडिश स्टार के खिलाफ मैच के संकेत दिए, जो उन्हें आगे चलकर मिला भी। सितंबर में हुए ONE CHAMPIONSHIP: SHANGHAI में ज़ेबज़्टियन “द बैंडिट” कडेस्टम ने सेंटोस को अनोखे अंदाज में हराया था।

अपने पिछले प्रतिद्वंदियों की तरह एस्क्रेन ने “द बैंडिट” को भी टेकडाउन किया, जिन्हें ऊपर उठने का मौका ही नहीं मिल पाया। एकतरफा अंदाज में उन्होंने दूसरे राउंड में तकनीकी नॉकआउट से जीत दर्ज की।

“फंकी” ने उसके बाद नवंबर 2017 में हुए ONE: IMMORTAL PURSUIT में पूर्व ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन शिन्या “टोबीकन जुडन” एओकी को हराया। अधिकतर लोगों का मानना था कि सबमिशन स्पेशलिस्ट चैंपियन को कड़ी टक्कर देंगे।

लेकिन परिणाम इससे उलट ही आया, एस्क्रेन ने जापानी मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स लैजेंड को मात्र 57 सेकंड में तकनीकी नॉकआउट से हराकर अपने करियर की सबसे तेज जीत हासिल की। मैच के बाद पूर्व ओलंपिक रेसलर ने अपराजित वर्ल्ड चैंपियन के रूप में रिटायरमेंट ली और टाइटल को छोड़ एक नए दौर में प्रवेश किया।



डिविजन में हुआ बड़ा बदलाव

ONE Welterweight World Champion Zebaztian Kadestam ONE Championship belt

चैंपियनशिप अब किसी के पास नहीं थी इसलिए 4 एथलीट्स के बीच इसे पाने की जंग शुरू हुई। ONE: PURSUIT OF POWER में कडेस्टम का सामना थानी से हुआ, वहीं अपराजित स्टार टायलर मैकग्वायर की भिड़ंत सेंटोस से हुई।

कडेस्टम की वर्ल्ड-क्लास मॉय थाई स्किल्स थानी पर भारी पड़ीं और उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को खूब क्षति पहुंचाते हुए तीसरे राउंड में तकनीकी नॉकआउट से जीत प्राप्त की। दूसरे मैच में मैकग्वायर ने अपने रेसलिंग गेम की मादा से “सापो” के खिलाफ सर्वसम्मति से जीत दर्ज की।

नवंबर 2018 में हुए ONE: WARRIOR’S DREAM में दोनों चैंपियनशिप के लिए आमने-सामने आए। “द बैंडिट” ने दिखाया कि एस्क्रेन के खिलाफ हार से उन्होंने सबक लिया है। उन्होंने मैकग्वायर के टेकडाउन के प्रयासों को विफल किया और इस बीच अपने प्रतिद्वंदी को थकाने का काम भी बखूबी किया।

पहले 4 राउंड्स में दमदार पंच, नी स्ट्राइक्स और लो किक्स का प्रभाव छोड़ने के बाद पांचवें राउंड में कडेस्टम ने अपने थके हुए प्रतिद्वंदी को खतरनाक ओवरहैंड राइट लगाया। उसके बाद सिर पर नी और अगले ही पल उन्हें नॉकआउट जीत की पुष्टि हुई, इसी के साथ वो नए ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियन बने।

कडेस्टम का अकेला टाइटल डिफेंस मार्च 2019 में हुए ONE: REIGN OF VALOR में आया, जहां उन्होंने जियोर्जी “नाइट” किशिजिन को हराया। पहले 2 राउंड्स में कज़ाख एथलीट ने अपने रेसलिंग गेम से बढ़त बनाई, लेकिन दूसरे राउंड के अंतिम क्षणों में स्वीडिश स्टार ने कई जबरदस्त एल्बोज़ लगाते हुए अपने प्रतिद्वंदी को झकझोर दिया।

किशिजिन इतने थक चुके थे कि वो मैच को जारी रखने की स्थिति में नहीं थे इसलिए “द बैंडिट” को स्टॉपेज से जीत मिली।

“ब्रेज़ेन” के दौर की शुरुआत

New ONE Welterweight World Champion Kiamrian Abbasov following his win in Jakarta, Indonesia in October 2019

एक तरफ कडेस्टम डिविजन के टॉप पर बने हुए थे, वहीं अबासोव ने थानी और युशिन “थंडर” ओकामी को हराकर सुनिश्चित किया कि डिविजन में उन्हें कोई नजरअंदाज ना करे।

इसी कारण उन्हें अक्टूबर 2019 में हुए ONE: DAWN OF VALOR में चैंपियनशिप मैच मिला, 5 राउंड तक चले मैच में “ब्रेज़ेन” की अलग-अलग तरह की स्किल्स उनका सबसे बड़ा हथियार रहीं।

“द बैंडिट” ने शुरुआत में जरूर कुछ दमदार पंच, लो किक्स और एल्बोज़ लगाईं, लेकिन मैच जैसे-जैसे आगे बढ़ा वैसे-वैसे अबासोव ने बढ़त बनानी शुरू का दी।

उन्होंने कडेस्टम को पंच और नी स्ट्राइक्स लगाने के बाद रेसलिंग गेम की मदद से बढ़त बनाई। 25 मिनट के जबरदस्त एक्शन के बाद साफ हो चला था कि अबासोव अब नए ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियन बनने वाले हैं।

चैंपियन बनने के बाद अबासोव ने नवंबर 2020 में हुए ONE: INSIDE THE MATRIX II में अमेरिकी रेसलिंग स्टार जेम्स नाकाशीमा को चौथे राउंड में तकनीकी नॉकआउट हराकर अपने टाइटल को सफलतापूर्वक डिफेंड किया। ये नाकाशीमा के करियर की पहली हार रही।

“ब्रेज़ेन” अब उभरते हुए वेल्टरवेट डिविजन के टॉप पर खड़े हैं, लेकिन कोई नहीं जानता कि इस साल क्या नई चीजें सामने आ सकती हैं।

क्या कोई नया चैंपियन देखने को मिलेगा या फिर अबासोव अगले 12 महीने तक चैंपियन बने रहेंगे?

ये भी पढ़ें: साल 2021 में अपने शानदार सफर को जारी रखने के लिए उत्साहित हैं क्रिश्चियन ली

मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में और

Songchainoi Kiatsongrit Rak Erawan ONE Friday Fights 71 8
1157
Hiroba Minowa Gustavo Balart ONE 165 53 scaled
Aaron Canarte Akbar Abdullaev ONE Fight Night 12 5
Maurice Abevi Zhang Lipeng ONE Fight Night 22 5
Shamil Gasanov Oh Ho Taek ONE Fight Night 18 19 scaled
Jarred Brooks Joshua Pacio ONE 166 5
Jarred Brooks Joshua Pacio ONE 166 12
Kiamrian Abbasov Christian Lee ONE on Prime Video 4 1920X1280 149
Songchainoi Kiatsongrit Rak Erawan ONE Friday Fights 41 77 scaled
ChristianLee AlibegRasulov 1200X800
Focus PK Wor Apinya Stephen Irvine ONE Friday Fights 70 8