मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ONE Championship के इतिहास के सबसे शानदार वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट्स

एक मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स बाउट को नॉकआउट से जीतना हमेशा एक यादगार लम्हा होता है लेकिन जब किसी वर्ल्ड टाइटल मैच में ऐसा हो और वो भी ग्लोबल स्टेज पर, तो लम्हा बेहद खास बन जाता है।

जब वर्ल्ड टाइटल दांव पर लगा हो तो धैर्य बनाए रखना, अपना ध्यान एक जगह पर केंद्रित रखना और तेज मूवमेंट की जरूरत होती है।

ONE Championship के कई टॉप सुपरस्टार्स केवल एक परफेक्ट स्ट्राइक लगाकर मैच को फिनिश कर वर्ल्ड चैंपियनशिप अपने नाम कर चुके हैं।

हम ONE के इतिहास में हर डिविजन में आईं सबसे यादगार वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट जीत के बारे में आपको बताने वाले हैं।

बेस्ट ONE हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

दिसंबर 2015 में फिलीपींस की राजधानी मनीला में हुए ONE: SPIRIT OF CHAMPIONS में ब्रेंडन “द ट्रुथ” वेरा ने पॉल “टायफ़ून” चेंग को शानदार नॉकआउट लगाकर पहला ONE हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया था।

सबसे चौंकाने वाली बात ये रही कि फिलीपींस के एथलीट को उस मैच में जीतने में केवल 26 सेकंड का समय लगा था।

जब चेंग ने आगे आकर राइट क्रॉस लगाने की कोशिश की तो वेरा ने पीछे हटकर अपने प्रतिद्वंदी को लेफ्ट हुक लगाया।

जैसे ही चेंग अपने पैरों पर खड़े हुए, वेरा ने परफेक्ट टाइमिंग के साथ लेफ्ट हाई किक लगाई जो सीधे उनके प्रतिद्वंदी के जबड़े पर जाकर लैंड हुई। चेंग दूसरी बार नीचे गिरे और वेरा ने ग्राउंड पर रहते पंचों की बरसात कर दी, इसी कारण उन्हें स्टॉपेज से जीत मिली।

बेस्ट ONE लाइट हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

खुद से ज्यादा भार वार्ग वाले प्रतिद्वंदियों के खिलाफ भी आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग अपनी फिनिशिंग पावर को कम नहीं होने देते।

उन्होंने फरवरी 2018 में हुए ONE: QUEST FOR GOLD में अलेक्सांद्रे मशाडो के खिलाफ वेकेंट (खाली पड़े) ONE लाइटवेट हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल जीतकर ये साबित भी कर दिया था कि उन्हें रोक पाना बेहद मुश्किल है।

आंग ला ने जैब लगाकर ब्राजील के एथलीट को उस तरफ जाने को मजबूर किया जहाँ वो अटैक कर सकते थे और मौका मिलते ही उन्होंने राइट हेड किक लगाकर मैच को अंतिम रूप दिया।

मशाडो ने उस किक को अपने बाएं हाथ से रोकने की कोशिश की थी लेकिन किक में ताकत इतनी थी कि वो चाहकर भी उससे बच नहीं पाए। म्यांमार के एथलीट की शिन (पिंडली का अगला हिस्सा) सीधी मशाडो के सिर से जा टकराई और अगले ही पल वो नीचे गिर पड़े।

अभी आंग ला ने कुछ ही पंच लगाए थे तभी रेफरी ने मुकाबले की समाप्ति की घोषणा कर दी। केवल 56 सेकंड चले मैच को जीतते ही आंग ला 2-डिविजन ONE वर्ल्ड चैंपियन बन गए थे।

बेस्ट ONE मिडलवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

जून 2018 में ONE: SPIRIT OF A WARRIOR में आंग ला न संग और कैन हासेगावा के बीच ONE मिडलवेट वर्ल्ड टाइटल मैच में 5 राउंड तक जबरदस्त एक्शन देखा गया था।

जापानी स्टार आखिरी राउंड में लगातार फ्रंटफुट पर रहकर चैंपियन पर लगातार दबाव बना रहे थे लेकिन होमटाउन हीरो के पास अभी भी एनर्जी बची हुई थी।

जब “द बर्मीज़ पाइथन” आगे आए तो उन्होंने अपने थके हुए प्रतिद्वंदी पर शॉर्ट राइट हैंड लगाने में थोड़ी भी देर नहीं लगाई। उसके बाद एक के बाद दूसरा अपरकट लगाते हुए टोक्यो के एथलीट को नीचे गिरा दिया था।

हासेगावा मैच में बने रहने का पूरा प्रयास कर रहे थे लेकिन इसी दौरान उन्हें एक और अपरकट लगा, जिससे वो पूरी सुध-बुध खो बैठे।

बेस्ट ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

नवंबर 2018 में इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में हुए ONE: WARRIOR’S DREAM के ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में केवल 30 सेकंड का समय बाकी रह गया था, तभी ज़ेबज़्टियन “द बैंडिट” कडेस्टम ने टायलर मैक्ग्वायर को शानदार अंदाज में नॉकआउट कर टाइटल अपने नाम किया था।

स्वीडिश स्टार नियमित रूप से अमेरिकी स्टार पर मॉय थाई स्ट्राइक्स लगा रहे थे और मैक्ग्वायर के पास खतरे से दूर भागते रहने के अलावा को विकल्प ही नहीं बचा था। कडेस्टम ने आगे आकर ओवरहैंड राइट भी लगाया जिससे मैक्ग्वायर मैट पर जा गिरे।

“द बैंडिट” के प्रतिद्वंदी ग्राउंड पर थे और मौके का फायदा उठाने के लिए आगे आए और जबरदस्त नी स्ट्राइक लगाई जो टायलर के जबड़े पर जाकर लैंड हुई। रेफरी ने तुरंत मैच को रोका और स्वीडिश स्टार को ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड चैंपियन घोषित किया।

बेस्ट ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

नवंबर 2017 में ONE: LEGENDS OF THE WORLD में एडुअर्ड “लैंडस्लाइड” फोलायंग को ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज करने के लिए मार्टिन “द सीटू-एशियन” गुयेन ने एक डिविजन ऊपर जाने का फैसला लिया था।

उस इवेंट में गुयेन ने किसी भी डिविजन में जाकर अपनी नॉकआउट करने की काबिलियत को दुनिया के सामने रखा। उन्होंने दूसरे राउंड में अपना ट्रेडमार्क मूव ओवरहैंड राइट लगाकर होमटाउन हीरो को फिनिश किया और पहले 2-डिविजन ONE वर्ल्ड चैंपियन बने।

फोलायंग ने भी अपनी वुशु स्किल्स और स्पिनिंग बैक किक से अपने प्रतिद्वंदी पर बढ़त बनाने की कोशिश की लेकिन “द सीटू-एशियन” को इस बात का अंदाजा पहले से था कि फोलायंग क्या करने वाले हैं। उन्होंने सही मौके का इंतज़ार किया और सही समय पर और सटीक निशाने पर पंच लगाया जिससे “लैंडस्लाइड” नीचे गिर पड़े।

बेस्ट ONE फेदरवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

मार्टिन गुयेन ने फेदरवेट डिविजन पर अपना फ़ोकस बनाए रखने के लिए ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल को छोड़ दिया था और अप्रैल 2019 में ONE: ROOTS OF HONOR में उनका ये फैसला सही भी साबित हुआ। उन्होंने नारनतुंगलाग जदंबा को दूसरे राउंड में दमदार नॉकआउट पंच लगाकर मात दी थी।

“द सीटू-एशियन” ने पहले मंगोलियाई कॉम्बैट स्पोर्ट्स लैजेंड को क्षतिपूर्ण लो किक्स लगाईं। आखिरकार दूसरे राउंड में गुयेन की एक ही किक बेहद प्रभावित साबित हुई जिससे जदंबा लड़खड़ाने लगे।

जैसे ही जदंबा लड़खड़ाते हुए सर्कल वॉल की तरफ जाने लगे, तभी गुयेन ने हवा में उछलकर सिज़र नी लगाई और मैच को अंतिम रूप दिया।

बेस्ट ONE बेंटमवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

Here comes the BOOM! ???? Macao | 5 August | TV: Check local listings for global broadcast | PPV: Official livestream at oneppv.com | Tickets: http://bit.ly/oneconquerors17 | Prelims LIVE on Facebook

Posted by ONE Championship on Sunday, July 30, 2017

कई बार के ब्राजीलियन जिउ-जित्सु वर्ल्ड चैंपियन रह चुके बिबियानो “द फ्लैश” फर्नांडीस आमतौर पर किसी मैच को सबमिशन से फिनिश करने की कोशिश करते हैं।

लेकिन जुलाई 2015 में ONE: KINGDOM OF WARRIORS में जब वो ONE बेंटमवेट वर्ल्ड टाइटल को टोनी टोरू के खिलाफ डिफेंड करने आए तो उनकी शानदार पंचिंग स्किल्स देखी गई थीं।

“द फ्लैश” ने तीसरे राउंड में जबरदस्त वापसी की और फिनलैंड के एथलीट को दमदार नी स्ट्राइक लगाकर क्षति पहुंचाई। उन्हें अंदाजा हो चुका था कि मैच का फिनिश अब ज्यादा दूर नहीं है इसलिए उन्होंने टोरू की ओर जाकर पंचों की बरसात कर दी थी।

राइट अपरकट से यूरोपीय स्टार के सिर को पीछे की ओर तगड़ा झटका लगा लेकिन उन्होंने लेफ्ट हुक के बाद भी खुद को संभाले रखा। लेकिन बचाव करते समय वो उस स्थिति में आ चुके थे जहाँ फर्नांडीस को दमदार राइट हैंड लगाने में आसानी थी और इसी राइट हैंड के साथ उन्होंने नॉकआउट जीत दर्ज की।

बेस्ट ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

जब जोशुआ “द पैशन” पैचीओ और योसूके “द निंजा” सारूटा के बीच ONE: ROOTS OF HONOR में ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल रीमैच हुआ तो ऐसा माना जा रहा था कि इस बार भी परिणाम जजों के स्कोरकार्ड्स से आने वाला है।

लेकिन चौथे राउंड में Team Lakay के स्टार ने मैच का रुख ही पलट कर रख दिया और अपने प्रतिद्वंदी पर जबरदस्त अंदाज में नी स्ट्राइक लगाई।

सारूटा ने अपने ताकतवर ओवरहैंड राइट से बचने की कोशिश की लेकिन “द पैशन” तब तक राइट हाई किक से उन्हें क्षति पहुंचा चुके थे।

चूंकि “द निंजा” उस स्ट्राइक से बचने के लिए नीचे झुके थे, इसी कारण पैचीओ की नी की ताकत दोगुनी हो गई थी और अगले ही पल सारूटा मैट पर गिरे हुए नजर आए। इसी तरह फिलीपींस के स्टार एथलीट ने स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल एक बार फिर अपने नाम किया था।

बेस्ट ONE विमेंस स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

मार्च 2019 में ONE: A NEW ERA में “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली ने “द पांडा” जिओंग जिंग नान को उनके ONE विमेंस स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए चैलेंज करने के लिए एक डिविजन ऊपर जाने का फैसला लिया था।

वो जीत के करीब पहुंच चुकी थीं लेकिन सिंगापुर की एथलीट की एनर्जी जवाब दे चुकी थी और चौथे राउंड में वो आर्मबार से मैच को फिनिश करने के मौके तलाश रही थीं।

जिओंग ने इस स्थिति का फायदा उठाया और आखिरी राउंड में बॉडी पर अटैक करना जारी रखा। इसलिए एक ही स्ट्रेट राइट से एंजेला की बची हुई एनर्जी भी जवाब दे चुकी थी और उसके बाद लगातार पंचों की बरसात करते हुए चीनी सुपरस्टार ने मैच अपने नाम किया।

बेस्ट ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट

एंजेला ली को स्ट्रॉवेट डिविजन के मुकाबले में अपनी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन ना कर पाई हों लेकिन उन्होंने एटमवेट डिविजन की अनडिस्प्यूटेड क्वीन साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

पहले ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड टाइटल डिफेंस में Evolve और United MMA की प्रतिनिधि का सामना मार्च 2017 में ONE: WARRIOR KINGDOM में जेनी हुआंग से हुआ।

ये पहली बार था जब एंजेला बैंकॉक में बाउट कर रही थीं और साथ ही इस मैच में उन्हें अपनी पहली TKO जीत भी मिली थी।

“अनस्टॉपेबल” ने स्टैंड-अप गेम में हुआंग पर बढ़त बनाए रखी और फिर उन्हें ग्राउंड गेम में भी फ्रंट हेडलॉक लगाकर खूब क्षति पहुंचाई। उन्होंने “लेडी गोगो” पर पूरा कंट्रोल प्राप्त कर लिया था और फिर पंचों की बरसात करते हुए मैच अपने नाम किया।

ये भी पढ़ें: ONE Championship के इतिहास के टॉप-10 एक ही पंच वाले नॉकआउट