मॉय थाई

ONE: NO SURRENDER के मेन इवेंट स्टार्स की सबसे शानदार जीत

ONE Championship की धमाकेदार वापसी शुक्रवार, 31 जुलाई को होने वाली है।

ONE लंबे समय बाद एक बार फिर इवेंट्स का आयोजन शुरू कर रहा है और अगला इवेंट ONE: NO SURRENDER थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में होना है।

हालांकि, पूरा बाउट कार्ड अभी तक सामने नहीं आ सका है लेकिन 3 मुकाबलों की पुष्टि की जा चुकी है जिनमें 2 वर्ल्ड टाइटल मुकाबले भी शामिल हैं।

मेन इवेंट में ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन को अपने पुराने प्रतिद्वंदी पेचडम “द बेबीशार्क” पेटयिंडी एकेडमी के खिलाफ अपना टाइटल डिफेंड करना है। खास बात ये है कि ये दोनों तीसरी बार आमने-सामने आने वाले हैं।

इसके अलावा पेटमोराकोट पेटयिंडी एकेडमी पहली बार ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल को डिफेंड करते हुए नजर आएंगे और उन्हें सफल होने के लिए हमवतन एथलीट “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” योडसंकलाई IWE फेयरटेक्स को हराना होगा।

इन जबरदस्त मॉय थाई मुकाबलों से पहले हम आगामी इवेंट के मेन इवेंट सुपरस्टार्स की सबसे शानदार जीतों से आपको अवगत कराने वाले हैं।

रोडटंग ने नहीं छोड़ी कोई कसर

अगस्त 2019 में हुए करीबी मुकाबले में जोनाथन “द जनरल” हैगर्टी को हराकर रोडटंग जित्मुआंगनोन ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन बने थे। वहीं, इस साल जनवरी में हुए ONE: A NEW TOMORROW में हैगर्टी के खिलाफ रीमैच में एक बार फिर जीत हासिल कर उन्होंने खुद को एक सफल चैंपियन साबित किया था।

पहले राउंड में हैगर्टी आक्रामक रुख अपनाए हुए थे लेकिन लिवर के हिस्से पर लगे एक लेफ्ट हुक और क्रॉस से वो अगले ही पल मैट पर जा गिरे। रोडटंग ने मौके का फायदा उठाते हुए अपने प्रतिद्वंदी की बॉडी पर प्रहार किया लेकिन “द जनरल” एक बार फिर अपने पैरों पर खड़े होने में सफल रहे और बैकफुट पर रहकर काउंटर अटैक भी कर रहे थे।

दूसरे राउंड में ब्रिटिश स्टार अपनी रीच (पहुंच) का फायदा उठाना चाह रहे थे। पुश किक्स, राउंडहाउस और लो किक्स लगाकर अपने प्रतिद्वंदी को बैकफुट पर रहने के लिए मजबूर करते रहे लेकिन “द आयरन मैन”, हैगर्टी के करीब आने का भरसक प्रयास कर रहे थे और बॉडी शॉट्स भी लगा रहे थे। यहां तक कि जब हैगर्टी ने स्वीप लगाने की कोशिश की तो थाई सुपरस्टार ने शानदार अंदाज में हवा में उछलकर खुद के बैलेंस को बरकरार रखा था।

तीसरे राउंड में दोनों के बीच कांटेदार टक्कर देखने को मिली।

रोडटंग बेहद आक्रामक अंदाज में अपनी स्ट्राइक्स को अंजाम दे रहे थे। एक तरफ “द जनरल” लगातार पुश किक्स की मदद से अपने प्रतिद्वंदी को खुद से दूर रख रहे थे और यहां तक कि उनकी एक किक रोडटंग के चेहरे पर भी लैंड हुई थी। लेकिन “द आयरन मैन” इन काउंटर अटैक्स को मजबूती से झेलते रहे और मैच को फिनिश करना चाह रहे थे।

होमटाउन हीरो लगातार हैगर्टी को पंच लगा रहे थे और कॉर्नर की ओर धकेल कर स्ट्राइक्स की बरसात कर दी। इस दौरान उन्होंने 2 लेफ्ट हुक्स और एक स्ट्रेट राइट भी लगाया, जिससे इंग्लिश सुपरस्टार नीचे जा गिरे।

हैगर्टी अपने पैरों पर खड़े हुए लेकिन थाई सुपरस्टार रुकने को तैयार नहीं थे। रोडटंग ने एक जम्पिंग नी को ब्लॉक किया और आगे आकर सिर पर लेफ्ट हुक्स और स्ट्रेट राइट्स लगाने शुरू कर दिए जिससे हैगर्टी तीसरे राउंड में कुल दूसरी पर मैट पर जा गिरे।

चैलेंजर ने इसके बाद भी हार नहीं मानी, वहीं बैंकॉक निवासी एथलीट ने आगे आकर पंचों की बरसात कर दी थी। इसके बाद पेट पर लगे एक पंच से हैगर्टी तीसरे राउंड में कुल तीसरी और आखिरी बार नीचे गिरे। इस पंच का प्रभाव इतना था कि रेफरी ने तुरंत मैच समाप्ति की घोषणा कर दी और Jitmuangnon Gym के प्रतिनिधि को TKO (तकनीकी नॉकआउट) से विजेता घोषित किया।

पेचडम ने 86 सेकंड में नॉकआउट जीत हासिल की

ग्लोबल स्टेज पर अपने दूसरे मुकाबले में पेचडम इम्पैक्ट एरीना में हर किसी के लिए आकर्षण का केंद्र बनना चाहते थे और काफी हद तक ऐसा करने में सफल भी हुए।

पहले थाई साउथपॉ (बाएं हाथ के) के गुलाबी बालों ने सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया और अक्टूबर 2019 में ONE: KINGDOM OF HEROES में उनका सामना चीनी-ऑस्ट्रेलियाई एथलीट कैनी त्से से हुआ और थाई सुपरस्टार ने केवल 86 सेकंड में इस मुकाबले को जीतकर अपने और फैंस के लिए भी यादगार बनाया था।

पेचडम को परिस्थितियों से तालमेल बैठाने में केवल कुछ ही सेकंड का वक्त लगा। जैसे ही उन्हें अपनी रीच का अंदाजा हुआ तभी उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी के सिर और पसलियों पर लेफ्ट राउंडहाउस किक्स लगानी शुरू कर दी थीं।

“द पिटबुल” इन किक्स को ब्लॉक करने का प्रयास कर रहे थे और पेचडम के करीब जाकर अपनी बॉक्सिंग स्किल्स से मैच में बढ़त हासिल करना चाहते थे। लेकिन Petchyindee Academy टीम के मेंबर की किक्स रुकने का नाम नहीं ले रही थीं। वो लगातार राउंडहाउस किक्स लगा रहे थे जिससे कैनी का धैर्य और डिफेंस जवाब देने लगा।

अभी मैच को शुरू हुए 75 सेकंड ही हुए थे तभी पेचडम ने एक और राउंडहाउस किक लगाई जो सीधी “द पिटबुल” के सिर से जा टकराई। त्से अगले ही पल जैसे अपनी सुधबुध खो चुके थे और “द बेबी शार्क” ने बॉडी पर नी स्ट्राइक और सिर पर एल्बो से मैच को अंतिम रूप दिया।



पेटमोराकोट की धमाकेदार नॉकआउट जीत

ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन बन चुके पेटमोराकोट ने दिसंबर 2018 में हुए ONE: DESTINY OF CHAMPIONS में यादगार जीत दर्ज की थी।

कुआलालंपुर के अक्षीयता एरीना में हुए उस मैच में पेटमोराकोट का सामना कई बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रह चुके लियाम “हिटमैन” हैरिसन से हुआ था। हालांकि, पहले राउंड में हैरिसन को थाई सुपरस्टार पर अच्छी बढ़त हासिल हो चुकी थी, इसके बावजूद पेटमोराकोट ने धमाकेदार अंदाज में नॉकआउट फिनिश अपने नाम किया था।

ONE Super Series मॉय थाई फेदरवेट कॉन्टेस्ट के पहले राउंड में दोनों स्ट्राइकर्स ने किक्स से एक-दूसरे को क्षति पहुंचाने का प्रयास किया, लेकिन समय बीतने के साथ ब्रिटिश स्टार अपने प्रतिद्वंदी पर हावी होते जा रहे थे। “हिटमैन” ने कई किक्स को ब्लॉक किया और बेहद चपलता के साथ काउंटर अटैक भी कर रहे थे, यहां तक कि उन्होंने चतुराई के साथ स्वीप भी लगाया था। राउंड के अंतिम क्षणों में उन्होंने अपनी बेहतरीन बॉक्सिंग स्किल्स का प्रदर्शन भी किया।

दूसरे राउंड में Petchyindee Academy के प्रतिनिधि ने आक्रामक रुख अपनाना शुरू किया। वो लगातार किक्स और नी स्ट्राइक्स से प्रहार कर रहे थे लेकिन हैरिसन इस बार भी अपनी बॉक्सिंग स्किल्स का प्रयोग कर पेटमोराकोट के मूव्स को काउंटर कर रहे थे।

थाई स्टार ने हार ना मानते हुए आगे बढ़ना जारी रखा और कुछ समय बाद ही उनकी किक्स और पंच सही जगह पर लैंड होने लगे थे। उन्होंने ब्रिटिश स्टार को सर्कल वॉल की तरफ धकेला, कम ताकत के साथ जैब लगाया और उसी हाथ से हैरिसन के दाएं हाथ को नीचे धकेलने की कोशिश की।

जैसे ही उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी के हाथ को नीचे किया तो उन्हें अटैक के लिए हैरिसन का चेहरा नजर आने लगा था और मौका मिलते ही उन्होंने जबरदस्त अंदाज में क्रॉस एल्बो लगाकर मैच को अंतिम रूप दिया था।

योडसंकलाई ने अपना बदला पूरा किया

“द बॉक्सिंग कंप्यूटर” ने जब टोक्यो में वापसी की तो ये सुनिश्चित किया था कि उनका वो मुकाबला फैंस के लिए यादगार बन जाए।

मार्च 2019 में थाई लैजेंड करीब 8 साल बाद जापान की राजधानी में मुकाबला करने रिंग में उतरे थे। ONE: A NEW ERA में उनका सामना 72 किलोग्राम वेट कैटेगरी की किकबॉक्सिंग बाउट में एंडी “सावर पावर” सावर से हुआ।

हालांकि, डच किकबॉक्सिंग लैजेंड 11 साल पहले योडसंकलाई को करीबी मुकाबले में हरा चुके थे, लेकिन इस बार “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” ने ये साबित कर दिया था कि उन्हें महान स्ट्राइकर का दर्जा क्यों दिया जाता है।

योडसंकलाई ने शुरुआत में अपनी ट्रेडमार्क राउंडहाउस किक्स से अटैक करना शुरू किया और इनमें से एक किक से उन्होंने अपनी बॉडी को अविश्वसनीय तरीके से अपने प्रतिद्वंदी के करीब जाने के लिए प्रयोग में लाया था। एंडी सावर के करीब आकर उन्होंने राइट हुक लगाया, जिससे “सावर पावर” मैट पर जा गिरे।

सावर बेहद तेजी के साथ एक बार फिर अपने पैरों पर खड़े हुए, लेग किक्स लगाईं और धीरे-धीरे अपनी मूवमेंट में बदलाव करना शुरू कर दिया। इसके बावजूद थाई सुपरस्टार अपनी दमदार स्ट्राइकिंग से उन्हें लगातार क्षति पहुंचा रहे थे।

दूसरे राउंड में और भी कड़ी टक्कर देखने को मिली। डच स्टार जैब लगाने के लिए आगे आए लेकिन पैर फिसलने के कारण वो नीचे गिर पड़े थे, लेकिन अगले ही पल वापस अपने पैरों पर खड़े होने में सफल भी रहे। लेकिन योडसंकलाई ने मौके का फायदा उठाकर सावर को सर्कल वॉल की तरफ धकेला, किक को ब्लॉक किया और एक दमदार लेफ्ट क्रॉस लगाकर शानदार तरीके से नॉकडाउन किया।

हालांकि, “सावर पावर” रेफरी के काउंट का जवाब देने में सफल रहे लेकिन वो हार के बेहद करीब आ पहुंचे थे। “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” ने उनके अटैक्स को ब्लॉक किया, सर्कल वॉल की तरफ धकेला और जबरदस्त अंदाज में कॉम्बिनेशन लगाया। उसके बाद दमदार लेफ्ट क्रॉस लगाया जिससे डच सुपरस्टार चित हो गए और योडसंकलाई को TKO से विजेता घोषित किया गया।

ये भी पढ़ें: स्टैम्प फेयरटेक्स के छोटे भाई के लिए गुरु बन चुके हैं रोडटंग