मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

डैनी किंगड और जोशुआ पैचीओ को ई-स्पोर्ट्स से है गहरा लगाव

ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियन जोशुआ “द पैशन” पैचीओ और उनके सबसे अच्छे दोस्त डैनी “द किंग” किंगड सर्कल में तो अपने विरोधियों पर हावी रहते ही हैं लेकिन वे वर्चुअल दुनिया में भी अपने दुश्मनों को धूल चटाते हैं।

Team Lakay के ये दोनों दिग्गज एथलीट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स से लगाव रखते हैं लेकिन ये दोनों ई-स्पोर्ट्स के भी गजब के दीवाने हैं।

Team Lakay's dynamic duo Joshua Pacio and Danny Kingad train in Baguio City

जिस तरह से दोनों एथलीट ONE Championship में अलग वेट क्लास (भार वर्ग) में मुकाबला करते हैं। उसी तरह से दोनों फिलीपीनो एथलीट वीडियो गेम्स में अलग तरह की दिलचस्पी रखते हैं।

पैचीओ हमेशा से फर्स्ट पर्सन शूटर गेम्स के शौकीन रहे हैं, जिसमें उनको कॉल ऑफ ड्यूटी बेहद पसंद है।

इत्तेफाक से उन्होंने गेमिंग सीरीज के बारे में भी अंकल रे से ही सीखा है। ये वही शख्स हैं, जिन्होंने पैचीओ का मार्शल आर्ट्स से असल में परिचय करवाया था।

24 साल के स्ट्रॉवेट किंग ने बताया, “मैंने ये तब शुरू किया था, जब मैं काफी छोटा था। मुझे लगता है कि मैं जब ग्रेड स्कूल में था तब से इसे खेल रहा हूं। ये मैंने अपने अंकल रे से सीखा और कॉल ऑफ ड्यूटी तो हमेशा से मेरा पसंदीदा खेल रहा है।”

“इसके बाद मैंने प्रिंस ऑफ पर्शिया और असासिंस क्रीड भी खेला। फिर जब मैं कॉलेज में था तो मैंने डोटा पर हाथ आजमाया लेकिन उसमें मेरा मन ज्यादा नहीं लगा।”



वहीं, किंगड को पहली बार वीडियो गेम का अनुभव पुराने तरीके से हुआ। बचपन में फ्लाइवेट एथलीट आर्केड में फाइटिंग गेम्स खेलते थे।

जल्द ही उन्हें फर्स्ट पर्सन शूटिंग गेम काउंटर स्ट्राइक का चस्का लग गया, जिसे आजकल लोकप्रिय तौर पर सीएस:गो नाम से भी जाना जाता है।

इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है कि “द किंग” इसके टाइटल पर फिदा हो गए थे क्योंकि साल 2000 के दौरान फिलीपींस में ये काफी लोकप्रिय लोकल एरिया नेटवर्क (लैन) का मल्टीप्लेयर गेम बन गया था।

24 साल के बेहतरीन फ्लाइवेट एथलीट ने बताया, “जब मैं ग्रेड वन में था, तब इसे खेलना शुरू किया था।”

“उस समय मैं वीडियो गेम्स पर फिदा हो चुका था। मैंने अपनी शुरुआत मॉर्टल कॉम्बैट जैसे पुराने आर्केड फाइटिंग गेम्स से की थी और उसके बाद कंप्यूटर गेम्स खेलने लगा।”

Team Lakay after practice in Baguio City

अब मल्टीप्लेयर ऑनलाइन एरीना बैटल गेम्स स्मार्टफोन पर आ गए हैं। ऐसे में दोनों बेस्ट फ्रेंड्स एक रास्ते पर चल रहे हैं और उन्हें मोबाइल लैजेंड्स गेम साथ में खेलना काफी पसंद है।

असल में ये गेम फिलीपींस में इतना लोकप्रिय हो चुका है कि Team Lakay का हर सदस्य इस समय इन्हें खेल रहा है। इसमें पूर्व ONE वर्ल्ड चैंपियंस एडुअर्ड “लैंडस्लाइड” फोलायंग और केविन “द सायलेन्सर” बेलिंगोन भी शामिल हैं।

निश्चित ही ऐसा कई बार समय आता है, जब चीजें काफी प्रतिस्पर्धा वाली हो जाती हैं लेकिन पैचीओ गेमिंग एक्टिविटी को टीम के साथियों के साथ रिश्ते मजबूत करने का जरिया मानते हैं।

पैचीओ कहते हैं, “एडुअर्ड और केविन को छोड़कर हम सब एक ही स्तर पर हैं क्योंकि उन्होंने अभी खेलना शुरू किया है। इससे हमें अपने रिश्ते मजबूत करने का मौका मिलता है।”

हालांकि, किंगड को लगता है कि उनके साथी कुछ ज्यादा ही विनम्र हैं। साथ ही वो ये भी मानते हैं कि “द पैशन” मोबाइल लैजेंड्स  गेम को लेकर कुछ ज्यादा ही गंभीर है।

उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, “जोशुआ मुझसे बेहतर खेलता है। उसे गेम की लत लगी हुई है।”

जब मोबाइल लैजेंड्स की बात आती है तो दानों दोस्त अपने-अपने स्किल लेवल पर एक-दूसरे से असहमत हो सकते हैं। हालांकि, जब भी सच मानने की बारी आती है तो वे ONE Championship में सिर्फ एक ही बंदे को ई-स्पोर्ट्स का किंग मानते हैं। उसे आप डिमिट्रियस “माइटी माउस” जॉनसन के नाम से जानते हैं।

जॉनसन ONE ई-स्पोर्ट्स के मुख्य ब्रांड एंबेसडर हैं। उन्होंने अपनी पहचान एक टॉप शेल्फ गेमर के तौर पर बनाई है। थाइलैंड के फुकेत में 2018 के दौरान ONE एलीट रिट्रीट स्ट्रीट फाइटर चैलेंज में उन्होंने किंगड और कई अन्य एथलीटों को धूल भी चटाई थी।

एक बार तो पैचीओ को भी खुद पर भरोसा नहीं है कि वो “माइटी माउस” को स्ट्रीट फाइटर या किसी अन्य वीडियो गेम मुकाबले में हरा पाएंगे।

उन्होंने बताया, “दूसरे एथलीट्स के खिलाफ इसमें मुकाबला करना बहुत मजेदार आइडिया है।”

“मुझे लगता है कि मार्टिन गुयेन भी ई-स्पोर्ट्स के शौकीन हैं। मुझे उनके खिलाफ खेलने में मजा आएगा। ऐसे में अगर डिमिट्रियस जॉनसन की बात करें तो मुझे नहीं लगता कि मैं उन्हें हरा सकता हूं। वो तो हर गेम खेल सकते हैं।”

पिछले साल अक्टूबर में किंगड ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री चैपियनशिप में जॉनसन से हार गए थे। उन्होंने बताया, “ई-स्पोर्ट्स के मुकाबले मेरे पास उन्हें मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में उन्हें हराने का ज्यादा बेहतर मौका है।”

फ्लाइवेट एथलीट ने बताया, “अगर मुझे वहां जॉनसन से मुकाबला करने को मिलेगा तो काफी प्रैक्टिस करने की जरूरत होगी, ताकि मैं उन्हें कड़ी टक्कर दे सकूं। वो काफी अच्छे एथलीट हैं।”

“मुझे लगता है कि मैं उन्हें थोड़ी देर तक रोक सकता हूं लेकिन मालूम है कि अंत में वो मुझे हरा देंगे। वो ई-स्पोर्ट्स के बहुत तगड़े खिलाड़ी हैं। मैं उनसे वापस फिर बाउट करने जाऊंगा। भले ही इसके लिए मुझे रीमैच करना पड़े।”

आखिरकार, Team Lakay के दोनों बेहतरीन खिलाड़ी फिलहाल पूरी तरह अपने ONE Championship में करियर बनाने और इस खेल में अपनी विरासत जमाने में जुटे हैं। गेमिंग वो केवल मजे और बागियो सिटी के साथियों से रिश्ता मजबूत करने के लिए करते हैं।

पैचीओ कहते हैं, “ये मेरे लिए टाइमपास करने का जरिया है। मैं मार्शल आर्ट्स करते हुए कभी नहीं थकता हूं।”

ये भी पढ़ें: गेमिंग के सहारे मार्टिन गुयेन को अच्छा प्रदर्शन करने में मिलती है मदद