न्यूज़

67 सेकेंड की जीत के बाद चैंपियन को चैलेंज करना चाहते हैं यूरी लापिकुस

ONE: WARRIOR’S CODE में धमाकेदार जीत दर्ज करने के बाद यूरी लापिकुस ने खुद को ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल का टॉप कंटेंडर बताया है।

पिछले शुक्रवार, 7 फरवरी को अनडिफेटेड मोल्दोवन एथलीट ने जकार्ता में पूर्व ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन मरात “कोबरा” गफूरोव को रीयर-नेकेड चोक से हराने में केवल 67 सेकेंड लगाए थे।

लापिकुस उस परिणाम से काफी रोमांचित हो उठे हैं और इस जीत से उनके आगे बढ़ने के रास्ते खुल जाने को लेकर भी वो काफी उत्साहित हैं।

उन्होंने बताया, “मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है, उस मैच का परिणाम इससे बेहतर नहीं हो सकता था। मुझे कुछ हद तक संतुष्टि मिली है कि मेरी मेहनत रंग लाई और हालिया जीत उसी का एक बड़ा उदाहरण है।”

“जीतकर बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूँ लेकिन मेरे लिए ये अन्य जीत में से ही एक है। मुझे खुद पर भरोसा रखना होगा और मैं जानता हूँ कि एक पूर्व ONE वर्ल्ड चैंपियन को फिनिश करना अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है जिससे इस डिविजन में मुझे टॉप पर पहुंचने में मदद मिल सकती है। इसी के सहारे मुझे वर्ल्ड टाइटल शॉट भी मिल सकता है।”

इस्तोरा सेनयन में Team Petrosyan के प्रतिनिधि ने बिना देरी किए अपने प्रतिद्वंदी पर जोरदार पंच बरसाने शुरू कर दिए थे और उसके बाद “कोबरा” को प्रभावशाली लेग किक्स से क्षति पहुंचाकर टेकडाउन का प्रयास किया। लापिकुस ने शानदार हाराई गोशी लगाया जिससे गफूरोव मैट पर जा गिरे।

उन्होंने कहा, “मैं जानता था कि उनके पैरों की कंडीशनिंग अच्छी हालत में नहीं थी इसलिए मैंने उन्हें क्षति पहुंचाकर उन्हें टेकडाउन कर ग्राउंड पर लाने की कोशिश की।”

“जब मैं क्लिंच पोजिशन में होता हूँ तो हाराई गोशी मेरे पसंदीदा मूव्स में से एक होता है। जाहिर तौर पर उन्होंने मुझे कम आंकने की भूल की थी, साथ में मेरी क्लिंच और ग्रैपलिंग गेम को भी। मैं उनकी आँखों में साफ देख सकता था कि शुरुआती पंच और किक्स से उन्हें काफी क्षति पहुंची थी और उन्हें एहसास हो चुका था कि वो बड़ी मुसीबत में फंस चुके हैं।”



उसके बाद मिलान से आने वाले एथलीट ने बेहद चतुराई से अपने प्रतिद्वंदी की बैक को निशाना बनाया और रीयर-नेकेड चोक लगाया, जो खुद रूसी एथलीट का खुद का ट्रेडमार्क मूव है।

लापिकुस ने ONE के सबसे सफल एथलीट्स में से एक मरात के खिलाफ कड़ी टक्कर की उम्मीद जताई थी, वहीं उन्हें अपनी आसान जीत से भी कोई शिकायत नहीं है।

उन्होंने बताया, “सच कहूँ तो मैं 3 राउंड तक चलने वाले एक कड़े मुकाबले की उम्मीद कर रहा था। मैं पूर्व ONE वर्ल्ड चैंपियन के साथ इस मुकाबले के लिए शारीरिक रूप से और मानसिक रूप से भी पूरी तैयार था।”

“पहले मुझे पता ही नहीं चला कि मैच कितनी तेजी से आगे बढ़ा। उसके बाद मैंने इसे कई बार देखा और फिर मुझे विश्वास हुआ कि मैंने मैच को वाकई में बहुत थोड़े समय में समाप्त कर दिया था।

“मुझे महसूस हुआ कि जब मैंने उनकी बैक को निशाना बनाया तो उन्हें पता ही नहीं चला कि मैंने कितनी तेजी से मूव किया था। जब तक उन्हें पता चला मैं उन्हें चोक लगा चुका था। मैं जानता था कि रीयर-नेकेड चोक उनका सिग्नेचर मूव है लेकिन ये मेरे पसंदीदा मूव्स में से भी एक है।”

Iuri Lapicus defeats Marat Gafurov ONE WARRIOR'S CODE

करीब 1 मिनट तक चले मुकाबले में अपने करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज करने के बाद उनका रिकॉर्ड 13-0 का हो गया है और उनका मानना है कि वो जल्द ही ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज कर सकते हैं।

हालांकि उन्हें ये भी पता है कि उनका डिविजन वर्ल्ड-क्लास टैलेंट से भरा हुआ है, यदि उन्हें अपने मुताबिक मैच मिलता है तो मौजूदा चैंपियन क्रिश्चियन “द वॉरियर” ली उनका अगला निशाना होंगे।

लापिकुस ने कहा, “मैं जानता चाहता हूँ कि इस जीत से इस डिविजन में मैं अब किस स्थान पर हूँ, लेकिन मुझे लगता है कि टॉप-5 में मेरा स्थान पक्का हो चुका है।

“मैं जानता हूँ कि मैं रिंग में क्या करने में सक्षम हूँ और मुझे खुद पर भरोसा है कि मैं दुनिया के एलीट लेवल के फाइटर्स में से एक बन चुका हूँ। जितना जल्दी हो सकता है मैं उतनी जल्दी वापसी करना चाहता हूं। मैं अच्छा महसूस कर रहा हूँ और फिलहाल मैं अपने करियर के टॉप पर हूँ। इस खेल से मुझे बहुत लगाव है और रिंग में आकर ही मेरा स्वभाव सामने आता है और इसका कारण ये है कि मैं रोज कड़ी मेहनत करता हूँ।

“या तो कुछ बड़ा हासिल करिये जा घर जाइए, मैं अगले मुकाबले में क्रिश्चियन ली का सामना करना चाहता हूँ।”

ये भी पढ़ें: शानदार जीत के बाद टोनन और थान ली का सामना करना चाहते हैं मत्सुशीमा