मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

जोशुआ पैचीओ को हराकर फिर से चैंपियन बनने का दावा कर रहे हैं एलेक्स सिल्वा

ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल जीतने के करीब आने के लिए एलेक्स “लिटल रॉक” सिल्वा को लंबा इंतजार करना पड़ा है, अब वो मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स का सबसे बड़ा पुरस्कार हासिल करने से महज एक जीत ही दूर हैं।

शुक्रवार, 31 जनवरी को पूर्व टाइटल होल्डर, ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियन जोशुआ “द पैशन” पैचीओ को ONE: FIRE & FURY के मेन इवेंट में बेल्ट हासिल करने के लिए चुनौती देंगे। ये महत्वपूर्ण बाउट फिलीपींस के मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में आयोजित होगी।

सिल्वा नए साल का धन्यवाद करते हैं कि उन्हें शुरुआत में ही फिर से चैंपियनशिप हासिल करने का मौका मिल रहा है। Copa do Mundo Brazilian Jiu-Jitsu वर्ल्ड चैंपियन ने अपने अगले मैच में ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने का वादा किया है।

37 साल के एथलीट कहते हैं, “मैं हमेशा शीर्ष पर वापस जाने के लिए तैयार हूं। मेरा मानना है कि जोशुआ और मैंने डिविजन के ज्यादातर टॉप एथलीटों का सामना किया है इसलिए मैं इस मैच को लेकर बहुत खुश हूं।”

विश्वस्तरीय एथलीटों के खिलाफ लगातार सबमिशन से पांच जीत दर्ज करने के बाद सिल्वा ने दिसंबर 2017 में बड़ा ब्रेकथ्रू हासिल करते हुए पूर्व चैंपियन योशिताका “नोबिता” नाइटो को हराकर ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल का खिताब अपने नाम किया था।

हालांकि, ये एथलीट ज्यादा दिनों तक अपने स्ट्रॉवेट किंग का तमगा बरकरार नहीं रख पाए। पांच महीने बाद ही विभाजित निर्णय के जरिए नाइटो ने उनको हराते हुए फिर से अपने गोल्ड पर कब्जा जमा लिया था।

इसके बाद “लिटल रॉक” को अपने अगले दो मुकाबलों में सर्वसम्मत निर्णय से हार का सामना करना पड़ा था। फिर ऐसा लगने लगा कि Evolve प्रतिनिधि अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर के सबसे न्यूनतम स्तर पर पहुंच गए हैं।

हालांकि, सिल्वा ने हार नहीं मानी और खुद की वापसी का दृढ़ निश्चय किया। वो 2019 के दूसरे हाफ में प्रभावशाली जीत के साथ फिर उभरे।



अगस्त में वो स्टेफ़र रहार्डियन के खिलाफ फिनिश के जरिए पराजित करने वाले पहले एथलीट बने। उन्होंने इंडोनेशियन ग्रैपलर को आर्मबार की मदद से टैप आउट करने के लिए मजबूर कर दिया था। उन्होंने फिर से इस तकनीक का इस्तेमाल नवंबर में चीनी रेसलर पेंग ज़ू वेन के खिलाफ भी किया और प्रभावशाली रहे।

करियर को आगे बढ़ाते हुए “लिटिल रॉक” फिलीपींस की राजधानी में अपने वर्ल्ड टाइटल के प्रदर्शन को लेकर सकारात्मक सोच बना रहे हैं।

वो कहते हैं, “मेरा 2018 से 2019 की शुरुआत तक का समय अच्छा नहीं रहा था। हालांकि, हर कोई सर्कल के अंदर और बाहर मुश्किलों का सामना करता है।”

“मैं सभी तरह की कठिनाइयों, दर्द और बलिदानों के लिए बहुत आभारी हूं। इन सब चीजों ने मुझे मजबूत बनाया है। मेरा मानना है कि ऊपरवाला मुझे इस पल के लिए तैयार कर रहा था इसलिए अब मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने जा रहा हूं।”

Alex Silva defeats Stefer Rahardian by armbar submission at ONE DREAMS OF GOLD

वुशु स्पेशलिस्ट के रूप में पहचाने जाने वाले पैचीओ ने सितंबर 2018 में नाइटो से ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप जीती थी। हालांकि, ये जीत थोड़े समय के लिए ही रही।

23 वर्षीय फिलीपींस की बागियो सिटी के एथलीट जनवरी 2019 में विभाजित निर्णय के जरिए योसूके “द निंजा” सारूटा से हार गए थे।

अच्छी बात ये थी कि टीम Lakay के प्रतिनिधि के लिए एक तुरंत रीमैच का आदेश दिया गया और उन्होंने तीन महीने बाद जापानी एथलीट से एक हाइलाइट रील नॉकआउट के जरिए खिताब हासिल कर लिया। उस फिनिश को आखिरकार 2019 का टॉप मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स नॉकआउट घोषित किया गया था।

नवंबर में पैचीओ ने अपने हमवतन रेने “द चैलेंजर” कैटलन को आर्म-ट्रायंगल चोक और के जरिए हराया।

सिल्वा को ये अच्छी तरह से पता है कि उनका युवा प्रतिद्वंदी दूसरी बार अपने वर्ल्ड टाइटल के बचाव के लिए पूरी तरह से दृढ़ संकल्पित है इसलिए वो उन्हें पराजित करने के लिए अपनी शक्ति का भरपूर इस्तेमाल करते हुए सारे पैंतरे आजमाएंगे। यही वजह है कि “लिटिल रॉक” को पता है कि बाउट वाली रात जल्दी खत्म नहीं होने वाली है।

वो स्वीकारते हैं, “हम दोनों के लिए ये बाउट बहुत मुश्किल होने वाली है। न केवल ग्रैपलिंप और स्टाइलिंग बल्कि मुझे अपने सभी तरह के कौशल का इस्तेमाल करने की जरूरत होगी। मुझे जीत के लिए सब कुछ इस्तेमाल करना होगा।”

Brazilian mixed martial artist Alex Silva raises his hand in victory in November 2019

पैचीओ के पास स्ट्राइकिंग की जबरदस्त काबिलियत है, हालांकि बीते सालों में उन्होंने अपने स्किल सेट में इजाफा किया है।

“द पैशन” ने अपने टेकडाउन डिफेंस में सुधार किया है। वो डिविजन के सबसे प्रतिभाशाली ग्रैपलरों के साथ रेसलिंग के दांव-पेंच का इस्तेमाल करने में भी सहज हैं। साथ ही उनके रिकॉर्ड में नॉकआउट से ज्यादा सब्मिशन जीत दर्ज हैं।

फिलीपीनो एथलीट के कई क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रदर्शन के बावजूद ग्राउंड पर सिल्वा कई मौकों का फायदा उठा सकते हैं। उनका मानना है कि ब्राजीलियन जिउ-जित्सु तकनीक और अनुभवी विशेषज्ञता ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल को पाने के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित होगी।

Evolve प्रतिनिधि ने कहा, “मुझे विश्वास है कि मेरा BJJ एक बड़ा फेरबदल लाएगा। मुझे मार्शल आर्ट्स और उसकी ट्रेनिंग का 20 साल का अनुभव है। ये मेरे लिए प्लस पॉइंट होगा।”

“पैचीओ पर दबाव अधिक होगा क्योंकि वो अपने होमटाउन में मेरे खिलाफ होगा और अपनी बेल्ट का बचाव करेंगे। मैं परिणाम देख रहा हूं कि वो बेल्ट मेरे ही कमर पर बंधेगी।”

“मुझे पता है कि ये प्रशंसकों के लिए एक दिलचस्प मैच होगा लेकिन हम दोनों के लिए ये एक बहुत मुश्किल फाइट होगी। मैं जोशुआ का सम्मान करता हूं लेकिन मैं उनके लिए बहुत अच्छे से तैयार भी रहूंगा।”

ये भी पढ़ें: पैचीओ Vs.सिल्वा, फोलायंग की मनीला में वापसी तय

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं