मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ONE: REIGN OF DYNASTIES के स्टार्स के सबसे शानदार सबमिशन

शुक्रवार, 9 अक्टूबर को ONE: REIGN OF DYNASTIES के रूप में ONE Championship की वापसी होने वाली है।

इवेंट में फैंस को जबरदस्त ग्रैपलिंग गेम देखने की भी उम्मीद रखनी चाहिए। 6 में से 5 मुकाबले मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स नियमों के तहत होंगे और कार्ड में शामिल एथलीट्स अपने पिछले मुकाबलों में शानदार सबमिशन स्किल्स का प्रदर्शन भी कर चुके हैं।

यहां आप ONE: REIGN OF DYNASTIES के स्टार्स द्वारा किए गए अभी तक के सबसे बेहतरीन सबमिशन फिनिश को देख सकते हैं।

राजू ने “द लॉयन” को सबमिशन से हराया

???????? "THE KERALA KRUSHER" ????????

???????? "THE KERALA KRUSHER" ????????Rahul Raju chokes out Furqan Cheema in Round 2 to bring home a big win for India!????: How to watch ???? http://bit.ly/ONEEOGHTW????: Book your hotel ???? bit.ly/ONEhotelplanner????: Watch on the ONE Super App ???? bit.ly/ONESuperApp????: Shop official merchandise ???? bit.ly/ONECShop

Posted by ONE Championship on Friday, November 22, 2019

भारत और पाकिस्तान की टीम या एथलीट कहीं भी आमने-सामने आ रहे हों, वो लम्हा फैंस के लिए यादगार बन ही जाता है। नवंबर 2019 में हुए ONE: EDGE OF GREATNESS में राहुल “द केरल क्रशर” राजू ने बड़ी जीत दर्ज की थी।

पहले राउंड में भारतीय स्टार ने अपने रेसलिंग गेम से बढ़त बनाई, लेकिन फुरक़ान “द लॉयन” चीमा ने धैर्य ना खोते हुए खुद को डिफेंड किया और दूसरे राउंड में प्रवेश करने में सफलता पाई।

चीमा अपने स्ट्राइकिंग गेम पर ही डटे हुए थे, इसी बीच राजू ने उन्हें डबल-लेग टेकडाउन की मदद से टेकडाउन किया और कोई समय ना गंवाते हुए अपने प्रतिद्वंदी की बैक को निशाना बनाने की कोशिश की। उन्होंने अपना दायां हाथ पाकिस्तानी एथलीट की ठोड़ी के नीचे डाला और अगले ही पल रीयर-नेकेड चोक लगाकर दबाव बनाया, जिसके खिलाफ चीमा के पास टैप आउट करने के अलावा कोई विकल्प ही नहीं बचा।

राजू खुशी से झूम उठे और ये ONE में ब्राजीलियन जिउ-जित्सु (BJJ) ब्राउन बेल्ट होल्डर की लगातार दूसरी जीत रही। अब वो 9 अक्टूबर को अमीर खान के खिलाफ भी कुछ इसी तरह का प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे।

मैनम का यादगार डेब्यू

ONE: MASTERS OF FATE starts with a ???? BANG ???? as Indian phenom Roshan Mainam ???????? submits Khon Sichan in Round 1!

ONE: MASTERS OF FATE starts with a ???? BANG ???? as Indian phenom Roshan Mainam ???????? submits Khon Sichan in Round 1!????: How to watch ???? http://bit.ly/ONEMOFHTW????: Book your hotel ???? hotelplanner.com????: Watch on the ONE Super App ???? bit.ly/ONESuperApp????: Shop official merchandise ???? bit.ly/ONECShop

Posted by ONE Championship on Friday, November 8, 2019

“द इंडियन नोटोरियस” रोशन मैनम ने पिछले साल नवंबर में हुए ONE: MASTERS OF FATE में अपना प्रोमोशनल डेब्यू किया था। जिसमें उन्होंने पहले ही राउंड के 3 मिनट 22 सेकंड पर मैच को जीत लिया था।

इसकी शुरुआत खॉन सिचान के खिलाफ टेकडाउन से हुई और इसके बाद भारतीय स्टार ने ग्रैपलिंग स्किल्स की मदद से माउंट पोजिशन प्राप्त की।

टॉप पर रहते हुए मैनम ने दमदार एल्बोज लगाईं, जिसके कारण सिचान को अपने बचाव में अपना बायां हाथ अपने चेहरे के पास लाना पड़ा। सिचान के हाथ के ऊपर आते ही Evolve टीम के स्टार ने अमेरिकाना मूव लगाया और कंबोडियाई एथलीट को टैप आउट करने पर मजबूर किया।

उस यादगार जीत के बाद मैनम ONE: REIGN OF DYNASTIES में भी अपनी जीत की लय को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे।



लिउ के हाथों सिरेगर को मिली अपनी पहली हार

फरवरी 2019 में हुए ONE: CLASH OF LEGENDS से पहले एलीपिटुआ “द मैजिशियन” सिरेगर के लिए सब ठीक चल रहा था। इंडोनेशियाई नेशनल रेसलिंग चैंपियन उस समय तक अपराजित रहे थे और खुद को एक बड़ा स्टार साबित करना चाहते थे।

लेकिन लिउ पेंग शुआई की रणनीति थोड़ी अलग थी।

2 राउंड्स तक दोनों एथलीट्स के बीच कांटेदार टक्कर देखने को मिली, लेकिन ऐसा प्रतीत होने लगा था कि अगर सिरेगर अंतिम राउंड समाप्त होने तक खुद को बचाए रखने में सफल रहते तो उन्हें जीत मिलने की संभावना बढ़ जाती। लेकिन आखिरी मिनट में लिउ की एक आखिरी कोशिश ने उन्हें बड़ी जीत दिलाने में मदद की थी।

“द मैजिशियन” ने लिउ द्वारा किए गए टेकडाउन के प्रयास से खुद को बचाया, लेकिन उन्हें ONE Hefei फ्लाइवेट टूर्नामेंट चैंपियन ने मैट पर गिराने में सफलता पाई। चीनी एथलीट ने इसके बाद किमुरा लॉक में अपने प्रतिद्वंदी को जकड़ा और जीत हासिल की।

9 अक्टूबर को लिउ वापसी कर रहे हैं और मैनम के खिलाफ फ्लाइवेट कॉन्टेस्ट में अपनी जीत की लय को जारी रखने की कोशिश करेंगे।

मैकलेरन का यागदार डेब्यू

रीस “लाइटनिंग” मैकलेरन ने अपने ONE डेब्यू में साबित कर दिया था कि एथलीट्स को हमेशा अपनी तैयारी पूरी रखनी चाहिए, क्योंकि अवसर कब और किस समय आ जाए, किसी को पता नहीं होता। दिसंबर 2015 में उन्हें ONE: SPIRIT OF CHAMPIONS में बहुत कम समय के नोटिस पर मैच मिला था और इस मौके को उन्होंने खाली नहीं जाने दिया।

पहले 2 राउंड्स में मार्क स्ट्रीग्ल को थकाने के लिए वो निरंतर दमदार स्ट्राइक्स का प्रयोग कर रहे थे। अपने निकनेम “लाइटनिंग” पर खरे उतरते हुए उन्होंने तीसरे राउंड की शुरुआत में अपने मूव्स का बेहद तेजी के साथ इस्तेमाल किया।

जैसे ही स्ट्रीग्ल ने ग्राउंड गेम में जाने की कोशिश की, तभी Potential Unlimited Mixed Martial Arts टीम के स्टार ने गिलोटिन चोक से प्रहार किया। हालांकि, उनका सबमिशन का ये प्रयास विफल रहा, लेकिन मैकलेरन माउंट पोजिशन प्राप्त कर चुके थे और ग्राउंड एंड पाउंड अटैक से अपने प्रतिद्वंदी को क्षति पहुंचा रहे थे।

स्ट्रीग्ल ने उन स्ट्राइक्स से तो खुद को बचा लिया, लेकिन इस दौरान मैकलेरन को रीयर-नेकेड लगाने का रास्ता साफ नजर आने लगा था। ऑस्ट्रेलियाई एथलीट ने इस बार मिले मौके को खाली नहीं जाने दिया और डेब्यू मैच में सबमिशन जीत से अपने ONE Championship के सफर की शुरुआत की।

9 अक्टूबर को को-मेन इवेंट मैच में मैकलेरन का सामना टोइवोनन से होने वाला है।

“द जायंट” ने फुजिसावा को हराया

Aleksi "The Giant" Toivonen makes a MASSIVE statement in his ONE debut with a slick submission victory over Akihiro Fujisawa!

Aleksi Toivonen makes a MASSIVE statement in his ONE debut with a slick submission victory over Akihiro Fujisawa!????: Check local listings for global TV broadcast????: Watch on the ONE Super App ????http://bit.ly/ONESuperApp

Posted by ONE Championship on Friday, July 12, 2019

जुलाई 2019 में हुए ONE: MASTERS OF DESTINY में अलेक्सी “द जायंट” टोइवोनन ने अपना डेब्यू किया था और आते ही उन्होंने पूरे फ्लाइवेट डिविजन को हैरान कर दिया था।

शुरुआत में अकिहिरो “सुपरजैप” फुजिसावा दूर रहकर स्ट्राइक्स लगा रहे थे लेकिन टोइवोनन ने इस दौरान धैर्य ना खोते हुए खुद को डिफेंड किया। इस धैर्य का ही नतीजा था कि जब फिनलैंड के एथलीट ने राइट लेग किक लगाई तो फुजिसावा का बैलेंस बिगड़ा हुआ नजर आया और सिंगल लेग टेकडाउन का प्रयास किया।

इस दौरान Evolve टीम के स्टार ने मौके का फायदा उठाते हुए फुजिसावा के बाएं हाथ को निशाना बनाया।

इस स्थिति से उनके प्रतिद्वंदी को केवल एक ही हाथ से खुद को डिफेंड करना था। इससे “द जायंट” को रीयर-नेकेड चोक लगाने में भी आसानी हुई। अत्यधिक दबाव झेलने के कारण जापानी एथलीट के पास टैप आउट करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।

3 बार के IBJJF नो-गी यूरोपियन चैंपियन टोइवोनन ने इस धमाकेदार जीत से पूरे डिविजन को सावधान करते हुए संकेत दिए थे कि वो कितनी जल्दी मैच को फिनिश कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: ONE: REIGN OF DYNASTIES के स्टार्स द्वारा किए गए सबसे शानदार नॉकआउट्स