न्यूज़

योडकाइकेउ को नॉकआउट या सबमिशन के जरिए हराने पर है शिंक की नजर

Aug 12, 2020

ONE Championship ने एक बार फिर अपने इवेंट्स का आयोजन शुरू कर दिया है और इस शुक्रवार, 14 अगस्त को ONE: NO SURRENDER II में जॉन शिंक का सामना योडकाइकेउ “Y2K” फेयरटेक्स से होने वाला है।

जैसे-जैसे इवेंट पास आ रहा है, शिंक अपने ONE Championship इवेंट को लेकर बेहद उत्साहित महसूस कर रहे हैं।

31 वर्षीय स्टार ने कहा, “मैं खुद को सौभाग्यशाली महसूस कर रहा हूं कि मैं आगामी इवेंट का हिस्सा हूं।”

“मैं इवेंट में होने वाले बाकी स्टार्स के मैच देखने को लेकर भी काफी उत्सुक हूं। सैमापेच और रोडलैक के बीच होने वाला मेन इवेंट धमाकेदार होगा और इस शो का हिस्सा बनना ही अपने आप में गजब का अहसास है।”

लेकिन एक दर्शक के तौर पर मेन इवेंट को देखने से पहले उन्हें रिंग में “Y2K” की चुनौती को पार करना होगा।

योडकाइकेउ कई सालों तक बैंकॉक के मशहूर Rajadamnern और Lumpinee Stadium में मुकाबला कर चुके हैं और उन्होंने 2015 में द चैंपियन मॉय थाई 65 किलोग्राम Dat Chuek बेल्ट जीती थी।

नए चैलेंज की तलाश में उन्होंने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में आने का फैसला किया और अपनी शानदार मॉय थाई स्किल्स को इस खेल में लगा दिया। उन्होंने अपने प्रोफेशनल रिकॉर्ड को 4-2-1 किया, जिसमें से तीन जीत नॉकआउट के जरिए हासिल की।

कुछ वीडियो देखने के बाद शिंक Fairtex टीम के प्रतिनिधि की स्ट्राइकिंग स्किल्स से काफी प्रभावित नजर आए।

शिंक ने कहा, “उनकी नीज़ और किक्स काफी अच्छी हैं और मुझे उनका ध्यान रखना होगा।”

“मुझे उम्मीद हैं कि वो ट्रेनिंग कर रहे होंगे और उनमें सुधार आया होगा। वो अपनी पिछली फाइट्स में एक एमेच्योर प्रतीत हुए क्योंकि वो रेसलिंग और जिउ-जित्सु से दूर ही नजर आए।

“लेकिन वो Fairtex में ट्रेनिंग करते आ रहे हैं और उनके पास डीजे जैक्सन के रूप में बीजेजे कोच है। ऐसे में मुझे लगता है कि वो जिउ-जित्सु पर काम कर रहे होंगे। मैं ऐसा नहीं सोचना चाहता कि वो पहले के जैसे ही फाइटर होंगे।”

शिंक भी खुद को हालात के अनुसार कई बार ढाल चुके हैं।

नाइजीरिया में जन्मे फ्लाइवेट स्टार ने साल 2019 में अपने घर इंग्लैंड से दूर होकर थाईलैंड आने का निर्णय लिया और फुकेत स्थित Tiger Muay Thai में अपनी स्किल्स को सुधारने में जुट गए।

उन्होंने कहा, “मुझे थाईलैंड में आए हुए करीब डेढ़ साल हुआ है और मैं लगातार ट्रेनिंग ही कर रहा हूं। मैंने अभी तक कोई ब्रेक नहीं लिया है।”

“पिछले साल मैंने 9 मॉय थाई फाइट्स में हिस्सा लिया था। मैं लगभग हर महीने फाइट कर रहा था और काफी अच्छी फिटनेस हासिल कर ली थी।”



प्रोफेशनल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में शिंक का रिकॉर्ड अभी तक लाजवाब रहा है और वो 3-0 पर हैं, जिसमें से दो जीत उनकी नॉकआउट के जरिए आई हैं।

नाइजीरियाई फ्लाइवेट अपनी जीत के सिलसिले को बरकरार रखना चाहते हैं और इसके लिए उन्होंने प्लान भी बना लिया है।

शिंक ने कहा, “मैंने स्टैंडिंग गेम में उनसे अच्छा प्रदर्शन किया तो स्टैंडिंग में ही रहूंगा। मुझे उनकी रेसलिंग स्किल्स का जरा भी अंदाजा नहीं है।”

“शायद वो ग्राउंड गेम में कुछ खास नहीं हैं। मेरी रेसलिंग उनसे काफी अच्छी है। अगर वो स्टैंडिंग गेम में बढ़त बनाएंगे तो मुझे ग्राउंड गेम का सहारा लेना पड़ेगा।”

आखिर में शिंक का मकसद दुनिया भर में इवेंट को देख रहे फैंस का मनोरंजन करना है।

उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा लाजवाब प्रदर्शन किया है। मेरी कोई भी फाइट बोरिंग नहीं रही है तो ऐसे में ये मुकाबला देखने लायक होगा।”

 

“मुझे लगता है कि मैं उन्हें नॉकआउट या सबमिशन के जरिए हरा दूंगा। मैं नहीं चाहता कि मुकाबले का नतीजा जजों के स्कोर से निकले। मेरा मकसद सिर्फ जीत हासिल करना है।

ये भी पढ़ें: किस तरह मार्शल आर्ट्स ने जॉन शिंक के जीवन को नई राह दिखाई