Mixed Martial Arts

शे वेई के साथ मुकाबले के लिए डैनी किंगड ने बनाया एक बेहद खास प्लान

डैनी “द किंग” किंगड अपने छोटे से करियर में ONE Championship में काफी बड़ा नाम बन चुके हैं। 24 की उम्र में उनमें वो काबिलियत है जिससे 2020 के दशक के सबसे बड़े स्टार्स में से एक बन सकते हैं।

शुक्रवार, 31 जनवरी को ONE: FIRE AND FURY में डैनी अपने घरेलू फैंस के सामने “द हंटर” शे वेई का सामना करने वाले हैं।

पिछले साल शे वेई चीन के उभरते हुए सितारों में से एक साबित हुए थे और ONE Hero Series में उन्होंने 4 TKO जीत हासिल की थी। उसके बाद दिसंबर में ONE Warrior Series 9 में उन्होंने रॉकी बैकटोल को नॉकआउट किया था।

उन परिणामों ने दर्शा दिया है कि किंगडाओ से आने वाले 23 वर्षीय एथलीट के पास प्रतिभा की कोई कमी नहीं है लेकिन “द किंग” को इससे कोई परेशानी नहीं है। घबराहट के बजाय उनका ये मानना है कि मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में उन्हें अपनी स्किल्स को दर्शाने के लिए बहुत अच्छा मौका होगा।

Team Lakay के सुपरस्टार ने कहा, “मुझे लगता है कि अपनी स्ट्राइकिंग स्किल्स को दिखाने का बेहतरीन मौका है।”

“मुझे हमेशा अपनी स्ट्राइकिंग स्किल्स से लोगों को प्रभावित करने की भूख होती है, इसी वजह से मैं शे वेई जैसे एथलीट के साथ मैच को लेकर उत्साहित हूँ जो कभी अपने प्रतिद्वंदी से डरते नहीं हैं।”

ONE में शे वेई की सफलता के कारण Team Lakay मेंबर्स के लिए उनकी कमजोरियों को ढूंढ पाना वाकई में मुश्किल भरा काम है।

किंगड फिलहाल खुद पर अपना ध्यान केंद्रित किए हुए हैं और बुरी से बुरी स्थिति से भी गुजरने के लिए तैयार हैं। कोचों के साथ अच्छी रणनीति बनाकर वो आत्मविश्वास से भरे हुए हैं और उन्हें खुद पर विश्वास है कि वो इस साल की शुरुआत शानदार अंदाज में करेंगे।



उन्होंने माना, “जब मैंने रॉकी के साथ उनका मैच देखा तो वहाँ देखने के लिए ज्यादा कुछ नहीं था क्योंकि मैच 1 राउंड तक ही चल पाया था।”

“इसके बावजूद मैं उनका सामना करने के लिए तैयार हूँ, फिर चाहे वो स्ट्राइकिंग हो, रेसलिंग, ग्रैपलिंग या कुछ और। मुझे इस बात का बिल्कुल डर नहीं है कि हमारा मैच किस तरह समाप्त होगा क्योंकि मैं हर परिस्थिति के लिए तैयार हूँ।”

“मैं अपनी बॉडी को कठोर बना रहा हूँ जिससे मैं उनके अटैक को झेल सकूं। हमने एक गेम प्लान बनाया है और फिलहाल मैं उसे किसी के साथ साझा नहीं करना चाहता। मैं जानता हूँ कि अगर सब कुछ प्लान के मुताबिक रहा तो इससे मुझे जीत दर्ज करने में मदद मिलेगी।

“मेरा ध्यान इस बात पर केंद्रित नहीं है कि मुकाबला किस तरीके से समाप्त होगा। सबसे महत्वपूर्ण चीज ये है कि जब भी मैच समाप्ति की बैल बजे तो रेफरी मेरा हाथ ऊपर उठाए।”

किंगड के लिए एक अन्य मददगार चीज ये साबित होगी कि उन्हें अपने घरेलू फैंस का जबरदस्त समर्थन मिलने वाला है।

Filipino martial arts prodigy Danny Kingad gets ready for action

कुछ एथलीट्स अपने देशवासियों के सामने मुकाबला करने में ज्यादा दबाव महसूस करते हैं लेकिन “द किंग” को इस बात की ज्यादा चिंता नहीं है। इन्हीं फैंस के समर्थन ने उन्हें मॉल ऑफ एशिया एरीना में 6 में से 5 मुकाबले जिताए हैं, जिनमें रीस “लाइटनिंग” मैकलेरन के खिलाफ हार के मुंह से बाहर निकलकर हासिल की जीत भी शामिल है।

इसी कारण बागियो शहर से आने वाले डैनी एक बार फिर मनीला में छाने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, “मुझे एहसास हो रहा है कि इस मैच में मुझे लाभ ज्यादा और नुकसान कम होगा।”

“मैं साल की शुरुआत में ही अपने देशवासियों के सामने मुकाबले को लेकर बेहद उत्साहित हूँ। मुझे पता है कि वो हर बार की तरह मुझे अपना बेस्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करने वाले हैं।

“ये मेरा साल 2020 का पहला मैच होगा और खास बात ये है कि मुझे अपने घरेलू फैंस के सामने लड़ने का मौका मिल रहा है। जाहिर तौर पर ये मुकाबला मेरे लिए बेहद महत्वपूर्ण है और मैं सभी को वो चीजें दिखाने के लिए भी उत्साहित हूँ जो उन्होंने आज तक नहीं देखी हैं।”

Danny "The King" Kingad lands a takedown on Reece McLaren at ONE: DAWN OF HEROES

उनके समर्थक उनसे जीत की ही उम्मीद कर रहे होंगे। उनकी विनिंग स्ट्रीक पर दुनिया के सबसे बेहतरीन मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट्स में से एक डिमिट्रियस “माइटी माउस” जॉनसन ने कड़े मुकाबले में हराकर लगाम लगाई थी।

अब कुछ अच्छे मैचों के बाद उन्हें अनुभव भी हासिल हो गया है और किंगड जरूर साल की शुरुआत एक जीत के साथ करना चाहते हैं। इसी जीत से वो अपने करियर में नई ऊंचाइयों को छू सकेंगे।

उन्होंने कहा, “मैं ये साबित करना चाहता हूँ कि जो भी मेरे सामने आएगा, मैं उसे हारने का सामर्थ्य रखता हूँ।”

“ऐसे बहुत से लोग हैं जिनके साथ मैच चाहता हूँ क्योंकि ONE में काफी ऐसे एथलीट हैं जिन्हें बेस्ट इन द वर्ल्ड का दर्जा हासिल है। मैं किसी एक का नाम तो नहीं ले सकता लेकिन ये जरूर कहना चाहूंगा कि जो भी चुनौती देना चाहते हों सामने आएं।”

ये भी पढ़ें: कैसे गरीबी को पीछे छोड़ पेचडम ने अपने पिता के सपने को पूरा किया

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं