Muay Thai

अपने भाई-बहन की वजह से बड़ी स्टार बनी हैं अल्मा जुनिकु

सफल मार्शल आर्टिस्ट बनना कभी भी आसान नहीं होता और कई एथलीट ऐसे भी होते हैं जो इस सफर को पूरा भी नहीं कर पाते। लेकिन अल्मा जुनिकु को हमेशा से ही 2 करीबी व्यक्तियों का साथ मिलता आया है।

19 वर्षीय ऑस्ट्रेलियन एथलीट शुक्रवार, 31 जनवरी को ONE: FIRE AND FURY में रिंग में वापसी कर रही हैं और उनका सामना ऐनी “निंजा” लाइन होगस्टैड से होना है। उन्होंने करीब एक दशक पहले अपने भाई-बहन के साथ मॉय थाई की ट्रेनिंग की शुरुआत की थी और आज ये तीनों भाई-बहन प्रोफेशनल मॉय थाई एथलीट हैं।

अल्मा, उनके भाई एंडी और बहन अमेंडा जिनकी उम्र क्रमशः 21 और 20 साल है। सभी ने लोगान शहर के Modern Warrior Muay Thai में ट्रेनिंग शुरू की थी। उसके बाद से इन सभी ने एक-दूसरे को कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित किया है।

Alma Juniku at ONE: LEGENDARY QUEST

मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में अपने मैच से पहले अल्मा ने कहा है, “मुझे लगता है कि मेरे भाई-बहन ने मुझे बेहतर प्रदर्शन करने के लिए हमेशा प्रेरणा दी है और इसी चीज के साथ हम हमेशा आगे बढ़ते आए हैं।”

“हम सभी साथ हैं, जिम के साथ कनेक्शन और ट्रेनर भी जैसे एक परिवार का हिस्सा बन चुके हैं। इसी कारण हमें सीखने में और भी अधिक मदद मिली है।”

पड़ोस के एक दोस्त की सलाह पर एंडी सबसे पहले जिम गए थे। जब उनकी बहनें उन्हें ट्रेनिंग के बाद लेने जाती थीं तो उन्होंने दूसरी लड़कियों को ट्रेनिंग करते देखा और तभी उनके दिल में भी ट्रेनिंग की इच्छा पैदा हुई।

सबसे युवा होने के बाद भी अल्मा को सबसे पहले मैच मौका मिला था और 9 साल की उम्र में उन्होंने अपना पहला मुकाबला किया लेकिन एंडी और अमेंडा ने भी धीरे-धीरे रफ़्तार पकड़ ली।

भाई-बहन की ये तिकड़ी इस सफर में एकसाथ ही आगे बढ़ते रहे हैं और जिंदगी के अच्छे और बुरे दौर में एक-दूसरे की मदद भी करते आए हैं।



अल्मा ने कहा, “उनके साथ होने से जरूर मुझे मदद मिली है।”

“सभी को साथ में अनुभव हासिल हुआ है और सभी ने एक-दूसरे की मदद की है इसलिए ये सफर हमारे लिए काफी अच्छा साबित हुआ है। हमेशा किसी का सपोर्ट साथ रहना अच्छा होता है। कठिन परिस्थितियों में हमेशा लोग मेरा साथ देते आए हैं और याद दिलाते हैं कि मैं यहाँ क्या हासिल करने आई हूँ।”

हालांकि उन्होंने अपनी सबसे छोटी बहन को पीछे धकेलने की कभी कोशिश नहीं की। इतने अच्छे संबंध का मतलब है कि वो कभी भी एक दूसरे की मदद करने से कभी पीछे नहीं हटे हैं।

अल्मा का मानना है कि उनकी सफलता में उनके भाई एंडी का अहम योगदान रहा है।

Alma Juniku faces Stamp Fairtex

19 वर्षीय एथलीट ने कहा, “मेरे भाई हम दोनों बहनों पर सख्त रवैया अपनाते आए हैं इसलिए उनसे हमें हमेशा कुछ नया ही सीखने को मिलता आया है।”

“कभी-कभी उस सख्त रवैये का सामना करना कठिन होता है क्योंकि कभी-कभी आप बातें व्यक्तिगत रूप से लेते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। हम सभी एक-दूसरे की मदद की कोशिश कर रहे हैं लेकिन वो मेरे भाई हैं तो कभी-कभी मुझे बुरा जरूर लगता है।”

“लेकिन यही चीज मुझे अच्छा एथलीट बनाती है क्योंकि छोटी उम्र में उन्होंने मुझे बेहतर करने के लिए प्रेरित ना किया होता तो शायद आज मैं इस मुकाम पर ना पहुंच पाती।”

“जब मैं छोटी थी तो उस रवैये को झेलना बेहद कठिन था लेकिन अब मुझे एहसास हुआ है कि वो मेरी मदद करने की कोशिश कर रहे थे। कड़ी मेहनत अब रंग ला रही है और इसी मेहनत ने आज मुझे सफलता दिलाई है।”

हालांकि वो अभी भी अपनी किशोरावस्था से गुजर रही हैं, लेकिन इतनी छोटी सी उम्र में वो WBC और IPCC मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल अपने नाम कर चुकी हैं। इस तरह की उपलब्धियों ने उन्हें ONE में आने का मौका दिया जहाँ उन्हें पूरी दुनिया में नई पहचान मिल रही है।

इसके अलावा उन्होंने अपने भाई और बहन से एक बेहतरीन रिश्ता कायम कर लिया है। यदि वो इसी तरह एक-दूसरे की मदद करते रहे तो संभव ही तीनों को अपने करियर में अधिक सफलता प्राप्त हो सकेगी।

ONE Super Series atomweight Alma Juniku

अल्मा ने कहा, “थाई बॉक्सिंग ने जिम से बाहर की दुनिया में भी हमें और भी करीब ला दिया है। हम एक-दूसरे का साथ बहुत पसंद करते हैं और इसका श्रेय इस खेल को जाता है।”

“मेरे भाई-बहन हमेशा मेरे साथ रहे हैं और हम लगातार ट्रेनिंग कर रहे हैं, हम एक टीम की तरह हैं।”

ये भी पढ़ें: कैसे गरीबी को पीछे छोड़ पेचडम ने अपने पिता के सपने को पूरा किया

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं