किकबॉक्सिंग

कैपिटन पेटयिंडी एकेडमी: ‘मेरे पंच पेटटानोंग से ज्यादा तेज और दमदार हैं’

3 बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन कैपिटन पेटयिंडी एकेडमी अपना ONE Super Series डेब्यू करने वाले हैं, जहां उन्हें कम आंका जा सकता है। लेकिन ऐसी कई चीजें हैं, जिनकी मदद से वो जीत दर्ज करने में सफल हो सकते हैं।

इस शुक्रवार, 18 सितंबर ONE: A NEW BREED III के ONE Super Series किकबॉक्सिंग कॉन्टेस्ट में थाई स्टार का सामना अपने हमवतन एथलीट और प्रोमोशनल डेब्यू कर रहे पेटटानोंग पेटफर्गस से होने वाला है।

कैपिटन इससे पहले मॉय थाई में काफी सफलता हासिल कर चुके हैं, लेकिन किकबॉक्सिंग का खेल अभी उनके लिए नया है। दूसरी ओर, उनके 34 वर्षीय प्रतिद्वंदी को दुनिया के बेस्ट किकबॉक्सर्स में से एक माना जाता है।

Petchyindee Academy के स्टार ने कहा, “पेटटानोंग को मुझसे कहीं ज्यादा अनुभव प्राप्त है।”

“खासतौर पर किकबॉक्सिंग में उनका अनुभव मुझ पर भारी पड़ सकता है और उन्हें इस डिविजन के बेस्ट एथलीट्स में से एक माना जाता है। इसके अलावा मैं अपने पूरे करियर में केवल एक किकबॉक्सिंग बाउट का हिस्सा रहा हूं।”

34 वर्षीय पेटटानोंग 6 बार के मॉय थाई और किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन रहे हैं, जिसमें उनका शानदार रिकॉर्ड 356-55-1 का है। इस शानदार सफर में उन्होंने जोमथोंग चुवाटना, यांग झूओ और सर्गेई कुलयाबा जैसे नामी एथलीट्स को हराया हुआ है।



पेटटानोंग ना केवल किकबॉक्सिंग बैकग्राउंड से आते हैं, बल्कि उनकी स्किल्स शानदार हैं और शुक्रवार को होने वाले मैच में उन्हें अपने प्रतिद्वंदी से 5 सेंटीमीटर लंबे होने का भी फायदा मिलने वाला है।

लेकिन कैपिटन अपने हमवतन एथलीट से बिल्कुल भी डरने वाले नहीं हैं। 27 वर्षीय एथलीट को चाहे अपने प्रतिद्वंदी के मुकाबले किकबॉक्सिंग में कम अनुभव प्राप्त हो, लेकिन वो युवा होने और अपने हाथों की ताकत का भरपूर फायदा उठाने की कोशिश करेंगे।

Petchyindee Academy के स्टार ने कहा, “मुझे उनकी लंबाई की चिंता नहीं है और ये मेरे लिए कोई दिक्कत पैदा नहीं करने वाली। मुझे लगता है कि उन्हें ये बात जरूर सोचनी चाहिए कि मैं उम्र में उनसे 7 साल छोटा हूं।”

“मुझे लगता है कि मेरी बॉक्सिंग स्किल्स भी मुझे बढ़त दिलाने में मदद कर सकती हैं। इसलिए मेरे मूव्स उनसे तेज होंगे और मेरे पंचों में अधिक ताकत भी होगी।”

Capitan Petchyindee Academy fights Petchtanong Petchfergus at ONE: A NEW BREED III

इसके अलावा कैपिटन का करियर अभी तक शानदार रहा है। मॉय थाई स्टार का प्रोफेशनल रिकॉर्ड 140-40 का रहा है। उनकी दमदार बॉक्सिंग और किक्स उन्हें किकबॉक्सिंग में भी सफलता दिलाने में मदद कर सकती हैं।

इस बदलाव में उन्हें अपने कोच का साथ मिला है, जिन्होंने मई 2019 में पेचडम “द बेबी शार्क” पेटयिंडी एकेडमी को सबसे पहला ONE फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन बनने में मदद की थी।

कैपिटन ने अपने कोच के बारे में बताते हुए कहा, “वो मुझे अपने पंचों पर अधिक ध्यान देने के लिए प्रेरित करते हैं, जो मेरा सबसे बड़ा हथियार है।”

“दूसरे ट्रेनर कोंगपिपोप हैं, जो मुझे साउथपॉ (बाएं हाथ के) एथलीट्स के खिलाफ अच्छा गेम प्लान तैयार करने में मदद करते हैं।”

इन कोचों की मदद से कैपिटन शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन कर सभी को प्रभावित कर सकते हैं। अगर वो ऐसा करने में सफल रहते हैं तो बेंटमवेट किकबॉक्सिंग डिविजन को एक और वर्ल्ड-क्लास कंटेंडर मिल जाएगा।

ये भी पढ़ें: ONE: A NEW BREED III में स्टार्स के लिए क्या-क्या दांव पर लगा होगा