विशेष कहानियाँ

2019 की तीसरी तिमाही के शीर्ष 5 ONE वारियर सीरीज नॉकआउट

सितम्बर 30, 2019

ONE सुपर सीरीज ने 2019 की तीसरी तिमाही में रोमांचकारी मैच-अप और हाइलाइट-रील फिनिश की भरमार के साथ जमकर रोमांच पैदा किया है।

किकबॉक्सिंग और मॉय थाई रैंकों पर नए चेहरे थे जिन्होंने अपने प्रमोशन अभियान में बेहतरीन शुरुआत की और मार्शल आर्ट्स क्षेत्र के सबसे बड़े सितारों ने फिर से साबित किया कि आखिर उन्हें दुनिया का सर्वश्रेष्ठ क्यों कहा जाता है?

इसे ध्यान में रखते हुए प्रस्तुत हैं जुलाई, अगस्त और सितंबर 2019 में वन की ऑल-स्ट्राइक लीग के पांच सर्वश्रेष्ठ नॉकआउट।

रमाज़ानोव के तेज़ स्टार्ट ने टॉपिक को किया धराशाही

अलावर्दी रमज़ानोव “बेबीफेस किलर” ने जब अगस्त में थाईलैंड के बैंकॉक में ऑग्नजेन टॉपिक को पराजित किया तो उन्होंने The Home Of Martial Arts में सबसे तेज और खतरनाक फिनिश के लिए अपनी अलग पहचान बनाई।

रूसी ने ONE: DREAMS OF GOLD पर स्टॉपेज-हेवी के साथ अपने सर्बियाई-अमेरिकी प्रतिद्वंद्वी को पहले ही राउंड में तीन बार मैट गिराया तो उन्होंने बिल पर पहली नॉकआउट के साथ बॉल को सेट किया।

सबसे पहले “बेबीफेस किलर” ने टोपिक की किक पकड़ी और उन्हें दाहिने हाथ से क्लब करते हुए गिरा दिया। दूसरा नॉकडाउन एक शक्तिशाली क्रॉस-हुक संयोजन से मिला और रमजानोव ने अगले पंच के साथ बाउट पर अपनी मुहल लगा दी।

यह भी पढ़ें: अलावर्दी रमाज़ानोव का खुलासा कैसे उन्होंने एक और अद्भुत नॉकआउट रचा

“डॉक्टर” ने शानदार नॉकआउट के साथ हासिल किया फाइनल स्पॉट

ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री सेमीफाइनल ONE: DREAMS OF GOLD पर देर रात को हुआ और जियोर्जियो पेट्रोसियन “डॉक्टर” ने जो नटावट “स्मोकिन” पर एक-शॉट नॉकआउट के साथ सैमी सना “ऐके47” के खिलाफ टूर्नामेंट के फाइनल के लिए अपने टिकट पर पंच मारा।

स्थानीय हीरो जो नटावट अपनी हार्ड किक के साथ शुरुआत में बहुत आक्रामक थे, लेकिन एक गलत लो ब्लो ने एक्शन को बहुत छोटा कर दिया। बाउट एक बार फिर से शुरू हुई तो पेट्रोसियन ने आक्रामक रुख अपनाते हुए अपने सटीक मुक्केबाजी संयोजन के साथ लक्ष्य पर ध्यान केन्दि्रत कर दिया।

“डॉक्टर” ने अपने मजबूत पंचों के साथ दूरी का अनुमान लगाया और फिर थाई के गार्ड के माध्यम से उनके जबड़े पर एक सीधा पंच जड़कर उन्हें कैनवास पर चित कर दिया।

यह भी पढ़ें: नटावट पर चौंका देने वाले नॉकआउट के बाद जियोर्जियो पेट्रोसियन ने अब सना पर लगाया ध्यान

एनाहाचि ने पेचडम को फिनिश कर दुनिया को दिया झटका

पेचडम पेचैंडी अकादमी “द बेबी शार्क” ONE फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल के लिए अपनी दौड़ में अजेय दिख रही थे, लेकिन प्रमोशन के लिए आए नए फाइटर इलियास एनाहाचि ने थाई की गति को एक डरावने पड़ाव पर ला पटका।

डच-मोरक्कन ने बैंकॉक में ONE: DREAMS OF GOLD पर अपने घरेलू दर्शकों की भीड़ के सामने रिंग में प्रवेश किया, लेकिन उनका यह समर्थन भी चुनौती के संकल्प को कमजोर करने के लिए पर्याप्त नहीं था।

मुख्य इवेंट के तीसरे राउंड में नीदरलैंड के यूट्रेच्ट के 23 वर्षीय फाइटर ने बाएं हाथ के एक दमदार पंच से “द बेबी शार्क” को हिला कर रख दिया और वह गिर गए।

जब पेटचडम फिर से पैरों पर खड़े हुए तो एनाहाचि ने अपने पंचों की बौछार से उन्हें चकित कर दिया और दूसरी और अंतिम बार उसे कैनवास पर गिरा दिया। रैफरी ने तुरंत डच-मोरक्कन को उनकी पहली प्रमोशन जीत और ONE वर्ल्ड टाइटल देने के लिए बाउट को उनके पक्ष में दे दिया।

यह भी पढ़ें:  पेचडम पर नॉकआउट वर्ल्ड टाइटल जीत ने दर्शाई एन्नाहाची की प्रतिभा

मोमोटारो ने हासिल किया रिकॉर्ड-सेटिंग नॉकआउट

पिछले सितंबर में वियतनाम की हो ची मिन्ह सिटी में कोहेई कोडेरा “मोमोटारो” ने ONE: IMMORTAL TRIUMPH पर मॉय थाई लीजेंड सिंगटोंगनोई पोर टेलकुन को महज 41 सैकंड में ही फिनिश कर दिया।

इसके अलावा उन्होंने इस जीत से ONE सुपर सीरीज के सबसे तेज नॉकआउट के रिकॉर्ड को भी अपने नाम कर लिया। जापानी एथलीट ने अपने थाई विरोधी को लगातार हमलों से अचंभित कर दिया। इसके बाद उन्होंने अपने दमदार पंच व घुटने व कोहनी से हमले करते हुए उन पर दबाव बना लिया।

सिंगटोंगनाई ने अपना अनुभव काम में लेते हुए जवाबी हमले करने का प्रयास किया, लेकिन मोमोटारो का एक ताकतवर पंच सीधा उनकी ठोडी पर आकर लगा और वह कैनवास पर धराशाही हो गए।

यह भी पढ़ें:  सिंगटोंगनोई पर मिली रिकॉर्ड तोड़ जीत ने मोमोटारो को किया चकित

दुय नहट ने साबित किया कि वह है वियतनाम का “नंबर 1”

गृहनगर के पसंदीदा हीरो गुयेन ट्रान दुय नजट “नंबर 1” ने जब हो ची मिन्ह सिटी में अजवान चे विल पर फिनिश के जरिए जीत हासिल की तो पूरा फू थो इंडोर स्टेडियम दर्शकों के शोर से गूंज उठा।

दुय नहट ने ONE: IMMORTAL TRIUMPH पर ग्राउंडब्रेकिंग कार्ड पर उस समय सबसे बड़ी प्रतिक्रिया दी, जब उन्होंने अपनी फ्लाइवेट मॉय थाई बाउट के अंतिम राउंड में अपने मलेशियाई प्रतिद्वंद्वी को हरा दिया।

अज़वान ने बाएं हुक से हमला करने की योजना बनाई, लेकिन जैसे ही वियतनामी स्ट्राइकर ने बड़े पैमाने पर ओवरहैंड दाएं के साथ आगे बढ़ाया और अपने विरोधी की ठोड़ी पर शक्तिशाली पंचों की बारिश कर दी। उनके इस प्रयास ने कुआलालंपुर के फाइटर को बाउट से बाहर कर दिया।

यह भी पढ़ें:  गुयेन ट्रान दुय नहट ने तीसरे राउंड के नॉकआउट के साथ स्थानीय दर्शकों को किया रोमांचित