न्यूज़

मालिकिन के खिलाफ जीत के बाद मशाडो को वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच मिलने की उम्मीद

मार्च 3, 2021

अलेक्सांद्रे “बेबेज़ाओ” मशाडो का मानना है कि ONE: FISTS OF FURY II में एक बड़ी जीत के बाद उन्हें ONE हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच मिलना चाहिए।

इस शुक्रवार ब्राजीलियाई स्टार का सामना मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स मुकाबले में अपराजित रूसी एथलीट एनातोली “स्पार्तक” मालिकिन से होगा और ONE मैचमेकर्स के सामने साबित करना चाहेंगे कि अब वो वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच के लिए तैयार हैं।

मशाडो ने कहा, “मैंने अपनी स्किल्स में सुधार किया है इसलिए वापसी करने को लेकर उत्साहित हूं। मैं इस मैच में जीत दर्ज करने के बाद वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच चाहता हूं।”

ब्राजीलियन जिउ-जित्सु ब्लैक बेल्ट होल्डर ONE के हेवीवेट डिविजन में तकनीकी नॉकआउट से 2 जीत दर्ज कर चुके हैं। ONE: CONQUEST OF CHAMPIONS में हिडेकी “श्रेक” सकीने के खिलाफ मैच में वो बहुत अच्छी शेप में नजर आए।

अगर “बेबेज़ाओ”, मालिकिन को हराने वाले पहले एथलीट बने तो जरूर उन्हें ब्रेंडन “द ट्रुथ” वेरा के खिलाफ ONE हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच मिलने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

ONE के हेवीवेट डिविजन में कई प्रतिभाशाली एथलीट्स मौजूद हैं। इसलिए पूर्व ONE लाइट हेवीवेट वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर इस डिविजन के उज्जवल भविष्य को लेकर उत्साहित हैं और चैंपियन भी बनना चाहते हैं।

मशाडो ने कहा, “डिविजन में ज्यादा फाइटर्स होना अच्छा ही है क्योंकि हमें ज्यादा मैच मिल सकेंगे।”

“मैं इस जीत से अन्य हेवीवेट स्टार्स को दिखा पाऊंगा कि मैं ही बेस्ट हूं और वर्ल्ड टाइटल शॉट का टॉप कंटेंडर भी हूं।”



ब्राजीलियाई एथलीट का मानना है कि मालिकिन को शारीरिक ताकत में मात देना आसान नहीं होगा। लेकिन उनका मानना है कि टॉप लेवल के मैचों का हिस्सा बनने का अनुभव उनके लिए फायदेमंद होगा।

“बेबेज़ाओ” अभी तक आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग और एलन “द पैंथर” गलानी जैसे बड़े सुपरस्टार्स के साथ सर्कल को साझा कर चुके हैं, अब उन्हें Tiger Muay Thai के मेंबर की ताकत से भी कोई घबराहट महसूस नहीं हो रही है।

उन्होंने कहा, “मालिकिन बहुत ताकतवर हैं और उनकी स्ट्राइक्स बहुत प्रभावशाली होती हैं। सभी रूसी फाइटर्स ऐसे ही होते हैं। वो आसानी से हार नहीं मानते, लेकिन मैं इस बड़ी चुनौती के लिए तैयार हूं।”

“उनका रिकॉर्ड मेरे लिए बड़ी समस्या नहीं है क्योंकि उन्होंने छोटी लीगों में ज्यादा परफॉर्म किया है। वहीं मुझे बड़ी लीगों का अनुभव प्राप्त है।

“अभी तक उनका सामना टॉप एवल के एथलीट से नहीं हुआ है, लेकिन मैं कड़ी चुनौतियों को पार कर यहां पहुंचा हूं।”

2018 में “द बर्मीज़ पाइथन” को हराकर मशाडो के पास ONE वर्ल्ड चैंपियन बनने का मौका था और अब वो एक बार फिर चैंपियनशिप मैच प्राप्त करने के लिए प्रतिबद्धता से आगे बढ़ रहे हैं।

38 वर्षीय Peru FC हेवीवेट चैंपियन ने अपनी 9 में से 8 जीत अपने प्रतिद्वंदियों को फिनिश कर हासिल की हैं, जिनमें 4 सबमिशन और 4 नॉकआउट जीत शामिल हैं।

ONE करियर में वो कड़ी चुनौतियों का सामना करते आए हैं और वही अनुभव अब उन्हें “स्पार्तक” के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित कर रहा है।

मशाडो ने कहा, “इस मैच में अनुभव ही मुझे सबसे ज्यादा फायदा पहुंचा सकता है।”

“अगर वो स्टैंड-अप गेम में रहने की कोशिश करेंगे तो मैं उन्हें टेकडाउन करूंगा। वहीं अगर वो मुझे टेकडाउन करने की कोशिश करेंगे तो मैं स्टैंड-अप गेम में उन्हें क्षति पहुंचाऊंगा।”

ये भी पढ़ें: ONE: FISTS OF FURY की टॉप फाइट हाइलाइट्स

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.