मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

डिमिट्रियस जॉनसन ने बताया साल 2020 का अपना सबसे बड़ा लक्ष्य

महान फ़्लाइवेट मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट डिमिट्रियस जॉनसन “माइटी माउस” ने इस साल अपने ONE Championship करियर की धमाकेदार अंदाज में शुरुआत की थी और आगे भी वो भविष्य में भी इसी तरह सफलता हासिल करते रहना चाहते हैं।

???? ONE FLYWEIGHT WORLD GRAND PRIX CHAMPION ????

???? ONE FLYWEIGHT WORLD GRAND PRIX CHAMPION ????"Mighty Mouse" Johnson claims the inaugural tournament crown with an awesome performance against a game Danny Kingad!????: Check local listings for global broadcast details????: Watch on the ONE Super App ???? http://bit.ly/ONESuperApp????: Shop Official Merchandise ???? http://bit.ly/ONECShop

Posted by ONE Championship on Saturday, 12 October 2019

साल 2019 में अमेरिकी एथलीट ने 3 मुकाबलों में 3 जीत दर्ज की हैं और इसी बीच वो ONE फ़्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियन भी बने और अब साल 2020 के लिए उन्होंने फ़्लाइवेट डिविजन के वर्ल्ड चैंपियन एड्रियानो मोरेस “मिकीन्यो” के खिलाफ टाइटल शॉट भी हासिल कर लिया है।

अब अगले साल के लिए उनका लक्ष्य केवल ब्राजीलियन सबमिशन स्पेशलिस्ट एड्रियानो को हराने का नहीं है।

उन्होंने बताया, “साल 2020 में मैं केवल सफलता हासिल करना चाहता हूँ फिर चाहे वो एड्रियानो मोरेस को हराकर फ़्लाइवेट बेल्ट जीतने से मिले या फिर किसी अन्य तरीके से।”

“सफलता ही मेरा लक्ष्य है और एक एथलीट होने के नाते, बिजनेसमैन होने के नाते या फिर लोग मुझे जिस भी तरीके से देखते हैं, सफलता ही मेरे लिए सबसे अधिक मायने रखती है।

“उसी तरह चाहे साल 2021 हो, 2022 हो या फिर 2023, मैं लगातार मैच जीतकर सफल होना चाहता हूँ, सुर्ख़ियों में बने रहना चाहता हूँ और खुद की वैल्यू बढ़ाना ही साल 2020 के लिए मेरे सबसे बड़ा लक्ष्य है।”

American superstar Demetrious Johnson walks to the Circle for his ONE debut

ONE फ़्लाइवेट वर्ल्ड ग्रां प्री के व्यस्त शेड्यूल के कारण साल 2019 में जॉनसन को 2013 के बाद पहली बार एक साल में 3 मैचों का हिस्सा बनना पड़ा था। वाशिंगटन के रहने वाले इस एथलीट के लिए ये थोड़ा थकाऊ साल रहा।

33 वर्षीय एथलीट की पहली प्राथमिकता ये है कि वो किसी तरह अपनी बॉडी को अच्छी शेप में रख सकें, जिससे वो उच्च स्तरीय मुकाबलों में अच्छा प्रदर्शन कर सकें।

अब जब उन्होंने ग्लोबल स्टेज पर पहली बेल्ट जीत ली है तो अब 2020 में वो इसका पूरा फायदा उठा सकते हैं।

उन्होंने कहा, “मेरे लिए, अगर मैं 2019 में टॉप पर रहना चाहता तो लक्ष्य ये होता कि मैचों में बिना चोटिल हुए जीत मिलती रहे। मैं लड़ना चाहता हूँ लेकिन एक साल में 3 मैच होना ज्यादा है लेकिन किसी तरह मैं इस व्यस्त कार्यक्रम को पीछे छोड़ने में सफल रहा।”

“मैं जल्दी-जल्दी मैच लड़ने की स्थिति में नहीं हूँ या जितने भी मैच मिलेंगे उतने लड़ सकूं। ये टूर्नामेंट था इसलिए हमें इस व्यस्त कार्यक्रम से गुजरना ही था लेकिन ये साल अलग होने वाला है।”



“माइटी माउस” मैचों की संख्या से ज्यादा अच्छे मैचों पर ज्यादा ध्यान देने हैं। अमेरिकी स्टार को पहले ही महान एथलीट का दर्जा प्राप्त है और उन्हें लगता है कि वो अभी भी अच्छे मैच लड़ने में सक्षम हैं और एशियाई फैंस के सामने अच्छा परफॉर्मेंस करना चाहते हैं।

यहाँ तक कि वो एक देश पर ज्यादा ध्यान केंद्रित किए हुए हैं।

उन्होंने कहा, “मैं जाहिर तौर पर सिंगापुर में मुकाबला करना चाहता हूँ। ये मुकाबले के लिए अच्छी जगह है और पहले भी मैं यहां कुछ इवेंट्स का हिस्सा बन चुका हूँ।”

जॉनसन का प्रदर्शन वास्तव में काफी शानदार रहा है। मानसिक रूप से मजबूत होना और परख उन्हें दूसरे एथलीट्स से अलग साबित करती है। इसलिए इतने लंबे समय तक वो टॉप पर बने रहे हैं और कोई दूसरा एथलीट उन्हें टॉप लेवल से नीचे लाने में अभी तक असफल ही साबित हुआ है। ये सबसे बड़ा कारण है कि वो अभी भी वर्ल्ड चैंपियनशिप के प्रबल दावेदारों में से एक हैं।

अगले साल जब वो सर्कल में उतरेंगे तो जरूर ये उनके ONE Championship करियर का सबसे कठिन दौर साबित होने वाला है फिर चाहे हम शारीरिक मजबूती की बात करें या मानसिक मजबूती की। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए वो अपने अनुभव को बढ़ाते रहेंगे और कोइ जल्दबाजी नहीं करेंगे।

American star Demetrious Johnson celebrates his ONE Flyweight World Grand Prix Championship Final win

उन्होंने कहा, “फिलहाल, मेरा ध्यान फिट रहने पर है। ये सब मेरे शरीर पर समर्पित है और मैं कैसा महसूस करता हूँ।”

“जब आप इतने लंबे समय से एक ही चीज को करते आ रहे हैं तो आपको कई ऐसे एथलीट मिलते हैं जो कहते हैं कि मुझे वर्ल्ड चैंपियन बनना है। मुझे केवल सफलता चाहिए।”

“मैं लंबे समय तक चैंपियन रहा हूँ, हाल ही में वर्ल्ड ग्रां प्री जीती है। अभी तक ONE फ़्लाइवेट बेल्ट नहीं जीती है लेकिन मेरा आखिरी लक्ष्य वो नहीं है। मुझे साल दर साल अधिक से अधिक सफलता हासिल करनी है और ये मेरा आखिरी लक्ष्य है।”

ये भी पढ़ें: स्टैम्प फेयरटेक्स का साल 2019: इतिहास रचा, नए चैलेंज की ओर कामयाबी से बढ़ाए कदम

ONE Championship के साल 2020 के पहले लाइव इवेंट ONE: A NEW TOMORROW के लिए हो जाइए तैयार!

बैंकॉक | 10 जनवरी | टिकेट्सClick here  |  TV: भारत में दोपहर 3:30 बजे से देखें