मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

जिओंग Vs. निकोलिनी: वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में जीत के 4 तरीके

सितंबर 1, 2021

“द पांडा” जिओंग जिंग नान और मिशेल निकोलिनी के स्ट्राइकर vs. ग्रैपलर मैच में बहुत कुछ दांव पर लगा होगा और दोनों ने इस खेल में अपार सफलता हासिल की है।

शुक्रवार, 3 सितंबर को ONE: EMPOWER में दोनों के बीच ONE विमेंस स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल फाइट होगी। एक तरफ डिफेंडिंग चैंपियन जिओंग का बॉक्सिंग गेम होगा, वहीं दूसरी ओर निकोलिनी की ब्राजीलियन जिउ-जित्सु स्किल्स।

लेकिन एक मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स बाउट में कुछ भी संभव है इसलिए अगर उन्हें चैंपियन बनना है तो हर तरह की स्थिति के लिए तैयार रहना होगा।

यहां जानिए ये वर्ल्ड टाइटल फाइट किन 4 तरीकों से समाप्त हो सकती है।

#1 निकोलिनी का शुरुआती आक्रामक गेम

Eight-time Brazilian Jiu-Jitsu World Champion Michelle Nicolini gets the armbar

निकोलिनी के लिए यही बेहतर होगा कि वो शुरुआत में “द पांडा” पर बढ़त बनाने की कोशिश करें।

ठीक उसी तरह जिस तरह उन्होंने “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली को हराने के लिए किया था। 13 बार की BJJ वर्ल्ड चैंपियन को अपनी विरोधी के मूव्स को ब्लॉक करते हुए अटैक करना होगा।

ब्राजीलियाई एथलीट की MMA में पहली 5 जीत पहले राउंड में सबमिशन से आई थीं इसलिए इस मैच में भी वो शुरुआत से ही दबाव बनाकर जिओंग पर भारी पड़ सकती हैं।

अगर वो शुरुआत में डबल या सिंगल-लेग टेकडाउन कर पाईं तो 39 वर्षीय स्टार ग्राउंड गेम में बाउट को जल्द से जल्द फिनिश करने के मौके तलाश सकती हैं। अक्सर वो अपनी विरोधी के बहुत करीब रहकर उन्हें अटैक करने का मौका नहीं देतीं।

निकोलिनी को केवल एक बार जजों के निर्णय से जीत मिली है। वहीं जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ता है, टेकडाउन कर पाना उतना ही मुश्किल हो जाता है इसलिए उन्हें शुरुआत में टेकडाउन करने की कोशिश करनी होगी। खासतौर पर ऐसी प्रतिद्वंदी के खिलाफ जिन्हें 5 राउंड्स के मुकाबलों का काफी अच्छा अनुभव है।

#2 जिओंग का धैर्य और चैंपियनशिप मैचों का अनुभव

“द पांडा” के पिछले 5 में से 4 मुकाबले आखिरी राउंड तक चले हैं इसलिए जाहिर तौर पर उनकी कन्डीशनिंग बहुत अच्छी है और अपनी प्रतिद्वंदियों की थकान का पूरा फायदा उठाना जानती हैं।

33 वर्षीय चीनी एथलीट अगर पहले राउंड्स में पिछड़ने भी लगीं तो उन्हें वापसी करने की जल्दबाजी करने से बचना होगा। ऐसा करने से निकोलिनी को क्लिंच करने और टेकडाउन स्कोर करने में आसानी हो सकती है।

लेकिन ब्राजीलियाई एथलीट टिफनी “नो चिल” टियो के खिलाफ अच्छी शुरुआत के बाद पिछड़ने लगी थीं। इस बार उन्हें 25 मिनट तक फाइट करनी पड़ सकती है और जिओंग अपनी ताकत का पूरा फायदा उठाने की कोशिश करेंगी और ऐसा करने में उन्हें तब आसानी होगी अगर वो बाउट को अंतिम राउंड्स तक खींच ले जाएं।

“द पांडा” का गेम आमतौर पर आक्रामक होता है, अगर वो अपने शानदार फुटवर्क की मदद से अपनी विरोधी के टेकडाउन के प्रयासों को विफल कर पाईं तो चैंपियनशिप राउंड्स में उन्हें मैच को फिनिश करने के कई मौके मिल सकते हैं।



#3 निकोलिनी के गार्ड पुल्स

निकोलिनी को जिओंग के खिलाफ अपने हर एक मूव को सटीक तरीके से लगाना होगा। Evolve टीम की स्टार पर पकड़ बनाने के लिए उन्हें कई दमदार स्ट्राइक्स का प्रभाव भी झेलना पड़ता सकता है, अगर वो पकड़ नहीं बना पाईं तो उनकी हार की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

हालांकि उन्हें टॉप पोजिशन में रहना पसंद है, लेकिन चीनी स्ट्राइकर के खिलाफ स्टैंड-अप गेम में रहने के बजाय वो अपनी विरोधी के नीचे रहकर अटैक करने को ज्यादा तवज्जो देंगी।

ब्राजीलियाई एथलीट एक बार फिर ऐसा करने  में संकोच नहीं करेंगी। कुछ ऐसा ही उन्होंने ली के खिलाफ किया था, जहां उन्होंने स्वीप और लेग लॉक्स का शानदार तरीके से इस्तेमाल किया था।

वहीं ThaiUnit टीम की एथलीट गार्ड पोजिशन में रहकर खतरनाक सबमिशन मूव लगा सकती हैं। अपने करियर में निकोलिनी टॉप लेवल के BJJ एथलीट्स को ट्रायंगल, टो-होल्ड्स और आर्मबार लगाकर भी जीत हासिल कर चुकी हैं। इसलिए जितनी देर तक निकोलिनी गार्ड पोजिशन में रहेंगी, जिओंग की मुश्किलें उतनी ही बढ़ती चली जाएंगी।

जिओंग जिंग नान के ताकतवर पंच

Xiong Jing Nan fights Tiffany Teo in a ONE Women’s Strawweight World Title rematch at ONE: INSIDE THE MATRIX on Friday, 30 October

“द पांडा” के हाथ उनके सबसे बड़े हथियार हैं और पंच लगाने के दौरान उन्हें सावधान भी रहना होगा।

ऐसा इसलिए क्योंकि निकोलिनी ने उनकी किक को पकड़ा तो जिओंग ग्राउंड गेम में जाने को मजबूर हो जाएंगी।

इसलिए चीनी नॉकआउट आर्टिस्ट को अपने जैब की मदद से निकोलिनी को बैकफुट पर रखने की कोशिश करनी होगी। दूर रहकर दमदार अटैक होगा और अपनी विरोधी के करीब आकर एकसाथ कई स्ट्राइक्स लगाने के बजाय उन्हें अच्छी मूवमेंट करते हुए शॉट्स को लैंड कराने पर ध्यान देना होगा।

अगर वो निकोलिनी को खुद से दूर रख पाईं तो ब्राजीलियाई एथलीट टेकडाउन करने के लिए आगे आने पर मजबूर हो जाएंगी। इस समय जिओंग को अपने दमदार अपरकट्स और हुक्स लगाने के लिए पहले से तैयार रहना होगा।

अपनी विरोधी की थकान को देखते हुए जिओंग आक्रामक रुख अपना सकती हैं क्योंकि वो पहले भी दिखा चुकी हैं कि पांचवें राउंड में भी उनके पास मैच को फिनिश करने की पावर बची होती है।

ये भी पढ़ें: ONE: EMPOWER की फीमेल स्टार्स द्वारा किए गए 5 सबसे शानदार फिनिश

और लोड करें

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.
By submitting this form, you are agreeing to our collection, use and disclosure of your information under our Privacy Policy. You may unsubscribe from these communications at any time.