विशेष कहानियाँ

5 चीजें जो हमें ONE: FIRE & FURY से सीखने को मिलीं

31 जनवरी को ONE Championship की मनीला में वापसी हुई और वहाँ हमें एक यादगार इवेंट देखने को मिला जहाँ दुनिया के बड़े मार्शल आर्टिस्ट्स ने अपना बेस्ट प्रदर्शन किया।

ONE: FIRE & FURY में एथलीट्स ने नई ऊंचाइयों को छुआ और साबित किया कि भविष्य में वो ONE में और भी बड़े लेवल पर पहुंचने के लिए तैयार हैं।

इस आर्टिकल में हम उन 5 चीजों पर चर्चा करने वाले हैं जो हमें ONE: FIRE & FURY से सीखने को मिलीं।

#1 पैचीओ, इतिहास के सबसे बेस्ट स्ट्रॉवेट चैंपियन हैं

ONE Strawweight World Champion Joshua PAcio after his win against Alex Silva

एलेक्स “लिटल रॉक” सिल्वा के खिलाफ 5 राउंड के शानदार मुकाबले के बाद जोशुआ “द पैशन” पैचीओ अभी भी स्ट्रॉवेट डिविजन के टॉप पर विराजमान हैं।

इस जीत के साथ Team Lakay के स्टार ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल को 2 बार डिफेंड करने वाले पहले एथलीट बन गए हैं। अब वो उस हर एथलीट के खिलाफ भी जीत दर्ज कर चुके हैं जो उनसे पहले चैंपियन रहे, जिनमें से 2 से वो पुरानी हार का बदला लेने में भी सफल रहे। इसका मतलब ये है कि फिलहाल के लिए उनके टाइटल के लिए कोई भी अपना दावा पेश नहीं कर सकता।

इसके अलावा पैचीओ अभी तक इस डिविजन के सबसे युवा चैंपियन हैं, इसका मतलब ये है कि अगर उनका सामना उन्हीं एथलीट्स के साथ दोबारा होता है तो उन्हें कम उम्र का लाभ मिल सकता है।

सिल्वा के खिलाफ चैंपियनशिप राउंड्स में उन्हें युवा होने का पूरा लाभ मिला था और अभी तो उनका करियर चरम पर नहीं है। यानी अनुभव के साथ उन्हें अपनी स्किल्स में अभी और भी सुधार करने हैं वहीँ अन्य एथलीट उस लेवल पर बने रहने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि बागियो शहर से आने वाले 24 वर्षीय चैंपियन को हराने के लिए अन्य सुपरस्टार्स को लंबा इंतज़ार करना होगा।

#2 Team Lakay की नई जनरेशन जिम्मेदारी संभालने को तैयार है

The Philippines' Gina Iniong punches Asha Roka on the ground

ONE की शुरुआत के बाद से एडुअर्ड “लैंडस्लाइड” फोलायंग, केविन “द सायलेन्सर” बेलिंगोन, जेहे “ग्रैविटी” युस्ताकियो और होनोरियो “द रॉक” बानारियो ही Team Lakay का भार अपने कंधों पर संभालते हुए आए हैं और इस दौरान वो वर्ल्ड चैंपियन भी बने।

हालांकि, इनके पास अभी भी कुछ सालों का करियर बचा हुआ है लेकिन अभी से इस जिम के नए स्टार्स अगले एक दशक की नींव रख रहे हैं और जिम्मेदारियों को भी समझ पा रहे हैं।

पैचीओ पहले ही टॉप पर पहुंच चुके हैं और उनके ट्रेनिंग पार्टनर डैनी “द किंग” किंगड भी अभी केवल 24 साल के हैं। उन्होंने “द हंटर” शी वेई को ना केवल हराया बल्कि उनकी विनिंग स्ट्रीक को भी थामते हुए दर्शा दिया है कि वो फ़्लाइवेट डिविजन के टॉप पर पहुंचने का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं।

लीड कार्ड में लिटो “थंडर किड” आदिवांग ने फैंस को एक बार फिर सोचने पर मजबूर कर दिया है कि ग्लोबल स्टेज पर भविष्य में वो कुछ बड़ा हासिल करने वाले हैं। ONE Warrior Series से मेन रोस्टर का कॉन्ट्रैक्ट मिलने के बाद वो सर्कल में लगातार दूसरी जीत दर्ज करने में सफल रहे और इसके साथ उनकी विनिंग स्ट्रीक अब 7 मैचों पर पहुंच गई है। केवल 26 साल की उम्र में वो स्ट्रॉवेट डिविजन में पैचीओ को कड़ी चुनौती दे सकते हैं।

इनके अलावा जीना “कंविक्शन” इनियोंग, जिनके पास मार्शल आर्ट्स का काफी अनुभव है लेकिन अभी भी वो ONE में अपने शुरुआती चरण से गुजर रही हैं। आशा “नॉकआउट क्वीन” रोका के खिलाफ उन्होंने लगातार दूसरी धमाकेदार जीत दर्ज की और ONE विमेंस एटमवेट डिविजन में ये उनकी कुल पांचवीं जीत रही, इस मामले में उन्होंने “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली की बराबरी कर ली है।

यदि वो इस स्ट्रीक को जारी रखने में सफल रहती हैं तो उन्हें संभव ही भविष्य में ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड चैंपियन के खिलाफ मैच मिल सकता है।

#3 पेचडम अपनी लय में वापस लौट आए हैं

Petchdam Petchyindee Academy defeats Momotaro in the Philippines

“द बेबी शार्क” पेचडम पेटयिंडी एकेडमी चाहे पिछले साल ONE किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल जीतने में सफल रहे हों लेकिन वो मॉय थाई में ज्यादा अच्छा महसूस करते हैं।

यहाँ तक कि जब मोमोटारो ने उनपर दबाव बनाया तो उन्होंने दर्शा दिया कि वो मैच में वापसी के लिए अपनी वर्ल्ड-क्लास स्किल्स पर भरोसा जता कर जजों के स्कोरकार्ड्स में बढ़त हासिल कर सकते हैं।

हर बार की तरह इस बार भी उनके लेफ्ट किक ने उन्हें काफी फायदा पहुंचाया लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा फायदा तब पहुंचा जब उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी के पंचिंग कॉम्बिनेशन को काउंटर करते हुए एल्बो और नी लगाईं।

हालांकि बैंकॉक से आने वाले इस KO स्पेशलिस्ट को किसी भी मैच से दूर रखना सही फैसला नहीं होगा। असल में वो मॉय थाई नियमों के अंतर्गत ही अपना सबसे बेस्ट प्रदर्शन कर पाते हैं।

#4 साटो की क्लास दूसरों से अलग है

Japan's Shoko Sato locks in the rear-naked choke on Kwon Won Il

शोको साटो अभी तक ONE बेंटमवेट डिविजन में 3 टॉप-क्लास कंटेंडर्स का सामना कर चुके हैं और उन्होंने तीनों के खिलाफ ही जीत हासिल की है।

उनकी हालिया जीत “प्रीटी बॉय” क्वोन वोन इल के खिलाफ आई जो उनकी अभी तक की सबसे शानदार जीत रही। क्योंकि 31 वर्षीय जापानी स्टार ने अपने प्रतिद्वंदी के खतरनाक राइट हैंड से खुद को बचाया, उन्हें नीचे गिराया और चोक लगाकर उन्हें टैप आउट करने पर मजबूर भी किया। इतना सब कुछ करने के लिए उन्हें केवल 4 मिनट से कुछ सेकेंड ज्यादा का समय लगा।

उभरते हुए सितारों से साटो को अभी तक कड़ी चुनौती मिली है लेकिन जब भी वो पूरी फॉर्म में होते हैं तो हर बार उन्होंने अपनी क्लास से धमाकेदार अंदाज में जीत दर्ज की हैं जो दर्शाता है कि वो टॉप दर्जे के एथलीट हैं।

उन्होंने ग्लोबल स्टेज पर Shooto बेंटमवेट वर्ल्ड चैंपियन के रूप में कदम रखा था और शायद अब समय आ गया है कि वो ONE बेंटमवेट वर्ल्ड टाइटल के लिए बिबियानो “द फ़्लैश” फर्नांडीस को चैलेंज करें।

#5 होगस्टैड, स्टैम्प को कड़ी चुनौती दे सकती हैं

Anne Line Hogstat defeats Alma Juniku

अल्मा जुनिकु ने जब अपने ONE Super Series डेब्यू मुकाबले में ONE एटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन स्टैम्प फेयरटेक्स को 5 राउंड तक जीत के लिए संघर्ष कराया तो लगने लगा था कि उन्हें हरा पाना आसान नहीं है।

ऐनी “निंजा” लाइन होगस्टैड के खिलाफ मैच की शुरुआत में वो उम्मीदों पर खरी उतरीं लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ा जुनिकु की ताकत कमजोर पड़ती जा रही थी। होगस्टैड ने आखिरी राउंड में अपना बेस्ट प्रदर्शन करते हुए जजों के स्कोरकार्ड्स पर बढ़त बनाई।

2 बार की ISKA मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन होने के चलते होगस्टैड अच्छी तरह वाकिफ हैं कि जब वर्ल्ड टाइटल दांव पर लगा होता है तो उन्हें क्या करना है। इसलिए अब उन्होंने ONE में पहली जीत से दर्शा दिया है कि वो स्टैम्प के लिए कड़ा चैलेंज पेश कर सकती हैं।

ये भी पढ़ें: ONE: FIRE & FURY – रिजल्ट्स और हाइलाइट्स, पैचीओ Vs. सिल्वा

जकार्ता | 7 फरवरी | ONE: WARRIOR’S CODE | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं