किकबॉक्सिंग

अकिमोटो के खिलाफ चीनी एथलीट्स की ताकत का परिचय करवाना चाहते हैं झांग चेंगलोंग

अक्टूबर 13, 2020

“मॉय थाई बॉय” झांग चेंगलोंग हमेशा से दुनिया को ये दिखाना चाहते रहे हैं कि चीनी मार्शल आर्टिस्ट्स को हरा पाना बिल्कुल भी आसान नहीं है।

#3-रैंक के बेंटमवेट किकबॉक्सिंग कंटेंडर 16 अक्टूबर को ONE: REIGN OF DYNASTIES II में जापानी स्टार हिरोकी अकिमोटो का सामना करने वाले हैं।

22 वर्षीय स्टार अकिमोटो की कड़ी परीक्षा लेने वाले हैं। अकिमोटो WFKO कराटे वर्ल्ड चैंपियन रहे हैं, जिनका प्रोफेशनल किकबॉक्सिंग रिकॉर्ड 21-1 का है। इसलिए “मॉय थाई बॉय” अपने अगले मैच के लिए उन चीजों पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं, जो उन्हें जीतने में मदद कर सकती हैं।

झांग ने कहा, “हर एक मैच में फिजिकल फिटनेस बहुत जरूरी होती है। जीतने के बारे में एक एथलीट तभी सोच सकता है, जब वो फिट महसूस कर रहा हो। दूसरी महत्वपूर्ण चीज बॉक्सिंग है।”

इन्हीं 2 चीजों की मदद से “मॉय थाई बॉय” The Home Of Martial Arts में लगातार 3 मैचों में जीत दर्ज कर पाए हैं।

फरवरी 2019 में उन्हें ONE: CALL TO GREATNESS में कोंग सैम्बो पर विभाजित निर्णय से जीत मिली थी। उस मैच में जीत बॉक्सिंग और कार्डियो पर निर्भर रही क्योंकि झांग कभी बैकफुट पर गए ही नहीं और लगातार कोंग को राइट जैब्स और स्ट्रेट लेफ्ट्स लगा रहे थे।

उसके 3 महीने बाद ONE: WARRIORS OF LIGHT में पेनिकोस यूसुफ को सर्वसम्मत निर्णय से हराया। हालांकि, शुरुआती 2 राउंड्स में साइप्रस के स्टार आक्रामक रुख अपनाए हुए थे, लेकिन अंतिम राउंड में झांग ने उन्हें 2 बार नॉकडाउन किया और अंत में जजों ने उन्हीं के पक्ष में फैसला सुनाया।

चीनी एथलीट की सबसे आकर्षक जीत जून 2019 में ONE: LEGENDARY QUEST में आई, जब उन्होंने टायलर हार्डकासल को दमदार राइट हैंड लगाकर नॉकआउट कर दिया था। इसके प्रभाव ने टायलर को झकझोर कर रख दिया था।

Zhang Chenglong goes for the knockout blow

लेकिन ONE Super Series करियर की शुरुआत 3-0 के रिकॉर्ड के साथ करने के बाद झांग का सामना ONE: MARK OF GREATNESS में अपने सबसे कठिन प्रतिद्वंदी से हुआ। वहां उन्हें सबसे पहले ONE बेंटमवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप मुकाबले में अलावेर्दी “बेबीफेस किलर” रामज़ानोव के खिलाफ हार मिली थी।

अब Shengli Fight Club के प्रतिनिधि अकिमोटो को हराकर वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच हासिल करने के एक कदम करीब पहुंचना चाहेंगे। अकिमोटो वही एथलीट हैं जो कैनी “द पिटबुल” त्से और जोश “टाइमबॉम्ब” टोना को भी मात दे चुके हैं।

लेकिन इस बार झांग का लक्ष्य केवल रामज़ानोव के खिलाफ वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच प्राप्त करना नहीं है। इसके अलावा वो अपने देशवासियों का सिर भी गर्व से ऊंचा करना चाहते हैं।

झांग ने कहा, “मैं दुनिया का चीनी मार्शल आर्ट्स की ताकत से परिचय करवाना चाहता हूं। उन्हें ये दिखाना चाहता हूं कि चीन के एथलीट क्या करने में सक्षम हैं और यही बात मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित कर रही है।”

"Muay Thai Boy" Zhang Chenglong hammer Kong Sambo

झांग का मानना है कि इसी तरह की मानसिकता इस शुक्रवार उन्हें जीत दिलाने में मददगार साबित हो सकती है।

उन्होंने कहा, “मुझे उम्मीद है कि मैं नॉकआउट से मैच में जीत दर्ज करने वाला हूं। यानी मैच जितना जल्दी समाप्त हो जाए उतना हम सभी के लिए बेहतर होगा।”

ये भी पढ़ें:

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.
By submitting this form, you are agreeing to our collection, use and disclosure of your information under our Privacy Policy. You may unsubscribe from these communications at any time.