न्यूज़

सैम-ए को हराकर स्टार बनना चाहते हैं रॉकी ऑग्डेन

रॉकी ओग्डेन ONE: KING OF THE JUNGLE में एक दिग्गज एथलीट को पराजित कर इतिहास के पन्नों पर अपना नाम दर्ज करने के लिए तैयार हैं।

20 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई एथलीट शुक्रवार, 28 फरवरी को The Home Of Martial Arts में अपनी शुरुआत करने के लिए उत्साहित थे लेकिन जब उन्हें ये पता चला कि उनके सामने कौन सी चुनौती आने वाली है तो ये सुनकर वो थोड़ा हैरान भी रह गए।

सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में पहले ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल के लिए को-मेन इवेंट में बाउट होनी है। मैच को लेकर ओग्डेन अपनी जीत का बड़ा दांव नहीं लगा रहे हैं क्योंकि उनको पता है कि सैम-ए गैयानघादाओ जैसे दिग्गज एथलीट उनके सामने आने वाले हैं। ऐसे में वो सर्कल के अंदर इस खेल के सबसे मजबूत प्रतिद्वंदी को लेकर धारणा बनाने के बाद उनका सामना करने के लिए ज्यादा लंबा इंतजार नहीं कर सकते हैं।

उन्होंने बताया, “ONE के मैचमेकर्स ने मुझसे कहा कि आपको वर्ल्ड टाइटल के लिए सैम-ए गैयानघादाओ का सामना करना होगा। आपके पास कुछ कर दिखाने का एक बड़ा मौका है लेकिन ये टास्क आसान नहीं है। इतने बड़े मैच का ऑफर मिलने के बाद मैं खुश हो गया।”

“हालांकि, बाउट के समय तक इस तरह का दबाव नहीं रहता है। ऐसे में आप कैसे मना कर सकते हैं। ये सच में एक बड़ा मौका है। आपको बस वहां जाना है, कड़ी मेहनत करनी है और अपना सम्मान हासिल करना है।”

कम उम्र के बावजूद गोल्ड कोस्ट के एथलीट ने थाईलैंड में ही “आठ अंगों की कला” सीख ली थी और बैंकॉक के स्टेडियम सर्किट में ढेर सारी सफलताएं हासिल की।

उन्होंने स्थानीय लोगों का सम्मान हासिल किया और अपनी स्किल्स दिखाकर ये साबित कर दिया कि उनके पास टॉप थाई एथलीटों को हराने का दमखम है। उन्होंने जब WPMF मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल पर कब्जा किया था, तब वो महज 17 साल के ही थे। हालांकि, उन्होंने जितनी भी बाउट की हैं, उसकी तुलना में उनका ONW डेब्यू मैच काफी कठिन होने वाला है।

सैम-ए के पास बहुत ज्यादा अनुभव है, जिसे एक बढ़त के रूप में देखा जा सकता है। ओग्डेन के 42 मैच की तुलना में उनकी 424 बाउट्स हैं, वो मॉय थाई का सबसे प्रतिष्ठित सम्मान जीत चुके हैं, जिसमें Lumpinee Stadium और ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल शामिल हैं।



फिर भी ये उपलब्धियां Boonchu Gym प्रतिनिधि को परेशान नहीं करती हैं। वो इस मुकाबले में शामिल होने को अपने लिए एक सम्मान के रूप में देखते हैं। ओग्डेन करियर की बड़ी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं।

ओग्डेन कहते हैं, “वो एक लैजेंड हैं। इसका मतलब है कि रिंग के एथलीट के रूप में हर चीज में वो मुझसे बेहतर हैं।”

“जिन्होंने स्पोर्ट में बहुत ज्यादा नाम कमाया है, अगर उनसे आपको बाउट करने का मौका मिलता है तो ये आपके लिए हमेशा सम्मान की बात होती है। मेरे कोच जॉन वेन पर ने मुझसे कहा था, “अगर आप सुपरस्टार बनना चाहते हो तो आपको किसी सुपरस्टार को पराजित करना होगा। आप अपने से हल्के एथलीटों से बाउट कर जीत फेमस होने की उम्मीद नहीं कर सकते।”

ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन के रूप में सैम-ए हमेशा एक मजबूत दावेदार रहे हैं। ओग्डेन जितनी अपने प्रतिद्वंदी की स्किल्स की प्रशंसा करते हैं, उतनी ही अपनी जीत का भी संभावित मार्ग देख रहे हैं।

ओग्डेन कहते हैं, “वो निश्चित रूप से स्ट्रॉन्ग है। उनका लेफ्ट किक शॉट बहुत फेमस है। वो बहुत तेज हैं, उनके पास अच्छी नजर, अच्छे काउंटर्स के साथ बेहतरीन मॉय फीमर स्टाइल है।”

“मुझे लगता है कि कम उम्र मेरी मदद करेगी। मैं फिट रहूंगा और जीत के लिए भूखा हूं। अगर मैं वहां पहुंच सकता हूं, तो जीत भी सकता हूं। मुझे लगता है कि मैं काफी तेज हो सकता हूं। मैं उन्हें कम नहीं आंक रहा हूं, फिलहाल वो शीर्ष स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं, पर तब भी मुझे लगता है कि मेरे हाथ उनसे बेहतर होंगे। मैं बाउट के दौरान उनके चारों ओर घूमना चाहता हूं और उन्हें अंदर और बाहर ले जाना चाहता हूं। मैं उनके सामने सही से नहीं खड़ा रहूंगा, ताकि उन्हें प्रहार करने का कोई मौका न मिल सके।”

सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में करियर का सबसे बड़ा इनाम पाने और सबसे बड़ी बाउट करने के लिए क्वींसलैंड के एथलीट पहले से कहीं अधिक प्रेरित हैं।

एक समय आता है, जब नई पीढ़ी ब्रेक थ्रू हासिल करती है और एक नई जनरेशन में एंट्री करती है। ओग्डेन का मानना है कि स्ट्रॉवेट डिविजन के मुकाबले के लिए मानसिक रूप से खुद को तैयार करने और उस पल को जीत में तब्दील करने के लिए वो मानसिक रूप से मजबूत हैं।

उन्होंने कहा, “ये बाउट मेरे लिए सब कुछ होगी। ये मेरे करियर के लिए बड़ी चीज़ है।”

“मैं इस बेल्ट को देख चुका हूं और ये बहुत कूल होती है। सभी इसका सम्मान करते हैं और मैं अब इसको जीतने के लिए आ रहा हूं। मैं मजबूती से फाइट करूंगा। मैं अपने स्टाइल और तरीकों से सबका दिल जीत लूंगा।”

हमारे बीच एक अच्छी बाउट होगी लेकिन निश्चित तौर पर एक अच्छा नॉकआउट एक बेहतरीन परिणाम के रूप में निकलेगा।

ये भी पढ़ें: रॉकी ओग्डेन कठिन परिस्थितियों के बावजूद बने मॉय थाई स्टार