न्यूज़

राहुल राजू ने खुद को कम आंके जाने पर दी चेतावनी, अमीर खान को आसानी से हराने की कही बात

राहुल “द केरल क्रशर” राजू चाहते हैं कि ONE Championship के लाइटवेट डिविजन में उन्हें कम नहीं आंका जाना चाहिए और शुक्रवार, 9 अक्टूबर को वो इसी बात को साबित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

ONE: REIGN OF DYNASTIES में भारतीय ग्रैपलर का सामना सिंगापुर के नॉकआउट आर्टिस्ट अमीर खान से होने वाला है।

राजू ने कहा, “मैं उन्हें जितना जल्दी हो सकता है, उतना जल्दी हराने की कोशिश करूंगा। लोग मुझे अक्सर कम आंकने की भूल कर देते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि ये मेरे लिए आसान मुकाबला होगा।”

Rahul Raju enters the arena

ये आत्मविश्वास राजू को अपने पिछले कुछ मुकाबलों से प्राप्त हुआ है, जिनमें उन्होंने लगातार बड़ी जीत दर्ज की हैं।

29 वर्षीय एथलीट ने पहले फिलीपीनो स्ट्राइकर रिचर्ड “नोटोरियस” कॉर्मिनल को पहले ही राउंड में रीयर-नेकेड चोक लगाकर सबमिशन से हराया था।

उसके बाद भारतीय स्टार ने पाकिस्तानी एथलीट फुरकान “द लॉयन” चीमा को दूसरे राउंड में रीयर-नेकेड चोक लगाकर ही मात दी थी।

राजू ब्राजीलियन जिउ-जित्सु (BJJ) ब्राउन बेल्ट होल्डर हैं और Juggernaut Fight Club में अरविंद ललवानी की निगरानी में उन्होंने अपनी बॉक्सिंग स्किल्स में भी काफी सुधार किया है। इसलिए इस शुक्रवार वो स्ट्राइकिंग के साथ-साथ ग्रैपलिंग गेम में भी बढ़त बानाने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा, “मैं सभी चीजों को मिक्स करना चाहता हूं। मैं शुरुआत से ही उन्हें बैकफुट पर धकेलने की रणनीति अपनाऊंगा और तब तक ऐसा करता रहूंगा जब तक वो हार नहीं मान लेते। मुझे लगता है कि मैं उन्हें दूसरे राउंड तक पूरी तरह से तोड़ दूंगा। अगर मैच तीसरे राउंड तक भी जाता है तो मैं हर चुनौती के लिए तैयार रहूंगा।”

Rahul Raju sinks in the rear-naked choke

हालांकि, इस बाउट से पहले राजू का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है, लेकिन इस बात में भी कोई संदेह नहीं कि खान को हरा पाना आसान नहीं है।

सिंगापुर के मॉय थाई चैंपियन Evolve टीम में ट्रेनिंग लेते हैं, जिसे दुनिया के सबसे खतरनाक मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स स्ट्राइकर्स तैयार करने के लिए जाना जाता है।

25 वर्षीय स्टार इस समय ONE के इतिहास में सबसे ज्यादा नॉकआउट (8) करने के मामले में लाइटवेट चैंपियन क्रिश्चियन “द वॉरियर” ली के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर मौजूद हैं। इसके अलावा वो वॉन “द स्पॉन” डोनेरे और पूर्व ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन होनोरियो “द रॉक” बानारियो के खिलाफ सबमिशन से भी मैच जीत चुके हैं।



लेकिन पिछले कुछ समय से पूर्व ONE लाइटवेट वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर को काफी मुश्किल दौर से गुजरना पड़ रहा है। पिछले 5 में से 4 मुकाबलों में हार झेल चुके हैं, जिनमें से 2 में उन्हें ग्रैपलर्स ने हराया है।

“द केरल क्रशर” इसी बात का फायदा उठा सकते हैं और इसके अलावा खान की BJJ स्किल्स काफी कमजोर भी हैं।

राजू ने कहा, “खान की ताकत उनकी स्ट्राइकिंग है। वो मॉय थाई और मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में भी अपनी स्ट्राइकिंग के दम पर बड़े मैचों में जीत दर्ज करते आए हैं। वो काफी चतुर फाइटर हैं।”

“लेकिन मुझे लगता है कि उनका कार्डियो और ग्रैपलिंग सबसे बड़ी कमजोरी है। मैं जानता हूं कि उन्होंने सबमिशन से भी मैच जीते हैं लेकिन उनकी ग्रैपलिंग स्किल्स मुझे कुछ खास प्रभावित नहीं करती हैं।”

Indian mixed martial artist Rahul Raju goes for ground and pound

लगातार तीसरे मैच में जीत और वो भी पूर्व ONE वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर व रिकॉर्ड होल्डर के खिलाफ, इससे राजू को काफी अधिक फायदा पहुंच सकता है।

एक तरफ “द केरल क्रशर” ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप के एक कदम करीब पहुंचना चाहते हैं, लेकिन साथ ही वो अपने हमवतन ONE एथलीट्स अर्जन “सिंह” भुल्लर, ऋतु “द इंडियन टाइग्रेस” फोगाट और गुरदर्शन “सेंट लॉयन” मंगत के साथ मिलकर भारतीय युवाओं को मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में आने के लिए प्रेरित करना चाहते हैं।

राजू ने कहा, “मुझे यकीन है कि मैं उन्हें हरा सकता हूं और मुझे अपने ऊपर कोई संदेह नहीं है।”

“ये एक बड़ी जीत मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण रहने वाली है और किसी भी कीमत पर मैं इसे जीतना चाहता हूं। मैं इस जीत के लिए बेताब हूं। मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता कि ये जीत मेरे लिए कितनी अहम रहने वाली है।

“साथ ही मुझे ये भी पता है कि जीत की वजह से मुझे काफी अच्छी कवरेज मिल सकती है। इसलिए संभवत ही इससे भारतीय युवाओं को भी मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में आने की प्रेरणा मिलेगी।”

ये भी पढ़ें: कैंसर से जूझ रहे अपने पिता के लिए जीत दर्ज करना चाहते हैं अमीर खान