मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

On This Day: मोरेस को हराकर युस्ताकियो बने थे अनडिस्प्यूटेड वर्ल्ड चैंपियन

जून 23, 2021

जेहे “ग्रैविटी” युस्ताकियो को अपने अधिकांश मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर में अंडरडॉग माना जाता रहा है।

लेकिन इस दुनिया में हर किसी का अच्छा दिन आता है और 3 साल पहले आज ही के दिन फिलीपीनो सुपरस्टार ने एड्रियानो “मिकीन्यो” मोरेस को हराकर अनडिस्प्यूटेड ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया था।

युस्ताकियो को इस ऐतिहासिक मुकाबले में बहुत कुछ साबित करना था।

सितंबर 2014 में सबसे पहले ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में “ग्रैविटी” को ब्राजीलियाई स्टार के खिलाफ हार मिली थी। मोरेस ने दूसरे राउंड में वुशु स्ट्राइकर को गिलोटीन चोक लगाकर टैप आउट करने पर मजबूर किया, जो फिलीपीनो एथलीट के करियर की सबमिशन से आई पहली हार भी रही।

उस हार के बाद युस्ताकियो ने खुद के ग्रैपलिंग गेम के अलावा भी कई अन्य चीजों में सुधार कर दोबारा वर्ल्ड टाइटल की ओर कदम आगे बढ़ाए।

कठिनाइयों भरे सफर से बाहर निकल कर जनवरी 2018 में आखिरकार उन्होंने पूर्व फ्लाइवेट किंग काइरत “द कज़ाख” अख्मेतोव को हराकर ONE अंतरिम फ्लाइवेट वर्ल्ड टाइटल जीता।



अब युस्ताकियो के पास इतिहास रचने का सुनहरा अवसर था।

23 जून 2018 को हुए ONE: PINNACLE OF POWER में फिलीपीनो स्टार ने ना केवल मोरेस से अपनी हार का बदला पूरा किया बल्कि अनडिस्प्यूटेड ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड चैंपियन भी बने।

ये चीज स्पष्ट थी कि युस्ताकियो को ब्राजीलियन जिउ-जित्सु गेम का कोई डर नहीं है क्योंकि उन्होंने पहले राउंड में ही “मिकीन्यो” को मैट पर गिरा दिया था। लेकिन यहां से मोरेस सबमिशन मूव लगाने की फिराक में थे, इस बीच गिलोटीन चोक लगाने की कोशिश की, जिससे उन्होंने 4 साल पहले युस्ताकियो को फिनिश किया था। मगर इस बार “ग्रैविटी” धैर्य से काम ले रहे थे और सबमिशन मूव से बच निकलने के बाद खतरनाक तरीके से ग्राउंड-एंड-पाउंड अटैक करना शुरू कर दिया।

दूसरे और तीसरे राउंड में फिलीपीनो स्टार की जबरदस्त वुशु स्ट्राइकिंग देखने को मिली। इस बीच मोरेस ने एक टेकडाउन भी स्कोर किया, लेकिन युस्ताकियो भी शानदार तरीके से खुद को डिफेंड कर रहे थे।

चैंपियनशिप राउंड्स में दोनों में से कोई भी पीछे हटने को तैयार नहीं था। कुछ समय बाद थके हुए “मिकीन्यो” ने टेकडाउन और सबमिशंस की कोशिश की, वहीं “ग्रैविटी” ना केवल स्टैंड-अप बल्कि ग्राउंड गेम में भी बढ़त बनाने में सफल हो रहे थे।

25 मिनट की कांटेदार टक्कर के बाद 2 जजों ने युस्ताकियो के पक्ष में फैसला सुनाया था।

युस्ताकियो का सबसे बड़ा सपना पूरा हो चुका था, अपनी हार का बदला पूरा कर चुके थे और ये भी साबित किया कि वो टॉप लेवल के ग्रैपलर्स को भी कड़ी चुनौती दे सकते हैं।

इस यादगार जीत के बाद उन्होंने एक भावुक स्पीच भी दी।

जीत के बाद युस्ताकियो ने कहा, “मेरे इस सफर की शुरुआत 14 साल पहले हुई थी और यहां तक पहुंचना जैसे असंभव सा लगता था। लेकिन अब 14 साल बाद अहसास हुआ कि कोई चीज असंभव नहीं होती।”

“जब तक आप प्रतिबद्ध नहीं होंगे, तब तक अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाएंगे। मुझे अनडिस्प्यूटेड ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड चैंपियन बनने पर गर्व महसूस हो रहा है।”

Geje Eustaquio with the ONE Championship World Title Belt

उसके 7 महीने बाद युस्ताकियो को मोरेस के खिलाफ चैंपियनशिप मैच में हार मिली थी, लेकिन वो आज भी अपने द्वारा कहे गए शब्दों का पालन कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: पैचीओ को सारूटा और मासूनयाने के खिलाफ चैंपियनशिप मैच की उम्मीद

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.
By submitting this form, you are agreeing to our collection, use and disclosure of your information under our Privacy Policy. You may unsubscribe from these communications at any time.