विशेष कहानियाँ

जियानी सूबा का कॉमेंट्री बूथ पर आने तक का अप्रत्याशित सफर

जियानी सूबा ने ONE Championship के कुछ शानदार एथलीट्स की सूची में अपना नाम दर्ज कराया है लेकिन चोट से जूझने के दौरान उन्होंने अपनी एक और विशेषता बताई।

मेडिकल सस्पेंशन की वजह से सूबा प्रतियोगिता से पूरी तरह दूर हैं और मलेशियाई स्टार के लिए मुश्किल ये समय रहा है लेकिन इस दौरान उन्होंने एक रोल ढूंढ लिया है।

इस 27 वर्षीय एथलीट ने बतौर कॉमेंटेटर रिच फ्रैंकलिन की ONE Warrior Series में काम किया था।

ग्लोबल स्टेज पर सूबा अपने पहले मौके पर सही समय के साथ सही जगह पर थे। पिछले साल मई के महीने में ONE: FOR HONOR से ठीक पहले माइकल “द वॉइस” शिवेलो बीमार पड़ गए थे और उस दौरान सूबा ने बहादुरी दिखाई और कॉमेंट्री के लिए आगे आए।

उन्होंने बताया, “2019 काफी शानदार साल था। पहले कुछ महीने थोड़े निराशाजनक थे लेकिन मई ने जल्द ही सब कुछ बदल दिया।”

“जकार्ता में शो के कुछ घंटे पहले एक प्रोड्यूसर मेरे पास आए और मुझे पूछा कि क्या मैं कॉमेंट्री कर सकता हूँ। ये एक ऐसी चीज़ थी, जो मैं चोटिल होने के बाद लंबे समय से करना चाहता था और मुझे पता था कि मेरे पास इस मौके का फायदा उठाने का अच्छा चांस है।”

उन्हें काफी परेशानी हुई लेकिन प्रतियोगिता में मुश्किलों को पछाड़ने की तरह ही सूबा ने घबराहट को हराया और खुद को आत्मविश्वास दिलाया।

उनके साथ ONE के मिच “द ड्रैगन” चिल्सन थे जिन्होंने भी सर्कल में प्रतियोगी करियर बिताने के बाद कॉमेंट्री बूथ में कदम रखा और अपने ब्रॉडकास्टिंग करियर को 0 से 100 पर पलक झपकते हुए ले गए।

Bali MMA के प्रतिनिधि ने अपना काम काफी अच्छे से किया लेकिन ये काम उनके लिए आसान बिल्कुल भी नहीं रहा। उनकी परीक्षा उस समय हुई जब उनके भाई किआनू को रयोगो टाकाहाशी के खिलाफ मैच के दौरान पिंडली में चोट लग गई।

ये मलेशियाई असल में अपने भाई का साथ देने के लिए वहां रहने वाले थे लेकिन उन्हें अब अपना ध्यान किआनू की चोट के दौरान भी लाखों लोगों द्वारा देखे जा रहे शो को अच्छा बनाए रखने पर रखना था।

उन्होंने कहा, “उस रात मेरा सपना पूरा हो चुका था लेकिन जब किआनू चोटिल हुए, उसके बाद मैं उस रात के बारे में नहीं सोच पा रहा था।”

“मेरे लिए ये एक बुरा सपना था लेकिन मैं संतुष्ट था क्योंकि मेरा भाई कोच माइक (इकिलै) और मेरे पिता के साथ सही हाथों में था।

“मैं कॉमेंट्री छोड़कर जाने पर भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाता और मुझे पता था कि वो भी मुझे बैठकर अपना काम जारी रखते हुए देखना चाहेंगे। इस वजह से मैंने ऐसा किया। मैं हमारा प्रतिनिधित्व करना चाह था।”

उनकी माइक स्किल्स से खुश होकर ONE ने सूबा को 20 जून को आयोजित हुए OWS 6 में कॉमेंट्री करने का ऑफर दिया और उन्हें इस चुनौती को फिर स्वीकारा। उस दौरान इस मलेशियाई ने अनुभवी कॉमेंटेटर स्टीव डॉसन और ONE की वाइस प्रेसिडेंट मीशा टेट के साथ काम किया।



इसने उन्हें रिंगसाइड पर और ज्यादा अनुभव हासिल करने का मौका दिया और उन्हें ONE के मुख्य कार्यों के पीछे रहने वाले व्यक्ति रिच फ्रैंकलिन से भी मिलने का मौका दिया।

उन्होंने बताया, “रिच और मैंने किसी एक शो के पहले बात की थी और उन्होंने मुझसे कहा कि उन्हें मेरा काम पसंद आ रहा है। उन्हें जकार्ता में मेरा डेब्यू पसंद आया और उनके जैसे व्यक्ति से ये सुनना काफी बढ़िया रहा।”

“उन्होंने मुझे कुछ अच्छी सलाह भी दी और बताया कि गलतियां करने के बारे में न सोचों क्योंकि OWS एक ऐसी जगह जो तुम्हारा करियर बनाएगी।”

ONE Warrior Series और ONE Hero Series के साथ 3 बढ़िया शोज़ करने के बाद उनके सफर ने अचानक से उड़ान भरी। सूबा को 31 अक्टूबर को टोक्यो, जापान में आयोजित होने वाले मार्शल आर्ट्स के इतिहास के सबसे बड़े इवेंट ONE: CENTURY के प्रिलिम्स में कॉमेंट्री के लिए पूछा गया।

वो अपनी सबसे बड़ी परीक्षा के लिए तैयार थे और उन्हें बूथ में मिले अनुभव से और ज्यादा आत्मविश्वास मिला।

Posted by Gianni Subba on Tuesday, October 15, 2019

उन्होंने कहा, “मैं सबसे अच्छा प्रदर्शन करना चाहता था। जब मैं स्टेडियम में आया और अपनी सीट पर बैठा, तो मुझे पहले से ज्यादा अच्छा महसूस हो रहा था।”

“मैं मानता हूँ कि मैंने और स्टीव [डॉसन] ने प्रिलिम्स में काफी अच्छा काम किया। मेरी ओर से थोड़ी और सुधार की जरूरत थी लेकिन उस कार्ड का हिस्सा होना काफी गर्व की बात थी।”

इसके बाद से सूबा ने दिसंबर 2019 ने आयोजित हुए OWS 9 और इस साल फरवरी के महीने में आयोजित हुए OWS 10 दो और इवेंट्स में काम किया। अंतिम इवेंट में उनकी स्किल्स में सुधार साफ नजर आया।

प्रतियोगी करियर की तरह ही ये फ्लाइवेट बाद में अपने प्रदर्शन पर नजर डालता है और उसमें से गलतियां निकालता है क्योंकि उन्हें पता है कि सफलता सिर्फ गलतियों को सुधारने से मिलती है।

उन्होंने कहा, “मैं मानता हूँ कि आत्मविश्वास के मामले में मैंने काफी सुधार किया है। मैं अब और ज्यादा अच्छे से काम करने पर ध्यान दे रहा हूँ और ग्रैपलिंग एक्सचेंज को लेकर भी ज्यादा अच्छे से बताने का प्रयास कर रहा हूँ।”

“कभी-कभी तेज़ी से एक्शन देखने पर में अटक जाता हूँ क्योंकि मैं जल्दी में हर एक चीज़ कहने का प्रयास करता हूँ। अच्छी बात ये है कि प्रोडक्शन टीम काफी शांत है और मुझे समझती है। मैं इन टैलेंटेड लोगों के साथ काम करके खुश हूँ।

“मैं सलाह की हमेशा कदर करता हूँ। इससे मुझे पता चलता है कि मैं क्या सही और क्या गलत कर रहा हूँ ताकि मैं अगली बार फिर उन गलतियों को न दोहरा पाऊं।”

सूबा अपने नए करियर को लेकर काफी खुश है लेकिन उनका दुनिया के सबसे बड़ी मार्शल आर्ट्स संगठन के सबसे अच्छे फ्लाइवेट स्टार्स के साथ मुकाबला करने का सपना पूरा नहीं हुआ है और वो उम्मीद करेंगे कि ऑल-क्लियर हो जाने के बाद वो रिंग में जबरदस्त वापसी करें।

उन्होंने बताया, “मुझे लगता है कि मैंने पिछले 12 महीनों में बतौर एथलीट काफी सुधार किया है। मैं अभी भी हर दिन ट्रेनिंग कर रहा हूँ और जब भी मौका मिलेगा, तो मैं तैयार रहूंगा।”

“इसके साथ ही मैं ज्यादा से ज्यादा मौकों पर कॉमेंट्री करने के बारे में भी सोच रहा हूँ।”

ये भी पढ़ें: मेई यामागुची ने बताई 4 एक्सरसाइज़ जिन्हें आप घर पर कर अच्छा फील कर सकते हैं