मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

रिच फ्रैंकलिन ने ONE Warrior Series के फिलीपीनो हीरोज़ की तारीफ की

ONE Warrior Series (OWS) के कई बड़े सितारे फिलीपींस से ही निकलकर आए हैं। इसके सीईओ और सीरीज के होस्ट रिच फ्रैंकलिन के मुताबिक, ऐसा लगता है कि ये ट्रेंड भविष्य में भी नजर आने वाला है।

इसके साथ में कॉन्ट्रैक्ट विनर्स जैसे लिटो “थंडर किड” आदिवांग और रॉकी “वॉरे वॉरियर” बैक्टोल भी शामिल हैं। वर्तमान OWS रोस्टर भी संभावनाओं से भरा है। इसमें इस्माइल बंदीवान, जैरी “बोकोडियन वॉरियर” ओल्सिम और डेव “किंटॉस” बेंगुइगुई शामिल हैं। ये अगर अपनी शानदार फॉर्म जारी रखते हैं तो ग्लोबल स्टेज पर खुद को आगे बढ़ा पाएंगे।

इन बातों से फ्रैंकलिन को कोई हैरानी नहीं है। उन्होंने फिलीपीनी प्रतिभाओं को The Home Of Martial Arts में उभरते और कामयाब होते हुए देखा है। उनका मानना है कि वॉरियर स्प्रिट (जुझारुपन) इस देश के लोगों में मौजूद रहती है।

यही कारण है कि तीन बार के विश्व चैंपियन मानते हैं कि फैंस जल्द ही कुछ नई प्रतिभाओं को इसमें उभरते हुए देखेंगे।

ONE Championship: आपके ONE से जुड़ने के बाद से फिलीपीनो मार्शल आर्टिस्ट की तरक्की को आप किस तरह से बताना चाहेंगे?

रिच फ्रैंकलिन: आप साधारण तौर पर इस खेल में फिलीपींस के एथलीट्स को तरक्की करते हुए देख सकते हैं। Team Lakay के कई प्रतिनिधियों ने चैंपियनशिप का स्तर ऊंचा किया है। Team Lakay के बाहर अगर देखें तो आपको ब्रेंडन वेरा जैसे दिग्गज एथलीट मिल जाएंगे।

इस देश के कल्चर में मार्शल आर्ट्स और लड़ने का कौशल शामिल है। मैनी पैकियाओ भी वहीं से आते हैं। वहां की चीजों में इसका शामिल होना स्वभाविक है।



ONE: फिलीपींस में मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के विकास में आपके मुताबिक किन चीजों ने सहयोग किया है?

रिच फ्रैंकलिन: मुझे लगता है कि वहां की पढ़ाई और जुनून इसकी बहुत बड़ी वजह है। फिलीपीनी मार्शल आर्ट्स कल्चर इस तरह का कल्चर है, जिसमें आगे बढ़ते रहने का स्वभाव शामिल है। खुद को बेहतर करने के लिए वो हमेशा आगे बढ़ने की सोचते हैं।

अब भी कई ऐसे कल्चर मौजूद हैं, जो अपनी पुरानी जड़ों को संजोए रखना चाहते हैं। उनके पास आगे बढ़ने की सोच नहीं है। ऐसे में वो बदलावों को नकार देते हैं। मुझे लगता है कि फिलीपींस विश्व के कई देशों से काफी आगे है और आने वाले कई साल तक वो आगे बने रहेंगे।

ONE: अगर OWS के नजरिए से देखें तो इन युवा एथलीटों में कितनी प्रतिभा दिखाई देती है?

रिच फ्रैंकलिन: OWS से होकर जो एथलीट आए हैं, उनको आपने देखा है। रॉकी बैक्टोल का उदाहरण देख सकते हैं, जो सीधे प्रोमोट होकर आए हैं। ONE के चेयरमैन और सीईओ चाट्री सिटयोटोंग ने भी उनमें प्रतिभा देखी और उन्हें पहले ही इवेंट में आगे बढ़ाया है।

जब मैं आया और बागियो क्षेत्र में गया तो मैंने लिटो और झनलो को देखा। झनलो (सांगियाओ) तो काफी युवा हैं। मैंने जब दो साल पहले उन्हें देखा था तो वो सिर्फ 15 साल के थे। मैं इन दोनों को देखते ही समझ गया था कि इनका भविष्य उज्ज्वल होने वाला है।

ONE Warrior Series में लिटो ने जो किया है, वो आप देख सकते हैं। ONE Championship में वो तरक्की करके आए और अपना लोहा मनवाया है। मुझे जैसी उम्मीद थी वो वैसा ही कर रहे हैं और मैं झनलो से भी ऐसी ही उम्मीद रखता हूं।

झनलो अगली पीढ़ी के एथलीट हैं, जो अगली पीढ़ी की Team Lakay में होंगे। इस एरिया के लिए ये बड़ी बात होगी। वे ऐसे मानक स्थापित करेंगे, जिसे दूसरे लोग भी अपनाएंगे।

ONE: कई फैंस के लिए झनलो नए हैं। ऐसे में वो उनका नाम इसलिए भी जान पाएंगे क्योकि Team Lakay के कोच मार्क संगीआयो के बेटे हैं। हम उनसे क्या उम्मीद करें?

रिच फ्रैंकलिन: मार्क का बेटा होना उनकी खुशकिस्मती है और बदकिस्मती भी। अब क्योंकि वो मार्क सांगियाओ के बेटे हैं इसलिए उन्हें बड़ी उम्मीदों पर खरा उतरना होगा।

कई सारे लोगों की नजरें उन पर होंगी। इस स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए उन पर काफी दवाब भी है, जो कि स्वाभाविक है। इन सबको छोड़ भी दें तो पिछली बार जब मैं वहां गया था तो उनके साथ ग्रैपलिंग की थी और उस दौरान उन्होंने कोई गलती नहीं की थी इसलिए वो एक टैलेंटेड एथलीट हैं।

वो कोच के बेटे हों या न हों लेकिन मैंने उनके साथ समय गुजारा है। उस समय मुझे उनमें प्रतिभा दिखी। मैंने उनसे कहा कि आप वो हो जिसे मैं अपनी संस्था में लेना चाहता हूं और किसी भी दूसरे लड़के की जगह मैं उन्हें लेना पसंद करूंगा। इससे उनके ऊपर काफी दवाब आएगा क्योंकि उनसे मुझे काफी उम्मीदें हैं। इस बात से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता कि वो किसके बेटे हैं क्योंकि उन पर कई लोगों की नजरें टिकी हुई हैं।

ONE: क्या मेन रोस्टर में आकर लिटो आदिवांग ने आपकी उम्मीदें बढ़ा दी हैं?

रिच फ्रैंकलिन: मुझे नहीं लगता है कि लिटो ने मेरी उम्मीदें बढ़ाई हैं और ये मैं उनकी तारीफ में कह रहा हूं क्योंकि मुझे उनसे काफी उम्मीदें हैं। मैंने जब उन्हें पहली बार देखा था, तब ही समझ गया था कि वो टैलेंटेड हैं।

ONE Warrior Series में जब भी वो हिस्सा लेते हैं तो आप उनको आगे बढ़ते हुए ही देखेंगे। इसलिए उन्होंने मेरी उम्मीदों को नहीं बढ़ाया बल्कि मैंने ही शुरुआत से उनके लिए तगड़े मानक तय करके रख दिए हैं।

ये भी पढ़ें: हाइलाइट-रील फिनिश के बाद टॉप प्रतिद्वंदियों से बाउट करना चाहते हैं लिटो आदिवांग