Mixed Martial Arts

ONE Warrior Series ने लिटो आदिवांग को बड़ा स्टार कैसे बनाया?

Dec 27, 2019

फिलीपींस के लिटो आदिवांग का छोटे टूर्नामेंट में हिस्सा लेने से लेकर ONE Warrior Series का बड़ा स्टार बनने तक का सफर काफी मुश्किलों भरा रहा है।

अब जब साल 2019 लगभग समाप्त होने को आ रहा है तो इस 26 वर्षीय एथलीट ने अपने पुराने दिनों को याद किया कि किस तरह उन्होंने ONE: CENTURY के लिए तैयारियां शुरू की थीं।

आदिवांग ने अपनी सफलता के पीछे के कई राज खोले हैं और कहा है कि यदि खुद पर भरोसा होने के साथ कड़ी मेहनत की जाए तो कुछ भी असंभव नहीं है।

“ये किसी सपने की तरह है और साल 2019 मेरे करियर के लिए काफी अच्छा गुजरा है। ONE Warrior Series में मैंने अच्छा प्रदर्शन किया था और अब ONE में डेब्यू से भी मैं काफी अच्छा महसूस कर रहा हूँ। इस साल मुझे कई नई चीजें सीखने को मिली हैं, जिनमें से एक यह भी है कि कड़ी मेहनत कभी बेकार नहीं जाती।

“मैं उम्मीद करता हूँ कि मैं आने वाले समय में इसी तरह का प्रदर्शन करने में सफल रहूँगा। इसके लिए मुझे लगातार मेहनत करनी होगी और अपने लिए नए टारगेट तय करने होंगे।

“कुछ नया सीखने की चाह ही मुझे आने वाले समय में नई चीजें सीखने में मदद करने वाली है।”

सफल 2019 को याद करते हुए अब उनका पूरा फोकस अगले साल पर केंद्रित है। 31 जनवरी को फिलीपींस के मॉल ऑफ़ एशिया एरिना में आयोजित होने वाले ONE: FIRE & FURY इवेंट में आदिवांग को पोंगसिरी मिटसाटिट की चुनौती से पार पाना होगा।



आदिवांग ने साल 2013 से अपने घरेलू फैंस के सामने किसी भी मैच में हिस्सा नहीं लिया है और अब उन्हें लगता है कि ये उनके लिए वर्ल्ड चैंपियनशिप के एक कदम करीब पहुंचने का मौका है।

“मैं देख पा रहा हूँ कि इसी तरह मेहनत जारी रही तो मैं ज़रूर आने वाले मुकाबलों में जीत दर्ज करूँगा, जिससे मैं वर्ल्ड टाइटल के लिए चुनौती पेश कर सकूं।

“मैं साल 2020 में ऐसा प्रदर्शन करना चाहता हूँ जिससे 2021 में टाइटल अपने नाम कर सकूं। यही एक लक्ष्य है जो मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करता रहता है।”

अदिवांग अब OWS के एथलीटों के लिए एक उदाहरण बन चुके हैं कि कड़ी मेहनत कभी बेकार नहीं जाती।

उन्होंने साल 2018 में ONE Warrior Series में मुकाबला करना शुरू किया था और इस दौरान उन्होंने लगातार जीत हासिल करते हुए मेन रोस्टर में स्थान पक्का किया है।

Lito Adiwang defeats Senzo Ikeda at ONE CENTURY

ONE: CENTURY PART I में उन्होंने सेन्जो अकीडा को पहले ही राउंड में मात देकर दर्शा दिया था कि वो बड़ी और कड़ी चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हैं।

“OWS में रहते मुझे काफी चीजें सीखने को मिली हैं और इसी दौर ने मेरे करियर को एक नई उड़ान भी दी है।

“अपने प्रतिद्वंदियों से भी मुझे काफी कुछ सीखने को मिला और मुझे एहसास हुआ कि मेरे स्किल सेट और मूव सेट में बदलाव की जरूरत है। मुझे इस दौरान ऐसे लोग भी मिले जिन्होंने मेरे सफल होने में बहुत बड़ा योगदान दिया है और उनका अनुभव आज भी मेरे काम आ रहा है।”

ONE Championship के साल 2020 के पहले लाइव इवेंट ONE: A NEW TOMORROW के लिए हो जाइए तैयार!

बैंकॉक | 10 जनवरी | टिकेट्सClick here  |  TV: भारत में दोपहर 3:30 बजे से देखें