न्यूज़

रोडलैक ने सैमापेच के खिलाफ होने वाले मैच में जीत का सूत्र बताया

Aug 5, 2020

रोडलैक पीके.साइन्चे मॉयथाईजिम ONE Championship में अभी तक कोई भी मुकाबला नहीं हारे हैं, अगर वो अगले दो मुकाबलों को जीत जाते हैं, तो उन्हें डिविजन का वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच मिल सकता है।

लेकिन इससे पहले उन्हें अपने पुराने प्रतिद्वंदी को पराजित करना होगा।

शुक्रवार, 14 अगस्त को थाई सुपरस्टार का सामना थाईलैंक के बैंकॉक में हो रहे ONE: NO SURRENDER II के मेन इवेंट में हमवतन एथलीट सैमापेच फेयरटेक्स से होगा।

ये बाउट ONE बेंटमवेट मॉय थाई टूर्नामेंट का सेमीफाइनल मुकाबला होगी। इस टूर्नामेंट के विजेता को ONE बेंटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन नोंग-ओ गैयानघादाओ के खिलाफ वर्ल्ड टाइटल मैच हासिल होगा।

“द स्टील लोकोमोटिव” के नाम से पहचाने जाने वाले रोडलैक अपने प्रतिद्वंदी से अच्छी तरह से वाकिफ हैं। अब तक इनका तीन बार मुकाबला हो चुका है और रोडलैक को इस प्रतिद्ंवदिता में बढ़त हासिल है।

जब पहली बार इन दोनों वॉरियर्स का आमना-सामना हुआ था, उस समय सैमापेच मॉय थाई करियर में युवा थे और यहां PK.Saenchai Muaythaigym के प्रतिनिधि ने जीत हासिल की।

स्कोर को बराबर करते हुए सैमापेच ने जुलाई 2014 में मैच को रेफरियों के फैसले से जीता लेकिन एक महीने बाद हुई तीसरी बाउट में रोडलैक ने जीत दर्ज की और स्कोर को 2-1 किया।

इस प्रतिद्वंदिता में भले ही रोडलैक को बढ़त दिख रही है, मगर वो अपने प्रतिद्वंदी को अच्छे से समझते हैं और उनकी ताकत का पूरा अंदाजा है।

30 वर्षीय स्टार ने कहा, “वो सबसे प्रतिभाशाली बॉक्सर्स में से एक हैं, जिनको मैं जानता हूं। उनके पंच ताकतवर हैं और उनके पास कई बेहतरीन हथियार हैं, जिन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।”

“उनका सबसे खतरनाक हथियार लेफ्ट किक्स और लेफ्ट पंच होंगे। मुझे अपना गार्ड ऊपर ही रखना पड़ेगा और उनकी रणनीति, स्टाइल और फाइट के तरीके को पढ़ना पड़ेगा।”

Muay Thai World Champion Rodlek PK. Saenchaimuaythaigym enters the arena

अपने आखिरी मुकाबले के बाद दोनों स्टार्स ने काफी सफलता हासिल की और आखिरकार ONE Championship को जॉइन किया।

MTGP वेल्टरवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन सैमापेच ने अभी तक काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। The Home Of Martial Arts में अपने पहले तीन मैचों में उन्होंने लेफ्ट स्ट्राइक्स के अलावा काफी सारी स्किल्स दिखाईं।

Fairtex टीम के 25 वर्षीय प्रतिनिधि ने देवीदास “द लिथुआनियन सैवेज” डेन्याल, अलावेर्दी “बेबीफ़ेस किलर” रामज़ानोव और ओन्येन टॉपिच को हराया था। हालांकि, सैमापेच को नवंबर 2019 में नोंग-ओ के खिलाफ वर्ल्ड टाइटल मैच हासिल हुआ और उसमें हार मिली।



वहीं, Channel 7 Stadium मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रौडलैक का अब तक The Home Of Martial Arts में परफेक्ट रिकॉर्ड रहा है। उन्होंने लगातार तीन मैचों में क्रिस शॉ, एंड्रयू “मैडडॉग फेयरटेक्स” मिलर और #4 रैंक के बेंटमवेट किकबॉक्सिंग कंटेंडर लियाम “द हिटमैन” हैरिसन को मात दी है।

सुराथानी प्रांत के निवासी खुद को पहले से ज्यादा तेज-तर्रार महसूस कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने COVID-19 महामारी के बावजूद खुद को चुस्त-दुरुस्त रखा। उनका मानना है कि कुछ चीज़ें हैं, जो उनके पक्ष में जा रही हैं।

रोडलैक ने कहा, “मेरे पास पहले से कहीं ज्यादा दांव हैं। मुझे जीतना है तो पहले आगे बढ़कर उन पर दबाव बनाना होगा और अपने गार्ड को नीचे नहीं जाने देना है।”

Thailand's Rodlek PK.Saenchaimuaythaigym and Scotland's Chris Shaw compete in ONE Championship

रोडलैक इस बात से पूरी तरह से वाकिफ हैं कि इस मैच में जीत की वजह से वो सैमापेच के साथ प्रतिद्वंदिता में काफी आगे निकल जाएंगे बल्कि टूर्नामेंट के फाइनल में भी जगह बनाने में कामयाब रहेंगे, जिसकी वजह से उन्हें ONE बेंटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए मौका मिलेगा।

इस मुकाबला में काफी कुछ दांव पर लगा होगा, एक स्ट्राइक लेने की जल्दबाजी पूरी मेहनत पर पानी फेर सकती है। ऐसे में वो जीतने की हर संभव कोशिश करेंगे।

रोडलैक ने कहा, “अगर मैं जीता तो वर्ल्ड टाइटल मैच हासिल करने के ज्यादा मौके होंगे। अगर हारा तो मुझे फिर से शुरुआत करनी होगी इसलिए मैं अपना गार्ड नीचे नहीं आने दूंगा।”

ये भी पढ़ें: रोडलैक के साथ होने वाले मैच में सैमापेच इस्तेमाल करेंगे नई ट्रिक्स