न्यूज़

फो थव ने अपने दो पुराने विरोधियों को दिया संदेश

जब फो “बुशीदो” थव को दोबारा सर्कल में आने का मौका मिलेगा तो उनको सबसे ज्यादा प्रोत्साहन अपने उन पुराने प्रतिद्वंदियो को हराने में मिलेगा, जिनसे वो पराजित हुए थे।

फिलहाल, 35 साल के सुपरस्टार म्यांमार के यंगोन में COVID-19 की पाबंदियों के बीच खुद को सुधारने और बेहतर बनाने के भरपूर प्रयास में लगे हुए हैं।

फो थव पूरी तरह से अपनी थकान मिटा चुके हैं और लगातार अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स गेम को सुधार रहे हैं। उनका मानना है कि इन सभी चीजों का लाभ उन्हें साल के अंत में मिलेगा, जब वो एक्शन में दोबारा लौटेंगे।

उन्होंने बताया, “जब से महामारी फैली है, मैंने सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखी हुई है और बाहर जाने से भी खुद को रोके रखा है। मैं घर के अंदर ही रोजाना एक्सरसाइज कर रहा हूं और पोषण के लिए उपयुक्त खुराक ले रहा हूं। इस दौरान ठीक से नींद भी ले रहा हूं।”

“मैं अपने पिछले मैचों से ज्यादा अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं। इस वजह से अपनी फाइटिंग तकनीक पर फिर से गौर कर रहा हूं और फिटनेस को बनाए रखने के लिए ट्रेनिंग ले रहा हूं। मुझे उम्मीद है कि मैं जल्द ही फिर से मुकाबला कर सकूंगा।”



फेदरवेट एथलीट के करियर में हार बहुत ही कम बार आई हैं लेकिन इस चीज ने उन्हें मुकाबलों में फिर से वापसी का बल भी दिया है।

“बुशीदो” ने अब तक अपने 10 विरोधियों में से आठ को हराया है, जिसमें से सात में उन्हें नॉकआउट के जरिए जीत मिली है। हालांकि, उन्हें किआनू सूबा और “द बिग हार्ट” यूं चांग मिन के हाथों मिली पिछले मैचों में पराजय का बदला चुकाना अच्छा लगेगा।

उन्होंने बताया, “मैं अपने उन विरोधियों से फिर से बाउट करना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे हराया था।”

“मैं हारा जरूर था लेकिन मैं अपनी पूरी काबिलियत का इस्तेमाल नहीं कर पाया था। मैं इस चीज को निर्णायक तौर पर जानना चाहता हूं बल्कि उन्हें हराना भी चाहता हूं।

“इस बार फैंस मुझे एक अलग तरीके के फाइटर के तौर पर देखेंगे, जो उन्होंने पहले कभी नहीं देखा होगा। अब मैं पूरी तरह से बदल गया हूं। वो फिर से फो थव के धमाकेदार मैच देख पाएंगे।”

फो थव का मानना है कि उन्हें अपने पुराने विरोधियों पर जीत पाने का रास्ता पता है। असल में उनका 88 प्रतिशत नॉकआउट रेट अपने आप में इसकी गवाही देता है लेकिन मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में आधी लड़ाई तो वहां टिके रहने की होती है। खासकर बेहतरीन विरोधी के खिलाफ बाउट के वक्त।

यंगोन के हीरो को अक्टूबर 2018 में गिलोटिन चोक से सूबा और रीयर नेकेड चोक से अक्टूबर 2019 में यूं के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। हालांकि, इनसे निराश होने की जगह “बुशीदो” ने हारों को अपने आप को फिर से बेहतर करने के तौर पर इस्तेमाल किया।

उन्होंने ग्रैपलिंग में ज्यादा ध्यान देने के लिए खुद को तैयार किया, ताकि अगर दोबारा उनका आमना-सामना हो तो उनकी स्ट्राइकिंग की क्षमता में शानदार नजर आए।

उन्होंने बताया, “उन पराजयों ने मुझे और ज्यादा कड़ी ट्रेनिंग करने के लिए बल दिया। साथ में फिजिकल, तकनीकी और मानसिक चीजों पर ध्यान देने के लिए प्रेरित किया।”

“सबसे पहले मुझे टेकडाउन डिफेंस और पोजिशनल कंट्रोल में बेहतर होना था। मैच में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए मुझे इनमें में महारत हासिल करनी होगी। इस तरह से अगर फिर मेरा मुकाबला सूबा या यूं से होता है तो स्ट्राइकिंग मेरे लिए और ज्यादा फायदेमंद साबित होगी।”

म्यांमार के सुपरस्टार को मालूम है कि फेदरवेट डिविजन अच्छे टैलेंट से भरा हुआ है। ऐसे में वो किसी भी संभावित विरोधी का सामना करने से नहीं हिचकेंगे।

हालांकि, फो थव के दिमाग में पुराना हिसाब चुकता करने की बात ने उन्हें पहले से कही ज्यादा घातक बना दिया है।

उन्होंने कहा, “मेरे पास सूबा और यूं के लिए एक संदेश है। अब उनके पुराने तौर-तरीके मुझ पर काम नहीं आएंगे। हो सकता है कि उनकी फाइटिंग के तरीके बेहतर हो गए हों लेकिन मैंने भी खुद को पहले से कहीं ज्यादा बेहतर कर लिया है।”

ये भी पढ़ें: इन खिलौनों के कलेक्शन से ब्रेंडन वेरा की पर्सनैलिटी का दूसरा पहलू जानें