मिनोवा का मानना है कि वो ब्रूक्स को कई तरीकों से हरा सकते हैं

Hiroba Minowa Alex Silva FISTS OF FURY III 1920X1280 39

जापानी सनसनी हिरोबा मिनोवा मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के सबसे उभरते हुए स्टार्स में से एक हैं और अगले मैच में बड़ी जीत दर्ज कर ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच भी प्राप्त कर सकते हैं।

शुक्रवार, 28 जनवरी को ONE: ONLY THE BRAVE में #4 रैंक के कंटेंडर वर्ल्ड टाइटल के एक कदम करीब पहुंचने की कोशिश करेंगे, जहां उनका सामना रैंकिंग्स में तीसरे स्थान पर मौजूद अमेरिकी एथलीट जैरेड “द मंकी गॉड” ब्रूक्स से होगा।

Japanese MMA fighter Hiroba Minowa squares off against Filipino MMA fighter Lito Adiwang at ONE: INSIDE THE MATRIX III

मिनोवा ने 17 साल की उम्र में अपने प्रोफेशनल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर की शुरुआत की थी। शुरुआत से ही प्रतीत होने लगा था कि मिनोवा बहुत प्रतिभाशाली हैं और आगे चलकर सभी की उम्मीदों पर खरे भी उतरे।

जापानी एथलीट Shooto स्ट्रॉवेट चैंपियन रहे, रिकॉर्ड 13-2 का है और अपने करियर में कभी फिनिश नहीं हुए हैं।

इसके अलावा ONE Championship में भी उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। इस दौरान फिलीपीनो सुपरस्टार लिटो “थंडर किड” आदिवांग और #5 रैंक के स्ट्रॉवेट कंटेंडर एलेक्स “लिटल रॉक” सिल्वा को भी मात दे चुके हैं।

मिनोवा जानते हैं कि ब्रूक्स अभी तक उनके सबसे कठिन प्रतिद्वंदी होंगे जिनका रेसलिंग, स्ट्राइकिंग और सबमिशन गेम भी खतरनाक है। अमेरिकी एथलीट का रिकॉर्ड 17-2 (1 नो कॉन्टेस्ट) का है और अपने ONE डेब्यू में आदिवांग को आर्म-ट्रायंगल चोक लगाकर दूसरे राउंड में फिनिश किया था।

अब मिनोवा ने ONEFC.com को दिए इंटरव्यू में अपने अभी तक के करियर, ब्रूक्स के खिलाफ मैच और ये भी बताया कि 2022 में कितने जापानी फाइटर्स वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज कर सकते हैं।

ONE Championship: आपकी उम्र अभी 23 साल है और 17 की उम्र में डेब्यू के बाद अभी तक आपका प्रदर्शन शानदार रहा है। इतनी छोटी उम्र में इतनी सफलता प्राप्त कर कैसा महसूस कर रहे हैं?

हिरोबा मिनोवा: ये मायने नहीं रखता कि आप किस खेल से आते हैं और आपको बता दूं कि ओलंपिक्स में युवा स्टार्स ही मेडल जीत रहे हैं। मैं बहुत छोटी उम्र में Shooto चैंपियन बना और मैं पिछले करीब 10 साल से MMA से जुड़ा हूं। मुझे नहीं लगता कि मुझे बहुत कम समय में इतनी सफलता मिली है, बल्कि MMA अन्य खेलों से काफी पीछे चल रहा है।

मुझे उम्मीद है कि भविष्य में हमें कई युवा चैंपियंस देखने को मिलेंगे। MMA एक खास खेल है और मेरा यहां तक पहुंचना कोई चौंकाने वाली बात नहीं। मगर Shooto में कई फाइटर्स मुझसे उम्र में छोटे हैं और युवा फाइटर्स के चैंपियन बनने का समय जरूर आना चाहिए।

हमें इस खेल में बदलाव की जरूरत है। अगर आप मार्शल आर्ट्स को एक सामान्य खेल के तौर पर देखेंगे तो यहां फाइटर्स की उम्र ज्यादा ही मिलेगी। पहले MMA फाइटर्स रेसलिंग या बॉक्सिंग करियर को छोड़ने के बाद इस खेल में आते थे, मगर अब ऐसे एथलीट्स भी हैं जो शुरू से ही MMA में आगे बढ़ना चाहते हैं। मुझे लगता है कि मैं युवा पीढ़ी के फाइटर्स का लीडर हूं और इस जिम्मेदारी को मुझे अच्छे से संभालना होगा।

ONE: आप अभी तक लिटो आदिवांग और एलेक्स सिल्वा को हरा चुके हैं, लेकिन कुछ लोगों का मानना है कि उन मैचों में आपकी जीत नहीं होनी चाहिए थी। इस बारे में क्या कहना चाहेंगे?

मिनोवा: आदिवांग के खिलाफ फाइट में मुझे बहुत करीबी अंतर से जीत मिली। लोगों को लग सकता है कि मुझे हार मिलनी चाहिए थी, लेकिन विभाजित निर्णय इसी कारण बनाया गया है। किसी की जीत पर सवाल उठाना सही नहीं है और मैं पहले भी कई बार ऐसा कर चुका हूं। मिनोवा एक ऐसे फाइटर हैं जो विभाजित निर्णय से जीत दर्ज कर सकते हैं। मेरी जीत पर सवाल उठाने वाले लोगों से कहना चाहता हूं कि जीत कैसे भी आए, उसका महत्व एक समान ही होता है।

ONE: क्या आपको लगता है कि आप साफ तरीके से जीत दर्ज कर आलोचकों का मुंह बंद कर सकते हैं?

मिनोवा: पहली प्राथमिकता जीत दर्ज करने की होगी। मुझे अगर मैच को फिनिश करने का मौका मिलेगा, उसका भी जरूर फायदा उठाने की कोशिश करूंगा।

ONE: आपके हिसाब से जैरेड ब्रूक्स की ताकत और कमजोरी क्या है और किन चीज़ों में आप उनसे बेहतर साबित हो सकते हैं?

मिनोवा: रेसलिंग और जबरदस्त बॉडी कंट्रोल उनकी सबसे बड़ी ताकत हैं। आदिवांग के खिलाफ उनका फिनिश शानदार रहा और उनकी टेकडाउन करने की काबिलियत को देखने के बाद मैं काफी प्रभावित हुआ।

स्थिति के अनुसार खुद को ढालने की बात की जाए तो आदिवांग को ब्रूक्स के खिलाफ हार मिलनी ही थी। मगर मेरे स्टाइल के सामने ब्रूक्स को संघर्ष करना पड़ सकता है। अगर कोई स्टाइल ब्रूक्स को हरा सकता है तो वो मिनोवा का स्टाइल है।

मेरी मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स स्किल्स अच्छी हैं। रेसलिंग, ग्रैपलिंग, स्ट्राइकिंग और ताकत के मामले में भी वो मुझसे बेहतर हो सकते हैं, लेकिन मैं इन सभी का मिश्रण करते हुए अटैक करने में उनसे बेहतर हूं। पिछले 2 मैचों में भी मैंने कुछ इसी तरह से अटैक करने की कोशिश की।

मेरा मानना है कि मैं ग्राउंड फाइटिंग के अलावा स्ट्राइकिंग और किसी पोजिशन से बच निकलने में उनसे बेहतर हूं। मैं एक मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट के रूप में खुद को ब्रूक्स से बेहतर समझता हूं।

ONE: ब्रूक्स भावुक हो जाते हैं, जैसे आदिवांग पर जीत के बाद वो पोस्ट-फाइट इंटरव्यू में हुए थे। क्या आप मानते हैं कि ज्यादा भावुक होना बड़ी कमजोरी बन सकती है?

मिनोवा: ये कमजोरी ही नहीं बल्कि ताकत भी बन सकती है। ये सब इस बात पर निर्भर करता है कि वो अपनी भावनाओं पर कितना काबू रख पाते हैं। मैं हमेशा कोशिश करता हूं कि भावनाएं मुझ पर हावी ना हों और मुझे लगता है कि मैं बहुत सब्र से काम लेता हूं।

ONE: आप दोनों आदिवांग को हरा चुके हैं, लेकिन उन्होंने आदिवांग को फिनिश किया था। क्या आप ब्रूक्स द्वारा बेहतर तरीके से दर्ज की गई जीत से थोड़ा परेशान हैं?

मिनोवा: अगर कोई फैन इस बात को कह रहा है तो मुझे बुरा नहीं लगेगा, मगर कोई मार्शल आर्टिस्ट ऐसा कह रहा है तो ये बहुत मूर्खतापूर्ण बात है। उन्होंने आदिवांग के खिलाफ फाइट से पहले मेरी उनके खिलाफ फाइट को परखा होगा। ब्रूक्स खुद को आदिवांग से दूर रखने में सफल हो रहे थे।

मुझे आदिवांग के बारे में इस बात को कहने में अच्छा महसूस तो नहीं हो रहा, लेकिन जब भी आदिवांग को अच्छा मोमेंटम मिलने लगता है वो सही समय पर काउंटर नहीं करते। मेरे खिलाफ उनके काउंटर लगातार मिस हो रहे थे। ब्रूक्स ने भी इस बात को परखा होगा, इसी वजह से वो उनपर बढ़त बना पाए।

सच कहूं तो ब्रूक्स इस वजह से जीत दर्ज कर पाए क्योंकि उन्होंने मेरी और आदिवांग के खिलाफ फाइट को परखा था। इसलिए मैं आदिवांग के अगले प्रतिद्वंदियों से कहना चाहता हूं कि मेरा धन्यवाद करना ना भूलें।

ONE: क्या आप मानते हैं कि इस मैच के विजेता को जोशुआ पैचीओ के खिलाफ ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल शॉट मिल सकता है?

मिनोवा: मुझे लगता है कि विजेता को पैचीओ के खिलाफ मैच जरूर मिलना चाहिए। अगर टाइटल के बारे में बात हो रही है तो हम चैलेंजर्स हैं।

ONE: आपके हिसाब से इस मैच का अंत किस तरीके से होगा?

मिनोवा: मेरे पास जीत दर्ज करने के कई तरीके हैं, लेकिन मेरी नजर में मुझे तीसरे राउंड में सबमिशन से जीत मिलेगी। अगर मुझे संघर्ष भी करना पड़ा तो मैं विभाजित निर्णय से भी जीत सकता हूं। वहीं किस्मत साथ रही तो पहले राउंड में उन्हें नॉकआउट भी कर सकता हूं।

Hiroba Minowa fights Jarred Brooks at ONE: ONLY THE BRAVE on 28 January

ONE: अयाका मियूरा ने हाल ही में वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज किया और ONE X में युया वाकामत्सु फ्लाइवेट टाइटल के लिए एड्रियानो मोरेस को चैलेंज करेंगे। अपने हमवतन एथलीट्स को टाइटल शॉट मिलते देखने पर आपको कैसा महसूस होता है?

मिनोवा: जापानी फाइटर्स ONE में कई बार वर्ल्ड टाइटल को जीतने के करीब आए, मगर कभी सफल नहीं हुए। कुछ चैंपियन बने भी, लेकिन जल्द ही बेल्ट को गंवा भी दिया। कई जापानी फाइटर्स नए वर्ल्ड टाइटल कंटेंडर्स के रूप में उभरकर सामने आ रहे हैं इसलिए मुझे लगता है कि इस साल कई जापानी फाइटर्स वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए चैलेंज कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: ONE: ONLY THE BRAVE में मिनोवा को सबक सिखाना चाहते हैं ब्रूक्स

न्यूज़ में और

Focus StephenIrvine OFF70 Faceoff 1920X1280
Adrian Lee Antonio Mammarella ONE 167 76
Reinier de Ridder Anatoly Malykhin ONE 166 39 scaled
Mayssa Bastos Kanae Yamada ONE Fight Night 20 25
Jarred Brooks Joshua Pacio ONE 166 5
IsiFitikefu HiroyukiTetsuka 1200X800
Tye Ruotolo Jozef Chen ONE Fight Night 23 57
Stephen Irvine Longern Paesaisi ONE Friday Fights 55 44
Ok Rae Yoon Alibeg Rasulov ONE Fight Night 23 6
Nico Carrillo Saemapetch Fairtex ONE Fight Night 23 30
Johan Ghazali Temirlan Bekmurzaev ONE Friday Fights 36 9 scaled
Ok Rae Yoon Alibeg Rasulov ONE Fight Night 23 18 1