मॉय थाई

Tip Tuesday: नोंग-ओ ने स्ट्राइकिंग को अच्छा बनाने के लिए 5 टिप्स दीं

हम सब चाहते हैं कि हमारे पास रिंग में नोंग-ओ गैयानघादाओ जैसा IQ (बुद्धिमता का स्तर) हो।

अप्रैल 2018 में ONE Super Series का हिस्सा बनने के बाद से ही इस मॉय थाई दिग्गज ने जबरदस्त प्रदर्शन किया है। कुछ मौकों पर ऐसा भी लगता है कि इस स्टार को रिंग में कोई छू नहीं सकता।

नोंग-ओ की शानदार किक्स, ताकतवर पंच और प्रभावशाली काउंटर्स ने विश्व स्तर पर फैंस को चौंकाया है और इन शानदार तकनीकों की मदद से Evolve का ये स्टार ONE बेंटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल जीतने में सफल रहा।

Tip Tuesday में इस 33 वर्षीय स्टार में 5 टिप्स दी हैं जिनसे एथलीट्स को “8 अंगों की कला” में उत्तम बनने में मदद मिलेगी।

#1 मानसिक रूप से तीव्र बनें

Nong-O Gaiyanghadao prays with the belt

अगर मॉय थाई में सफलता हासिल करनी है तो आपको तेज-तर्रार बनना होगा, न सिर्फ शारीरिक रूप से बल्कि मानसिक रूप से भी तेज बनने की जरूरत है। मुकाबले में कुछ पल का अंतर आपको हार या जीत दिला सकता है।

कड़ी ट्रेनिंग करने से मानसिकता विकसित होती है जो आपको मॉय थाई में कामयाबी दिलाने में मदद करती है। जल्द ही आप पाएंगे कि जानकारी प्रोसेस करने की क्षमता में सुधार आएगा और आप जल्दी से परिस्थिति को पढ़ पाएंगे और निर्णय ले पाएंगे।

नोंग-ओ ने कहा,”जब आप शरीर को अभ्यास करते हैं तो आपके दिमाग की भी ट्रेनिंग होती है।”

“वे दोनों साथ में मजबूत बनते हैं। रिंग में आपका दिमाग एकदम साफ और मजबूत होना आवश्यक है। जब आपको शुरुआत मिले तो आपको मानसिक रूप से वार करने के लिए तैयार रहना चाहिए।”

#2 कोर की ताकत बढ़ाएं

ONE Bantamweight Muay Thai World Champion Nong-O Gaiyanghadao shows his abs before his title defense

कहाँ से “8 अंगों की कला” में स्ट्राइक्स के दौरान गतिशीलता आती है? इसका जवाब कोर (हाथों-पैरों के अलावा शरीर के बाकी हिस्सों की मसल्स की सीरीज़) है। जबरदस्त स्ट्राइक्स असल में कोर की ताकत पर निर्भर है।

जैसे ही आपका कोर मजबूत बनेगा तो आप नोटिस करेंगे कि आपकी स्ट्राइक्स और ज्यादा तेज हो जाएंगी और आप अपने ताकतवर कॉम्बिनेशंस से रिंग में अलग नजर आएंगे।

दिग्गज ने बताया, “एक ताकतवर कोर होना जरूरी है क्योंकि ये किक्स और नी (घुटने) को ताकत से लगाने में मदद करेगा।”

“हर दिन अलग वर्कआउट्स करते हुए हमेशा आपके कोर को मजबूत करने पर ध्यान दें। सब कुछ मिलाने से न डरें।”



#3 अपनी सभी स्किल्स में सामंजस्य बनाना सीखें

Nong-O kicks Hiroaki Suzuki

मॉय थाई के पंच, एल्बोज़ (कोहनी), किक्स और नीज़ (घुटना) आपको एक सक्षम स्ट्राइकर बनाने में मदद कर सकती हैं। इन सारी तकनीकों को साथ लाने से आपका गेम पूरा हो जाएगा।

अगर आपके पास अपने टैलेंट को साथ लाने के गुण नहीं है तो आपके अटैक की भनक पहले ही प्रतिद्वंदी को लग जाएगी। अपने स्किल सेट को तैयार करके उन्हें स्ट्राइक्स के दौरान साथ में उपयोग करने से आपको अच्छे और प्रभावशाली कॉम्बिनेशंस मिलेंगे।

नोंग-ओ ने कहा, “आप सीमित ताकत के साथ बाउट नहीं करना चाहेंगे।”

“स्ट्राइक्स को तैयार करना और उन्हें सही जगह उपयोग करना आवश्यक है। आप चाहेंगे कि आपकी तकनीक शानदार, साफ और प्रभावशाली हो। आपके क्लिंच से लेकर डंप्स तक और यहां तक कि कैसे सही तरह से उन्हें कोर में उपयोग कर सकते हैं।”

#4 समन्वय बनाएं

Nong-O cracks Saemapetch with a cross

मुकाबले के दौरान आपकी काउंटर-स्ट्राइकिंग और डिफेंस के अनुसार खुद को ढालने से आप ज्यादा प्रभावशाली बन जाएंगे। आप इसे ONE बेंटमवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन से सीख सकते हैं।

जैसे-जैसे आप मॉय थाई की ट्रेनिंग में समय बिताएंगे तो आप एक साथ ज्यादा जानकारी प्रोसेस कर पाएंगे और अपने प्रतिद्वंदी का दिमाग पढ़ पाएंगे।

उन्होंने बताया, “मेरे करियर से एक बात जो हर किसी को सीखनी चाहिए और मुझे इस चीज़ ओर गर्व है और वो चीज़ अपने प्रतिद्वंदी का दिमाग पढ़ना और उसके हिसाब से जरूरी बदलाव करना है।”

“मैंने अपने करियर में कई सारे अलग-अलग प्रकार के फाइटर्स का सामना किया है और सभी की कुछ आदते हैं जो उन्हें खुला छोड़ देती हैं। हर एक फाइटर की कुछ कमजोरी होती है और मेरी भी है। इन कमजोरियों को जानने की क्षमता और फिर उन्हें उपयोग करना आपको फाइटर के साथ एक अलग श्रेणी में डाल देगा।”

#5 हमेशा सीखने योग्य बनें

Nong-O Gaiyanghadao trains at Evolve MMA

जब आप मान लें कि आपने सब कुछ सीख लिया है या आप अपने शिक्षकों को सही तरह से सम्मान देने में असफल हो जाएं तो आप स्ट्राइकर के रूप में संघर्ष करेंगे। मार्शल आर्ट्स में हमेशा सीखते रहना जरूरी है।

उन्होंने जो सीखा है वो आपको सिखाएंगे। उनकी विशेषताओं पर ध्यान दें और खुद को सबसे अच्छा बनाने के लिए उनसे सीखें।

Evolve के प्रतिनिधि ने कहा,”ज्यादा अनुभवी लोगों की सुनना और उनसे सीखना सबसे ज्यादा अहम चीज़ों में से एक है।”

“हमसे पहले आए लोगों के पास ज्यादा ज्ञान और अनुभव होता है। हम रिंग में एक-दूसरे से सबक लेते हैं लेकिन सबसे ज्यादा जरूरी है कि रिंग के बाहर भी अनुभव लिया जाए। मॉय थाई सिर्फ एक खेल नहीं है बल्कि ये जीवन जीने का एक तरीका है। एक असल मॉय थाई फाइटर बनने के लिए आपको रिंग के अंदर और बाहर जीवन जीना आवश्यक है।”

ये भी पढ़ें: 5 मॉय थाई एक्सरसाइज़ जिन्हें आप घर पर रहकर भी कर सकते हैं