मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ऋतु फोगाट के ONE Championship करियर की सभी जीतों पर एक नजर

नवम्बर 30, 2020

ऋतु “द इंडियन टाइग्रेस” फोगाट ने रेसलिंग छोड़कर जब मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में आने का फैसला किया था तो भारतीय खेल प्रेमियों के लिए ये खबर बड़ी ही चौंकाने वाली थी। ऐसा इसलिए था कि फोगाट को रेसलिंग में देश का भविष्य माना जा रहा था।

लेकिन कुछ अलग करने की चाह उन्हें देश में तेजी से बढ़ते हुए खेल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स की तरफ ले आई। “द इंडियन टाइग्रेस” ने अभी तक अपने इस फैसले को एकदम सही साबित किया है और वो ONE Championship के ग्लोबल स्टेज पर जीत की हैट्रिक पूरी कर चुकी हैं।

अब वो अगले शुक्रवार, 4 दिसंबर को अपने करियर के सबसे कड़े मुकाबले की तैयारियों में लग गई हैं।

सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में होने वाले ONE: BIG BANG में उनका सामना फिलीपींस की अनुभवी एथलीट जोमारी “द ज़ाम्बोआंगिनियन फाइटर” टोरेस से होगा।

इससे पहले कि ये मुकाबला हो, आइए फोगाट के अब तक हुए मैचों पर एक नजर डालते हैं।

 ऋतु फोगाट Vs. नाम ही किम

पिछले साल 16 नवंबर को चीन के बीजिंग में हुए ONE: AGE OF DRAGONS में फोगाट ने धमाकेदार अंदाज में डेब्यू किया। अपने पहले मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स मुकाबले में उन्होंने दक्षिण कोरिया की “कैप्टन मार्वल” नाम ही किम को पहले राउंड में TKO (तकनीकी नॉकआउट) से मात दी।

फोगाट के शानदार प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने मात्र 3 मिनट 37 सेकंड में मुकाबले को अपने नाम किया। कई बार की नेशनल रेसलिंग चैंपियन ने मैच की शुरुआत में ही टेकडाउन कर अपनी प्रतिद्वंदी को मैट पर गिरा दिया था।

उन्होंने किम के डिफेंस को भेदते हुए हाफ गार्ड से साइड कंट्रोल प्राप्त किया। उसके बाद फोगाट ने अपनी प्रतिद्वंदी के चेहरे पर पंचों और एल्बोज़ का अटैक शुरु कर दिया। किम के पास इस अटैक का कोई जवाब नहीं था। अंत में रेफरी को मैच रोकना पड़ा और फोगाट ने तकनीकी नॉकआउट से इस मुकाबले को अपने नाम करने में सफलता पाई।



ऋतु फोगाट Vs. वू चाओ चेन

28 फरवरी को सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में हुए ONE: KING OF THE JUNGLE में “द इंडियन टाइग्रेस” ने लगातार दूसरी जीत हासिल की। विमेंस एटमवेट डिविजन की बाउट में उनका सामना चीनी ताइपे की “मिस रेड” वू चाओ चेन से हुआ। तीन राउंड तक चले इस मुकाबले में उन्हें सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल हुई।

कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप गोल्ड मेडल विजेता ने पहले राउंड के शुरुआती मिनट में ही “मिस रेड” को टेकडाउन कर गिरा दिया और अटैक किया। उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी को बच निकलने का कोई मौका नहीं दिया।

दूसरे राउंड में भी कहानी कुछ इसी तरह की देखने को मिली, फोगाट ने टेकडाउन कर लगातार ग्राउंड एंड पाउंड अटैक जारी रखा। वू वाचो एक दफा पैरों पर खड़े होने में सफल हुईं, मगर ये राउंड भी पूरी तरह से उनके हाथ से निकल चुका था।

तीसरे राउंड में भी फोगाट का दमदार ग्राउंड गेम जारी रहा। वो हर राउंड में साबित कर रही थीं कि रेसलिंग के जरिए किस तरह मैच को कंट्रोल किया जा सकता है। तीनों राउंड्स के बाद आखिर में जजों ने फोगाट के पक्ष में फैसला सुनाया।

ऋतु फोगाट Vs. नोउ श्रे पोव

COVID-19 की वजह से करीब 8 महीने एक्शन से दूर रहने के बाद फोगाट ने 30 अक्टूबर को हुए ONE: INSIDE THE MATRIX में हिस्सा लिया। उनका सामना कंबोडियाई स्ट्राइकर नोउ श्रे पोव से हुआ।

एटमवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स मुकाबले में Evolve टीम की स्टार ने कुन खमेर वर्ल्ड चैंपियन को दूसरे राउंड में TKO (तकनीकी नॉकआउट) से मात दी। इस जीत के साथ ही फोगाट ने साबित किया कि क्यों वो इस डिविजन की तेजी से उभरती हुई सुपरस्टार हैं।

भारतीय रेसलिंग चैंपियन ने इस मैच में भी पहले के मैचों की तरह ही टेकडाउन कर ग्राउंड एंड पाउंड अटैक से विरोधी को संभलने का कोई मौका नहीं दिया। दूसरे राउंड में “द इंडियन टाइग्रेस” के अटैक का श्रे पोव के पास कोई जवाब नहीं था, ऐसे में रेफरी ने दूसरे राउंड में 2 मिनट और 2 सेकंड बीत जाने के बाद मैच समाप्ति की घोषणा की। इस मुकाबले को अपने नाम करते ही फोगाट ने जीत की हैट्रिक पूरी की और अपने परफेक्ट रिकॉर्ड को कायम रखा।

वो अब 2020 के अपने तीसरे मुकाबले को जीतकर शानदार साल का अंत शानदार अंदाज में करना चाहेंगी।

ये भी पढ़ें: मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डेब्यू का 1 साल पूरा होने पर ऋतु फोगाट ने सभी को शुक्रिया कहा