मॉय थाई

कैसे वंडरीएवा के बेटे ने उन्हें मॉय थाई में वापसी के लिए प्रेरित किया

जनवरी 7, 2022

एकातेरिना “बार्बी” वंडरीएवा के लिए एक मां की भूमिका निभाना सबसे कठिन, लेकिन सबसे अच्छा काम भी रहा है।

शुक्रवार, 14 जनवरी को ONE: HEAVY HITTERS के स्ट्रॉवेट मॉय थाई मैच में 30 वर्षीय बेलारूसी स्ट्राइकर का सामना थाई स्टार सुपरगर्ल से होगा। वो मानती हैं कि उनके 4 वर्षीय बेटे, टिमुरचिक, के कारण उनका जीवन पूर्ण हुआ है।

एक फीमेल फाइटर के लिए बच्चे के पालन-पोषण के साथ-साथ खेल के करियर में आगे बढ़ना बहुत मुश्किल होता है, लेकिन इससे वंडरीएवा को कोई दिक्कत नहीं हुई।

उन्होंने ही अपने परिवार को आगे बढ़ाने का फैसला लिया था। इस फैसले के कारण उन्होंने अपने जीवन में कुछ बदलाव भी किए।

उन्होंने बताया, “मेरी उम्र 20 साल रही होगी, जब मैंने अपने परिवार को आगे बढ़ाने के बारे में सोचा। इससे मेरे ऊपर मानसिक दबाव बढ़ने लगा था क्योंकि मैं ट्रेनिंग करते हुए अपनी सुरक्षा पर कुछ ज्यादा ही ध्यान दे रही थी।”

“ये मुझे टाइटल्स जीतने से नहीं रोक पाया, लेकिन मेरे लिए बाधा जरूर पैदा की।

“बच्चे के जन्म के बाद मुझे बहुत राहत मिली। जीवन बहुत आसान हो गया है और अब लगता है जैसे मुझे किसी के लिए कुछ जरूर करना है।”

Pictures from the ONE Super Series Muay Thai fight between Jackie Buntan Ekaterina Vandaryeva at "ONE on TNT IV"

“बार्बी” ने अपने बेटे के पालन-पोषण के लिए 2016 से 2019 तक फाइटिंग छोड़ने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि ये बेहद कठिन दौर था, लेकिन इससे उन्हें बहुत फायदा भी हुआ है।

उन्होंने कहा, “मैं अपने पढ़ाई के दिनों में पढ़ने के साथ, काम, ट्रेनिंग करती और शहर से काफी दूर के गांव में रहती थी। मैं दिन में केवल 4 घंटे सो पाती, लेकिन बच्चे के पालन-पोषण के मुकाबले मेरे लिए ये सब भी आसान था।”

“बच्चे की जिम्मेदारी संभालन बहुत बड़ा काम है, खासतौर पर जब दादी/नानी साथ ना हों। अब उसकी उम्र 4 साल हो गई है, स्कूल जाता है, समझता है और मुझे सपोर्ट भी करता है। वो मुझे ऐसे सपोर्ट करता है, जैसे कोई दूसरा व्यक्ति नहीं कर सकता।”

वंडरीएवा ने साल 2019 में फाइटिंग में वापसी की। उनके सामने बहुत बड़ी चुनौती थी, लेकिन वो दोनों भूमिकाओं को अच्छे से निभाने में सफल रही हैं।

उन्होंने कहा, “मैं बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं, फिर चाहे परिस्थितियों को स्थिर रखना काफी मुश्किल ही क्यों ना हो।”

“मैं काम, ट्रेनिंग और घर पर अपने बच्चे की देखभाल भी करती हूं और मुझे इन कामों को करना पसंद भी है क्योंकि सबका अंत अच्छा होता है।”



वंडरीएवा के बेटे टिमुरचिक के लिए अभी समझ पाना मुश्किल है कि उनकी मां असल में क्या करती हैं। मगर बेलारूसी एथलीट को अपने बेटे की वजह से लगातार आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल रही है।

जहां तक अपने बेटे को मार्शल आर्ट्स में लाने की बात है, Kick Fighter Gym की स्टार ने इस बारे में कुछ तय नहीं किया है क्योंकि वो जानती हैं कि मार्शल आर्ट्स कितना निर्दयी हो सकता है।

उन्होंने कहा, “काफी लोग मुझसे पूछ चुके हैं कि क्या मैं अपने बेटे को भी मार्शल आर्ट्स के लिए तैयार कर रही हूं। मैंने कहा, ‘बिल्कुल नहीं, मैं उन्हें इस निर्दयी खेल के पास भी नहीं जाने देना चाहती। मैं बहुत चोटों का शिकार हुई हूं, जिनसे उबर पाना बहुत कठिन था।'”

“मैं दूसरे नजरिए से सोचती हूं कि अगर ये खेल, मेरे टाइटल्स, मेरी जीत ही नहीं होती तो मैं इस मुकाम पर नहीं पहुंच पाती। कभी-कभी आप गोल्ड मेडल जीतकर पोडियम पर खड़े होकर रोने लगते हैं और आपको अहसास होता है कि आप दुनिया के बेस्ट फाइटर हैं।

“ये खेल आपके असली कैरेक्टर को सामने लाता है और इससे आपको पता चलता है कि आप किस हद तक किसी चीज़ को झेल सकते हैं। ये चीज़ें मेरे हिसाब से एक पुरुष के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती हैं।”

इस सबसे अलग वंडरीएवा भविष्य में अपने बेटे के सभी फैसलों का सम्मान करेंगी और उनपर गर्व भी महसूस करती हैं।

उन्हें जरूर अपनी मां द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियों से प्रेरणा मिलेगी। मगर वंडरीएवा को यहां से 2 राह नजर आ रही हैं और अपने बेटे की वजह से उन्हें अच्छा इंसान बनने में भी मदद मिली है।

उन्होंने कहा, “जब आपके पास कोई प्रेरणा का स्रोत हो तो आप बहुत अच्छा महसूस करते हैं।”

“मेरा बेटा बिल्कुल मेरी तरह है। मैं हमेशा कहती हूं कि मैंने ऐसे बेटे को जन्म दिया है, जिसे अपने जैसा बनते देखना चाहती हूं।”

ये भी पढ़ें: आयगुन की क्रीकलिआ को चेतावनी: ‘मैं तुम्हें नॉकआउट करने वाला हूं’

और लोड करें

Stay in the know

Take ONE Championship wherever you go! Sign up now to gain access to latest news, unlock special offers and get first access to the best seats to our live events.
By submitting this form, you are agreeing to our collection, use and disclosure of your information under our Privacy Policy. You may unsubscribe from these communications at any time.