मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

Flashback Friday: रीनियर डी रिडर ने अपनी धमाकेदार डेब्यू जीत को याद किया

रीनियर “द डच नाइट” डी रिडर ने ONE: HEROE’S ASCENT में अपने पहले मैच में ही दर्शा दिया था कि उनके ONE मिडलवेट वर्ल्ड चैंपियन बनने के सपने की शुरुआत हो चुकी है।

नीदरलैंड्स के ब्रेडा शहर से आने वाले एथलीट ने 25 जनवरी 2019 को फिलीपींस की राजधानी मनीला में स्थित मॉल ऑफ एशिया एरीना में अपना प्रोमोशनल डेब्यू “किंग कोंग वॉरियर” फैन रोंग के साथ मुकाबले से किया था। वो जानते थे कि ये उनके मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर का सबसे अहम पड़ाव है।

Reinier De Ridder puts Fan Rong to sleep with a TIGHT D’Arce choke at 1:51 of Round 1!

Reinier De Ridder puts Fan Rong to sleep with a TIGHT D’Arce choke at 1:51 of Round 1!Watch the full event LIVE & FREE on the ONE Super App ???? http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast

Posted by ONE Championship on Friday, January 25, 2019

थोड़ी घबराहट के बाद भी 29 वर्षीय स्टार ने इस मौके को खाली नहीं जाने दिया और उन्होंने ONE Championship के अपने पहले मुकाबले में शानदार जीत दर्ज की थी।

उन्होंने बताया, “मेरा डेब्यू मनीला में फैन रोंग के खिलाफ हुआ, जो पिछले 12 मैचों से अपराजित रहे थे। बिना कोई संदेह ये मेरे लिए पहले से कहीं अधिक बड़ा चैलेंज था इसलिए मुझे हर हालत में इस मैच में अच्छा प्रदर्शन ही करना था।”

“मैं मनीला में समय से पहले ही पहुँच गया था। मैंने एरीना को देखा और मुझे बताया गया कि करीब 20,000 लोग यहाँ मौजूद होंगे, इसलिए फाइट से पहले मुझे ये तय करना था कि क्राउड का सामना कैसे कर पाऊंगा। लेकिन सच कहूँ जब मैं एरीना में दाखिल हुआ तो क्राउड के बारे में मुझे कोई ख्याल नहीं आ रहा था।”



डी रिडर का लक्ष्य एक ही था कि उन्हें ONE में मौजूद एलीट लेवल के एथलीट्स में शामिल होना है। हजारों की संख्या में क्राउड का दबाव और तगड़ा प्रतिद्वंदी होने के बाद भी उन्हें अपने प्लान पर टिके रहना था।

उन्होंने बताया, “जब मैं रैंप पर आया तो मेरे दिमाग में केवल यही बात घूम रही थी कि मुझे अपना बेस्ट प्रदर्शन करना है। मुझे केवल अपने गेम प्लान पर फोकस रखना है और उस रात मैंने वैसा ही किया।”

डच स्टार मानसिक रूप से काफी अच्छा महसूस कर रहे थे और उन्हें रोक पाना लगभग असंभव साबित हो रहा था।

Reinier de Ridder during his walkout

डी रिडर ने रोंग को बिना देरी किए मैट पर ला दिया था और उसके बाद साइड कंट्रोल प्राप्त किया। यहाँ से उन्होंने किमूरा लगाने की कोशिश की लेकिन जब उनके प्रतिद्वंदी इससे बच निकलने में सफल रहे तो “द डच नाइट” ने उन्हें एक बार फिर अपने गेम प्लान में फंसा लिया था।

उन्होंने बताया, “मैंने पहले डार्स चोक की भविष्यवाणी की थी। जब कमेंटेटर ने मुझसे पूछा कि, ‘आप फाइट को कैसे फिनिश करना चाहते हैं,’ मैंने इसी तकनीक का नाम लिया था क्योंकि ट्रेनिंग में मैंने इस पर बहुत अधिक ध्यान दिया था।”

“जैसे मैंने साइड कंट्रोल प्राप्त किया, उन्होंने किमूरा को रोकने के लिए इससे बच निकलने का प्रयास किया। उन्होंने पैर से झटका मारा और इससे बाहर निकलने लगे लेकिन जब मैंने उन्हें जानबूझकर निकलने की जगह दी तो वो उसी में फंस बैठे।

“जब वो मेरी तरफ आए, तो मैंने डार्स चोक लगाया और दबाव बढ़ाता रहा। मैंने सोचा बस अब मैच फिनिश होने वाला है और मैच पूरी तरह मेरी पकड़ में है लेकिन वो टैप आउट नहीं कर रहे थे। मैंने दूसरे मूव को लगाने की कोशिश की लेकिन वो इससे बाहर निकलने में सफल रहे।”

Holland's Renier De Ridder locks a D'Arce choke on Fan Rong

अभी मैच को शुरू हुए 1:51 मिनट ही हुए थे कि Combat Brothers के प्रतिनिधि ने “किंग कोंग वॉरियर” पर चोक लगाया और ONE में अपनी पहली जीत हासिल की और इसके साथ-साथ अपने अपराजित रिकॉर्ड को भी 10-0 किया।

अब जब उन्हें जीत मिल चुकी थी तो वो राहत की सांस ले सकते थे।

उन्होंने कहा, “अपने डेब्यू मुकाबले में सफलता प्राप्त करना एक सुखद एहसास रहा। सच कहूँ तो मुझे इस बात से फर्क नहीं पड़ा कि कैसे मैंने अपने करियर की शुरुआत 20 लोगों के सामने हुए मैच से की और अब 20,000 लोगों के सामने।”

“लोगों के होने का एहसास मुझे तभी हुआ जब मैच समाप्त हो चुका था। उसके बाद मैंने लोगों को देखा तो घबराहट को अपने अंदर ही समेट लिया। फाइट के दौरान मेरा ध्यान मेरे गेम प्लान और अपने प्रतिद्वंदी पर था और उन्हें जल्द से जल्द फिनिश करने पर भी।”

Reinier De Ridder celebrates his victory against Fan Rong

उसके बाद भी डी रिडर 2 और मैचों में धमाकेदार जीत दर्ज कर चुके हैं और उन्हें अगले मैच के लिए ONE मिडलवेट वर्ल्ड टाइटल शॉट मिल गया है।

लेकिन इससे पहले उन्हें मौजूदा चैंपियन आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग और विटाली बिगडैश की प्रतिद्वंदिता के समाप्त होने का इंतज़ार करना होगा।

अगर “द डच नाइट” उसी तरह का प्रदर्शन कर पाते हैं जैसा उन्होंने अपने डेब्यू मैच में किया था तो वो चैंपियन के सामने संभव ही कड़ी चुनौती पेश कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: हिमांशु कौशिक ने COVID-19 महामारी, उससे बने हालात और खुद के जीवन में आए बदलावों पर बात की