मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

ONE Championship में अगिलान थानी के टॉप 5 यादगार पल

केवल 24 साल की उम्र में अगिलान “एलीगेटर” थानी ने ONE Championship में अपार सफलता प्राप्त की है।

मलेशियाई वेल्टरवेट स्टार ने साल 2015 में अपना प्रोमोशनल डेब्यू किया था और लगातार 6 मैचों में जीत दर्ज कर 2 साल बाद ONE वर्ल्ड टाइटल शॉट भी हासिल किया। हालांकि, वो चैंपियन तो नहीं बन पाए लेकिन उसके बाद भी वो लगातार अपने प्रतिद्वंदियों को हराते रहे हैं, फिर चाहे बात सर्कल की हो रही हो या फिर उनके व्यक्तिगत जीवन की।

ग्लोबल स्टेज के अनुभव ने उन्हें बहुत चीजें सिखाई हैं और एक अच्छा मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट बनने में भी मदद की है। अब उनके पास इस स्पोर्ट का अच्छा ज्ञान है और वो साल 2020 में एक बार फिर वर्ल्ड टाइटल शॉट हासिल करने की राह पर चल पड़े हैं।

यहाँ आप देख सकते हैं Monarchy MMA के मेंबर के टॉप 5 पल जिन्होंने उनके करियर को सफल बनाया है।

ONE से आया कॉल

MIMMA वेल्टरवेट चैंपियन बनने के कुछ ही महीने बाद थानी ने खुद के लिए टारगेट सेट किए थे, जिन्हें वो अपने प्रोफेशनल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर में पाना चाहते थे।

इनमें से कई भविष्य के प्लांस थे और ONE में मुकाबला करना भी उनमें से एक रहा।

ONE को दुनिया के सबसे टैलंटेड स्टार्स को साइन करने के लिए जाना जाता है इसलिए “एलीगेटर” को अपने करियर के शुरुआती दिनों में ONE से कॉल मिलने की ज्यादा उम्मीद नहीं थी।

लेकिन साल 2015 में जब उन्हें कंपनी के अधिकारियों द्वारा कॉल आया और उन्हें कॉन्ट्रैक्ट ऑफर किया तो वो चौंक उठे।

थानी ने उस पल को याद करते हुए कहा, “शुरू में मुझे लगा कि मैं इसके लिए अभी तैयार नहीं हूँ लेकिन जेसन लो (MIMMA के संस्थापक) ने मुझे बुलाया और कहा कि ये बहुत बड़ा मौका है और मुझे इसे जरूर स्वीकार करना चाहिए।”

“मैं ऐसे कई लोगों को जानता था जिन्होंने ONE से ऑफर प्राप्त करने के लिए कई सालों तक कड़ी ट्रेनिंग की थी, वहीं मुझे केवल एक प्रो फाइट के बाद ही कॉल आ गया था।

“मैं शुरू में डरा हुआ था लेकिन मैंने कॉन्ट्रैक्ट को स्वीकार किया और सोचा कि एक ना एक दिन सभी को मुझ पर विश्वास जरूर होगा।”

मलेशियाई स्टार शुरुआत से ही अपनी बात पर अडिग रहे। उन्हें ONE: AGE OF CHAMPIONS में प्रोमोशनल डेब्यू करते हुए रींट फेब्रीज़ा रेनीर को TKO (तकनीकी नॉकआउट) से हराने में केवल 80 सेकंड का समय लगा।

दूसरा कॉन्ट्रैक्ट मिला

फरवरी 2017 में ONE: THRONE OF TIGERS में जैफ हुआंग को रीयर-नेकेड चोक लगा सबमिशन से हराने के बाद “एलीगेटर” ने ONE के साथ दूसरा कॉन्ट्रैक्ट साइन किया।

थानी पहले कॉन्ट्रैक्ट के समय एमेच्योर लेवल के चैंपियन हुआ करते थे लेकिन इस समय तक वो खुद को वेल्टरवेट डिविजन के टॉप लेवल मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट्स में शामिल करवा चुके थे।

कुआलालंपुर से आने वाले एथलीट ने लगातार 6 मैचों में स्टॉपेज से जीत दर्ज की थी और ये उनकी मेहनत का ही नतीजा था।

थानी ने बताया, “उन्होंने मेरे लिए जो कुछ किया, उससे ये ONE में मेरे लिए खास मोमेंट्स में से एक रहा।”

“मुझे एक अच्छी डील मिली और ऐसी जगह पर रखा, जहाँ मैं खुद अच्छा महसूस कर पा रहा था। मैं उस दूसरे कॉन्ट्रैक्ट की वजह से आज इतनी सफलता प्राप्त कर पाया हूँ।”

“एलीगेटर” के लिए वो दूसरा कॉन्ट्रैक्ट उस चीज का प्रतीक था कि कंपनी को उन पर पूरा भरोसा है।

उन्होंने आगे कहा, “उस कॉन्ट्रैक्ट से पता चला कि ONE के अधिकारी मुझे एक लो-ग्रेड फाइटर के रूप में नहीं देखते हैं। उन्होंने मेरा सम्मान किया और इसी कारण मेरा अपनी स्किल्स पर भरोसा और भी बढ़ गया है।”

ONE फैमिली से जुड़े

थानी ने चाहे दूसरा कॉन्ट्रैक्ट मिलने के बाद ज्यादा सम्मानित महसूस किया हो लेकिन जब उन्हें पहली बार जनवरी 2018 में फिलीपींस में हुई ONE Elite Retreat के लिए कॉल आया तो उन्हें एहसास हुआ कि वो ONE फैमिली का एक अभिन्न हिस्सा बन चुके हैं।

उस सफर के दौरान मलेशियाई एथलीट को एक यादगार मोमेंट का हिस्सा बनने का मौका मिला और आज भी वो पल उनके दिल के बेहद करीब है।

उन्होंने कहा, “वो पल वाकई में मेरे दिल के बेहद करीब है।”

“ONE के चेयरमैन और सीईओ चाट्री सिटयोटोंग ने एक स्पीच दी और कहा, ‘अगर आप लोगों को कुछ चाहिए तो ये लीजिए मेरा नंबर, मुझे आप कभी भी कॉल कर सकते हैं।”‘

“मुझे ऐसा लगा जैसे मैं किसी खास चीज का हिस्सा बन चुका हूँ। उन्होंने ऐसी शानदार ट्रिप का आयोजन किया और अब हमारे बॉस भी हमें पहचानने लगे हैं।”

सिटयोटोंग द्वारा कहे गए शब्द खोखले नहीं थे क्योंकि जब थानी ने उन्हें मैसेज किया और सिटयोटोंग ने उनके मैसेज का जवाब भी दिया तो वो बेहद खुश हो उठे।

उन्होंने बताया, “उन्होंने तुरंत मेरे मैसेज का जवाब दिया, इसलिए आप सोच सकते हैं कि वो पल मेरे लिए कितना खास रहा होगा। अधिकतर बॉस अपने एथलीट्स को पहचानते नहीं हैं इसलिए मुझे उनके द्वारा जवाब मिलने से काफी खुशी महसूस हुई।”

शानदार तरीके से फॉर्म में वापसी की

मलेशियाई स्टार को साल 2018 में काफी कड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ा।

उन्हें कुआलालंपुर में लगातार 2 मैचों में हार झेलनी पड़ी, कमर की सर्जरी हुई और इसी कारण उन्हें कुछ महीने बिना फाइट के गुजारने पड़े।

ये सौभाग्य की बात रही कि थानी इस बुरे दौर से उबरने में सफल रहे और ONE: LEGENDARY QUEST के वेल्टरवेट कॉन्टेस्ट में उनका सामना जापानी मार्शल आर्ट्स लैजेंड योशिहीरो “सेक्सी यामा” अकियामा से हुआ।

इस जीत से थानी का गिरा हुआ मनोबल वापस आ चुका था और Monarchy MMA में वो बेहद कड़ी ट्रेनिंग कर रहे थे, जिससे वो वापस अपनी फ़ॉर्म में वापसी कर सकें। वो कैंप बेहद खास था और वहीं से उनके करियर को एक नई राह भी मिली।

उन्होंने माना, “अकियामा के साथ मैच मेरे लिए एक खास मोमेंट रहा क्योंकि वो उस वक्त तक का मेरा सबसे लंबा मैच रहा था। वो दिसंबर 2018 में हुई सर्जरी के बाद मेरा पहला मैच रहा और अकियामा जैसे लैजेंड के खिलाफ मुकाबले के लिए खुद को तैयार कर पाना बेहद कठिन था।”

“पहले तो मुझे रिकवरी प्रोसेस से गुजरना था, फिटनेस पर ध्यान देना था और अपनी स्किल्स को और भी बेहतर बनाना था। उसके बाद ट्रेनिंग कैंप जहाँ मुझे अपनी मूवमेंट और मूव्स में सुधार करने का मौका मिला। वो काफी कठिन समय रहा लेकिन साथ ही मुझे मजा भी आ रहा था।

“जब मैच की बारी आई तो मैं आत्मविश्वास से भरा हुआ था क्योंकि मैंने इसके लिए पूरी तैयारी की थी। इसी कारण मुझे एक अलग भावना का एहसास हो रहा था।”

आखिरकार चीन में हुए इस मैच में थानी को सर्वसम्मत निर्णय से जीत मिली जो उनके करियर की सबसे बड़ी जीत भी रही थी।

ONE वर्ल्ड चैंपियंस के साथ ट्रेनिंग

थानी पिछले साल दिसंबर में आई डांटे शिरो के खिलाफ विभाजित निर्णय की जीत के बाद सर्कल में वापस नहीं आए हैं, लेकिन इससे उनकी खुद के प्रदर्शन में सुधार करने की लालसा कम नहीं हुई है।

मार्च में वो कुआलालंपुर से फ्लोरिड़ा, अमेरिका शिफ्ट हुए जहाँ उन्हें Sanford MMA टीम में ONE फेदरवेट वर्ल्ड चैंपियन मार्टिन “द सीटू-एशियन” गुयेन, 2-डिविजन के ONE वर्ल्ड चैंपियन आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग और हेनरी हूफ्ट जैसे महान ट्रेनर की निगरानी में ट्रेनिंग का मौका मिला है।

ना केवल आंग ला ने मलेशियाइ स्टार को नई चीजें सीखने में मदद की बल्कि वो अमेरिका की इस बेहद बड़ी और खास जिम में नए मूव्स भी सीख पा रहे थे।

थानी ने कहा, “मार्टिन और आंग ला जैसे टॉप स्टार्स के साथ ट्रेनिंग करना ही मेरे लिए सम्मान की बात है और इस समय इस मौके का भरपूर आनंद ले रहा हूँ।”

“एक ही कमरे में उनके साथ वहाँ दूसरे वर्ल्ड चैंपियंस भी मौजूद हैं, इससे मुझे खुद में सुधार करने में आसानी हो रही है। वो सभी मुझसे काफी अच्छा बर्ताव कर रहे हैं और मदद भी कर रहे हैं। यहाँ तक कि आंग ला ने मुझे ट्रेनिंग के बाद मेरे रूम पर छोड़ने भी आए।

“इसके अलावा हेनरी हूफ्ट और अन्य टॉप लेवल के कोचों की निगरानी में ट्रेनिंग करना मेरे लिए एक बड़ी मदद का स्त्रोत रहा है। उन्होंने 2 बार मुझे ट्रेनिंग कराने के लिए पैड्स भी पकड़े हैं, ऐसा मौका शायद ही कभी दूसरे एथलीट्स को मिला हो।”

ये भी पढ़ें: ONE Championship के इतिहास के सबसे शानदार वर्ल्ड टाइटल नॉकआउट्स