ONE Fight Night 6 में टोनन और आंग ला न संग ने किए फिनिश, स्टैम्प और रोडटंग को मिली निर्णय से जीत

Aung La N Sang unleashing ground and pound on his opponent Gilberto Gilvao

ONE Championship ने साल 2023 की शुरुआत थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक के इम्पैक्ट एरीना में मार्शल आर्ट्स के यादगार शो के साथ की।

ONE Fight Night 6: Superbon vs. Allazov में 3 वर्ल्ड टाइटल मैच शामिल किए गए थे। ऐसे में शुक्रवार, 13 जनवरी (भारत में शनिवार, 14 जनवरी) को शुरुआती रोमांचक मुकाबले के साथ फैंस यूएस प्राइमटाइम पर लाइव दिखाए जा रहीं सभी बाउट्स को लेकर उत्साहित दिखे।

एक ताकतवर नॉकआउट से लेकर आसान सबमिशन के साथ कई सारे सुपरस्टार्स ने जबरदस्त वापसी की। तो आइए जानते हैं कि इस इवेंट के पहले 5 मुकाबलों के क्या नतीजे रहे।

आंग ला न संग ने पहले राउंड में TKO के जरिए गल्वाओ को हराया

आंग ला “द बर्मीज़ पाइथन” न संग ने शोर-शराबे और ऊर्जा से भरे वातावरण में सर्कल तक लंबी वॉक की। फैंस के उत्साह के बदले म्यांमार के आइकॉन ने दर्शकों को नॉकआउट का तोहफा दिया और यही देखने तो फैंस इवेंट में आए हुए थे।

215-पाउंड के कैचवेट MMA मुकाबले में पूर्व मिडलवेट और लाइट हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियन शुरुआत से लेकर अंत तक जिल्बर्टो “जीबा” गल्वाओ पर हावी होते नजर आए। उन्होंने केवल 89 सेकंड में ब्राजीलियाई एथलीट को हराते हुए उन पर स्ट्राइक्स की बौछार कर दी।

Kill Cliff FC के प्रतिनिधि के खिलाफ गल्वाओ मुकाबले में शामिल हुए थे और आते ही उन्होंने अपने ताकतवर पंच चलाने शुरू कर दिए थे। हालांकि “द बर्मीज़ पाइथन” ने इस दौरान धैर्यता नहीं खोई और अपने विरोधी पर उन्होंने तेज-तर्रार अपरकट से हमला किया।

Astra Fight Team के प्रतिनिधि खुद को संभालते हुए वापस अपने पैरों पर खड़े हुए और सिंगल लेग टेकडाउन से वो आंग ला न संग को सर्कल की दीवार तक ले गए। ऐसे में एक बार फिर से पूर्व 2-डिविजन चैंपियन ने अपने अंडरहुक का इस्तेमाल करते हुए बाजी अपने पक्ष में कर ली और मुकाबले को खड़े रहकर ही आगे बढ़ाते रहे।

क्लिंच में 37 साल के एथलीट ने कुछ खतरनाक एल्बो लगा दीं और अपने अंतिम वार से गल्वाओ को फिर से कैनवास पर गिरा दिया।

इसके बाद आंग ला न संग ने निर्णायक हमला करते हुए कई सारे पंचों और हैमरफिस्ट लगाकर करियर का 28वां फिनिश हासिल किया। साथ ही अपने रिकॉर्ड को बेहतर करते हुए ना सिर्फ 29-13 कर लिया बल्कि मुकाबले में दबदबे वाला प्रदर्शन करने के लिए 50,000 यूएस डॉलर्स का परफॉर्मेंस बोनस भी हासिल किया।

जिदुओ पर रोडटंग ने हासिल की मनोरंजक जीत

शनिवार को रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन ने ONE में अपने स्ट्राइकिंग रिकॉर्ड को बढ़ाकर 13-0 कर लिया है। साथ ही एक और स्पोर्ट में ONE वर्ल्ड टाइटल जीतने के लिए खुद को दमदार प्रतिद्वंदी के रूप में स्थापित किया।

मौजूदा ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने 23 साल के प्रतिभाशाली चीनी एथलीट “द ईगल ऑफ यी” जिदुओ यिबु के साथ कैचवेट के तहत किकबॉक्सिंग रूल्स में मुकाबला किया और आसान सर्वसम्मत निर्णय के जीत दर्ज कर सर्कल से वापस लौटे।

थाई एथलीट ने तेजी से आगे बढ़ते हुए जिदुओ को अपनी किक्स और पंचों से नुकसान पहुंचाया और शुरुआत में ही उन्हें 8 काउंट का जवाब देने के लिए मजबूर कर दिया। इस दौरान इम्पैक्ट एरीना में मौजूद घरेलू दर्शकों ने उनका उत्साह बढ़ाया।

इसके बाद जिदुओ ने ग्राउंड पर पैर जमाने की कोशिश की और बीच-बीच में “द आयरन मैन” पर पंच और किक्स के कॉम्बो चलाए। इन हमलों पर रोडटंग ने अपने चिर-परिचित अंदाज में हाथ बाहर निकाले और सिर हिलाते हुए विरोधी को उकसाना शुरू किया।

आगे भी मुकाबले में ऐसा वो करते रहे। जिदुओ को अपने पंचों और किक्स से रोडटंग ने लगातार परेशान किया। वहीं, जिदुओ भी रोडटंग की तरह वाहवाही बटोरने में लगे रहे और इन पलों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन होता रहा।

जैसे-जैस मुकाबला आगे बढ़ता गया, हर किसी को पता चलने लगा कि फैसला किसके पक्ष में जाने वाला है।

इस जीत से 25 वर्षीय “द आयरन मैन” को नए ONE फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन सुपरलैक कियातमू9 के खिलाफ वर्ल्ड टाइटल का मौका मिल सकता है, जिन्होंने ONE Fight Night 6 के को-मेन इवेंट में डेनियल पुएर्तस को हराकर खिताब जीता है।

किकबॉक्सिंग मुकाबले में सुपरगर्ल को स्टैम्प ने पछाड़ा

मुकाबले से 24 घंटे से भी कम समय पहले तय हुई बाउट में 3-स्पोर्ट्स की सुपरस्टार स्टैम्प फेयरटेक्स ने स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग के जबरदस्त मैच में प्रतिभाशाली युवा एथलीट एना “सुपरगर्ल” जारूनसाक पर काफी करीबी अंतर से विभाजित निर्णय के जरिए जीत हासिल की।

“सुपरगर्ल” ने पहले राउंड में गजब का हमला बोलकर अपनी साथी थाई एथलीट को कैनवास पर गिराया और तगड़े काम्बिनेशंस लगाए।

हालांकि, पूर्व ONE एटमवेट किकबॉक्सिंग और मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने रफ्तार बढ़ाने के लिए अपने मूवमेंट का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।

दूसरे राउंड के दौरान प्रतिभाशाली 19 वर्षीय एथलीट लगातार दबाव में नजर आईं, जबकि स्टैम्प बाहर से तगड़े जवाबी हमले करती रहीं।

इसके बाद तीसरे राउंड में Fairtex एथलीट अपने पूरे रंग में आ गईं।

“सुपरगर्ल” लंबाई, पहुंच और करीब 10 पाउंड वजन में कम होने बावजूद स्टैम्प ने अपने से काफी बड़ी प्रतिद्वंदी पर भारी-भरकम हमले किए।

नतीजतन, स्टैम्प के सटीक हमलों ने 3 में से 2 जजों को फैसला उनके पक्ष में देने के लिए राजी कर लिया।

इसके साथ ONE के चेयरमैन और सीईओ चाट्री सिटयोटोंग की ओर से 25 साल की एथलीट को उनके प्रयासों के लिए 50,000 यूएस डॉलर्स का परफॉर्मेंस बोनस दिया गया।

नुनेज को जल्दी हराने के लिए टोनन ने किया किमुरा का इस्तेमाल

इवेंट की दूसरी बाउट में गैरी “द लॉयन किलर” टोनन ने फेदरवेट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स डिविजन को इस बात की याद दिलाई कि वो जल्दी कहीं नहीं जा रहे हैं।

MMA में पहली हार के रूप में पिछले साल वर्ल्ड टाइटल मुकाबला हारने के बाद अमेरिकी BJJ सुपरस्टार ने खतरनाक रेसलर जॉनी नुनेज पर शानदार सबमिशन जीत हासिल करने में 2 मिनट से भी कम समय लगाया और आगे की ओर शानदार अंदाज में बढ़ाना जारी रखा।

“जॉनी बॉय” ने टोनन को जकड़ने में जरा भी समय नहीं गंवाया। उन्होंने टोनन को सर्कल वॉल से सटा दिया और उनके शरीर और पैरों पर घुटनों से हमले किए।

हालांकि, नुनेज का ये क्लिंच बेकार चला गया। “द लॉयन किलर” ने जल्द ही उन्हें किमुरा में फंसा लिया और वो रेसलर की पीठ पर चढ़ गए। इसके साथ ही पहले राउंड में केवल 1:53 मिनट पर शोल्डर लॉक लगाकर उन्होंने मुकाबला खत्म कर दिया।

इस बाउट में टोनन फेदरवेट MMA डिविजन के #2-रैंक के कंटेंडर के रूप में शामिल हुए थे और 31 वर्षीय एथलीट जब सर्कल से बाहर आए तो बेल्ट को पाने के और करीब पहुंच गए।

साटो ने दर्ज की किम पर सर्वसम्मत निर्णय के जरिए जीत

इवेंट की शुरुआत शोको साटो की 150-पाउंड की कैचवेट MMA बाउट के साथ हुई, जहां उन्होंने “द फाइटिंग गॉड” किम जे वूंग के खिलाफ एक महत्वपूर्ण जीत दर्ज की।

पहले राउंड की शुरुआत बेहद धीमी रही। ऐसे में एक्शन की कमी की वजह से दोनों फाइटर्स को येलो कार्ड्स थमा दिए गए। इसके बाद नॉकआउट एथलीट्स ने जीत की तलाश में एक-दूसरे के खिलाफ बराबरी से आकर जोर-आजमाइश तेज कर दी।

साटो खतरनाक तरीके से उछलते हुए आगे आए और उन्होंने विरोधी पर कुछ स्ट्रेट्स और जैब्स लगाए, जो निशाने से चूक गए। दूसरी तरफ दक्षिण कोरियाई फाइटर ने उनके जैब्स के पीछे से हमले किए। हालांकि, साटो की विस्फोटक मूवमेंट्स ने पूर्व टॉप रैंक के फेदरवेट कंटेंडर के लिए चीजें मुश्किल बना दी थीं। इसकी वजह से जहां वो चाहते थे, वहां अटैक नहीं कर पा रहे थे।

किम ने दूसरे राउंड के खत्म होने तक अपनी आक्रामकता को बढ़ाना शुरू कर दिया। वहीं, जापानी दिग्गज ने पीछे ना रहते हुए अपनी रफ्तार बनाए रखी और अपने स्ट्रेट राइट के साथ हर तरह के हमले का जवाब देते हुए डटकर मुकाबला किया।

तीसरे राउंड के आते-आते साटो लय में आ चुके थे। उनकी मूवमेंट्स और कॉम्बिनेशंस ने प्रतिद्वंदी को लगातार बैकफुट में धकेलना जारी रखा। वहीं, “द फाइटिंग गॉड” अपनी जानी-पहचानी ताकत का प्रदर्शन नहीं कर पा रहे थे, जो आमतौर पर उनके पंचों में होती है।

3 राउंड तक चले एक्शन के बाद साटो को सर्वसम्मत निर्णय के जरिए विजेता घोषित कर दिया गया। इसके बाद उनका प्रोफेशनल रिकॉर्ड 33-15-2 (1 नो कॉन्टेस्ट) हो गया है।

किकबॉक्सिंग में और

Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800
Jacob Smith Denis Puric ONE Fight Night 21 24