ONE Friday Fights 22 में अंतरिम स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल के लिए होगा सैम-ए और प्राजनचाई का रीमैच

SamA Prajanchai 1200X800

मौजूदा समय के 2 बेस्ट स्ट्राइकर्स दोबारा वर्ल्ड चैंपियन बनने के लक्ष्य को साथ लिए आगे बढ़ रहे हैं।

23 जून को ONE Friday Fights 22 में सैम-ए गैयानघादाओ वापसी के बाद अपने शानदार सफर को जारी रखना चाहेंगे और इस इवेंट में उनका सामना ONE अंतरिम स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में डिविजन के पूर्व चैंपियन प्राजनचाई पीके साइन्चाई से होगा।

मौजूदा ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन जोसेफ “द हरिकेन” लसीरी चोट के कारण अपने टाइटल को डिफेंड कर पाने में असमर्थ हैं।

सैम-ए और प्राजनचाई की प्रतिद्वंदिता

सैम-ए पहले ही ONE Championship के इतिहास में अपनी जगह बना चुके हैं।

39 वर्षीय थाई सुपरस्टार को लेफ्ट किक्स के लिए जाना जाता है और वो ऐसे अकेले फाइटर हैं, जिन्होंने 2 डिविजंस और 2 खेलों में ONE वर्ल्ड टाइटल जीता हो।

उन्होंने मई 2018 में सर्जियो वील्ज़न को नॉकआउट कर सबसे पहला ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल जीता था।

एक साल बाद टाइटल को हारने के बाद सैम-ए स्ट्रॉवेट डिविजन में वापस आए और दिसंबर 2019 में सबसे पहला स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग टाइटल अपने नाम किया और उसके बाद फरवरी 2020 में डिविजन के सबसे पहले मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन भी बने।

मगर सैम-ए के शानदार सफर पर तब ब्रेक लगा, जब जुलाई 2021 में थाई स्टार प्राजनचाई ने उम्मीदों पर खरा उतरते हुए उनपर जीत दर्ज की।

28 वर्षीय प्राजनचाई ने अपने हमवतन फाइटर को बहुमत निर्णय से हराकर ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया था।

उसके कुछ समय बाद सैम-ए ने ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल को छोड़ते हुए रिटायरमेंट का ऐलान किया।

सैम-ए और प्राजनचाई का वापसी का सफर

अगले एक साल में दोनों फाइटर्स के लिए बहुत कुछ बदलने वाला था।

अपने रिश्तेदार और मौजूदा ONE फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन सुपरलैक कियातमू9 को टॉप पर पहुंचते देख सैम-ए के अंदर भी वापसी का जुनून जाग उठा। उन्होंने थाईलैंड में रीजनल लेवल पर 2 फाइट्स कीं और दोनों में जीत दर्ज करने के बाद ONE में वापसी की।

दूसरी ओर, प्राजनचाई को मई 2022 में इटालियन स्टार लसीरी के खिलाफ पहली बार ONE स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल को डिफेंड करना था। उन्हें फैंस का जबरदस्त सपोर्ट प्राप्त था, लेकिन थाई स्टार कड़े संघर्ष के बाद हार मान बैठे।

दोनों एथलीट्स अब दोबारा वर्ल्ड टाइटल जीतना चाहते हैं और उनका ये वापसी का सफर ONE Friday Fights से होकर गुजरा है।

प्राजनचाई ने ONE Friday Fights 1 में कोमपेट सिटसारावटसुएर को हराया और सैम-ए ने ONE Friday Fights 9 में रायन शीहन पर जीत दर्ज करते हुए दिखाया कि वो अब भी डिविजन के सबसे खतरनाक स्ट्राइकर्स में शामिल हैं।

वो अब 23 जून को ONE अंतरिम स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में भिड़ेंगे और इस मैच का विजेता इसी साल आगे चलकर यूनिफिकेशन मैच में लसीरी का सामना करेगा।

ONE Friday Fights 22 से जुड़ी अधिक जानकारी पाने के लिए onefc.com से जुड़े रहिए।

न्यूज़ में और

Blake Cooper Maurice Abevi ONE Fight Night 14 2 scaled
Asha Roka Alyse Anderson ONE157 1920X1280 2
Ham Seo Hee Itsuki Hirata ONE Fight Night 8 25
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE Fight Night 15 14 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 55
Katsuki Kitano Halil Kutukcu ONE Friday Fights 38 27
Puengluang Baanramba Dentungtong Singha Mawynn ONE Friday Fights 56 26
Marat Grigorian Sitthichai Sitsongpeenong ONE 165 1 scaled
Suablack Tor Pran49 Kiamrian Nabati 1200X800
Parham Gheirati Otop Or Kwanmuang ONE Friday Fights 57 3
ParhamGheirati JordanGodtfredsen
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 10 scaled