लाइफ स्टाइल

30 साल या उससे ज़्यादा आयु मार्शल आर्ट्स शुरू करने के लिए उपयुक्त समय है, जानिए क्यों

अगर आपकी उम्र 30 साल या उससे ज़्यादा है और आप ये सोच रहे हैं कि मार्शल आर्ट्स सीखने के लिए अब देर हो चुकी है तो आप गलती कर रहे हैं।

अब क्योंकि आप कम उम्र में जिम जॉइन करके फायदा नहीं उठा पाए तो इसका मतलब ये नहीं है कि मार्शल आर्ट्स के फायदे इस उम्र में नहीं लिए जा सकते हैं।

आगे हम यही जानेंगे कि क्यों 30 साल के बाद भी इस डिसिप्लिन को शुरू करना अच्छा विचार हो सकता है।

आप नए लोगों से मिलते हैं

आपको ये बात माननी होगी कि जब आप 30 साल की उम्र में आते हैं तो आप ज्यादा आराम पसंद हो जाते हैं। अपने सोशल ग्रुप से आपकी नजदीकी घटती चली जाती है।

अगर आप बाहर जाते भी हैं तो अपने किसी कॉलेज के दोस्त या साथ काम करने वाले साथी के साथ मजे करने के लिए जाते हैं।

हालांकि, सबकी तरह आप भी ऐसे नए लोगों से मिलना चाहते हैं, जिनकी चीजें आपसे मेल खाती हों। ऐसा करने के लिए मार्शल आर्ट्स जिम जॉइन करना बढ़िया विकल्प है।

जब आप मार्शल आर्ट्स सीखते हैं तो आपका सामना सकारात्मक सोच वाले लोगों से होता है, जो अच्छी चीजें कर रहे होते हैं।

हो सकता है कि आपकी मुलाकात अपने जीवन के सबसे अच्छे साथी से हो जाए। जैसा कि ONE हेवीवेट चैंपियन ब्रेंडन “द ट्रुथ” वेरा के साथ हुआ।

आप एक अच्छे सहयोगी बन सकते हैं

मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग से ऑफिस लाइफ के लिए भी कई सारे फायदे मिल सकते हैं। लेकिन ट्रेनिंग करने का मुख्य कारण ये भी है कि कोई भी किसी ऐसे के साथ या उसके लिए काम नहीं करना चाहता है, जो तुरंत ही अपना आपा खो दे।

अब क्योंकि मार्शल आर्ट्स में आपको विपरीत परिस्थतियों में भी खुद को शांत रखना होता है। ऐसे में पाएंगे कि काम के प्रेशर को पहले से ज्यादा अच्छी तरह से आप हैंडल कर पा रहे हैं।

और जब ऑफिस में चीजें गलत जा रही होंगी तो आप वो व्यक्ति होंगे, जिससे दूसरे लोग मदद लेना चाहेंगे।



40 साल की उम्र की नींव रखना

जब आप 30 साल की उम्र में होते हैं तो आप अच्छी आदतें डालना चाहते हैं। फिर चाहे खाने-पीने की आदते हों, पैसे बचाना हो या एक्सरसाइज करना हो। दरअसल, ये सभी आदतें आपको आगे आने वाले जीवन में सफल बनाने के लिए तैयार करेंगी।

अगर आप अभी से मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग शुरू करेंगे तो आगे चलकर हेल्दी लाइफस्टाइल के मजे लेंगे। ये आदतें उन बीमारियों से लड़ने में मदद करेंगी, जो उम्र के बीच पड़ाव में लोगों को परेशान करती हैं।

ज्यादातर ऐसा देखा गया है कि जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती जाती है, लोग अपने तरीकों में ढलते जाते हैं। ऐसे में 30 साल की उम्र से ही मार्शल आर्ट्स सीखना शुरू कर देना चाहिए, ताकि अगले दशक में ये आपके जीवन का हिस्सा बन जाए।

इस तरह 41 साल की उम्र में भी पूर्व ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल दावेदार रेने “द चैलेंजर” कैटलन ने The Home Of Martial Arts में युवा एथलीटों के साथ रफ्तार बनाए रखी है।

जीवन जीने का नया नजरिया मिलता है

मार्शल आर्ट्स में आप कई सारे नए व दिलचस्प लोगों से मिलते हैं और हो सकता है कि मार्शल आर्ट्स ट्रेनिंग वेकेशन में आपको बेहतरीन जगहों की यात्रा करने को मिले। ऐसे में आपको जीवन जीने का नया नजरिया मिल सकता है।

जब आपका सामना कई तरह के व्यक्तित्व वाले लोगों से होता है, तब आप सीखते हैं कि केवल आपका ही तरीका चीजों को करने का अकेला तरीका नहीं है।

खासकर, ये बात तब सच साबित होती है, जब आप मॉय थाई सीखने के लिए थाइलैंड की यात्रा करते हैं। आप पाएंगे की हर चीज काफी अलग है। ट्रेनिंग फिलॉसफी से लेकर क्लासेज लगने तक हर चीज।

आप कुछ नया सीखेंगे

नई स्किल सीखने के लिए कभी भी कोई बूढ़ा नहीं होता है। 30 साल की उम्र में ब्राजीलियन जिउ-जित्सु जैसी मार्शल आर्ट्स सीखने के लिए आपको अपने दायरे से बाहर जाकर सोचना होता है।

मैट्स पर, काम के दौरान और अपनी पर्सनल जिंदगी में आप चीजों को बेहतर ढंग से सुलझा पाते हैं।

यहां तक कि ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपयिन रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन कभी-कभी मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स सीखने लगते हैं। अगर एक चैंपियन ये तय कर सकता है कि उसे कुछ नया सीखना है तो किसी दूसरे को नई चीज सीखने की शुरुआत करने में कभी देर नहीं होती है।

ये भी पढ़ें: 5 खेल जिनसे हर मार्शल आर्टिस्ट को फायदा होगा