Mixed Martial Arts

मार्शल आर्ट्स ट्रेनिंग कैंप्स का पूरा फायदा कैसे उठाएं

छुट्टियाँ भला इस दुनिया में किसे पसंद नहीं हैं, छुट्टी के सीजन में लोग बहार घूमने जाते हैं जिससे वो खुद के दिमाग को कुछ समय के लिए दूसरी परेशानियों से दूर रख सकें।

पिछले कुछ सालों में छुट्टियों के दौरान ट्रेनिंग करना खासा लोकप्रिय हो चुका है। खासतौर से दक्षिण-पूर्वी एशियाई देशों में यह ज्यादा लोकप्रियता बटोर रहा है। दुनिया की सबसे बेस्ट जिम में खुद को ट्रेन करना और दूसरे देशों की संस्कृति को जानना अपने आप में एक सुखद एहसास है।

हालांकि बहुत बार लोग इन ट्रेनिंग कैंप्स में जाने से कतराते हैं क्योंकि उनके दिमाग में हजारों सवाल उमड़ रहे होते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी ही कुछ बातों के बारे में बताने जा रहे हैं कि इन मार्शल आर्ट्स ट्रेनिंग कैंप्स का आप पूरा फायदा कैसे उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: साइकलिंग से मार्शल आर्टिस्ट्स को मिलने वाले 5 बड़े फायदे

उदार दिमाग रखें

ट्रेनिंग की शुरुआत में खुद को मानसिक रूप से मजबूत करना बहुत ज़रूरी होता है। इसलिए जब भी आप ट्रेनिंग की शुरुआत करें, ध्यान रखें कि बाहर की परेशानियों को बाहर ही छोड़ दें, जिससे आपको नई चीजें सीखने को मिलेंगी।

इस बारे में कार्लो-क्लॉस ने कहा है कि,”हजारों सवालों को दूर रख ट्रेनिंग शुरू करने से पहले आप यह ध्यान रखें कि आप क्या सीखने जा रहे हैं।“ परेशान होकर कोई व्यक्ति कभी स्वस्थ नहीं रह सकता।

दूसरों का सम्मान सबसे पहले

जब कोई व्यक्ति परेशानी झेल रहा होता है तो आमतौर पर वह दूसरों के लिए भी परेशानी खड़ी कर देता है और ऐसे व्यक्तियों के साथ काम करने में किसी को भी आनंद नहीं आता।

जब आप ट्रेनिंग कैंप्स में पहला कदम रखेंगे तो ज़रूर ही आपको अच्छे कोच मिलेंगे और साथ ही वहाँ नए दोस्त भी बनेंगे। अनुभवी लोगों से सीख लेने के लिए उनका आदर करना बेहद ज़रूरी है।

अगर कोई व्यक्ति यह दर्शाने की कोशिश करता है कि वह बेस्ट है, तो ना तो कोई उसका दोस्त बनेगा और ना ही उसे कोई कोचिंग देगा।

यह भी पढ़ें: ब्राजीलियन जिउ-जित्सू के 6 बड़े फायदे

जहाँ भी जा रहे हैं, वहाँ के बारे में रिसर्च करें

दुनिया का लगभग हर एक व्यक्ति कोई नया काम शुरू करने से पहले उसके बारे में रिसर्च करता है और यही चीज फिटनेस ट्रेनिंग पर भी लागू होती है। बेहतर होगा कि पहले आप अच्छी जिम चुनें जहाँ आपको सीखने में भी आनंद का एहसास हो और यदि दूसरे देश में ट्रेनिंग ले रहे हैं तो ध्यान रखिए कि वहाँ के भी कुछ नियम हैं।

बहुत से लोग जो विदेश में ट्रेनिंग लेते हैं वो होटल में ठहरते हैं इसलिए जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी सीखने की कोशिश करें और इस पूरे सफर का आनंद उठाएं।

कार्लो क्लॉस कहते हैं कि,”जहाँ भी आप जा रहे हैं पहले वहाँ के बारे में थोड़ा जानने की कोशिश करनी चाहिए। क्या आप ट्रेनिंग कैंप में ही ठहरने वाले हैं या फिर किसी नजदीकी होटल में। अगर होटल में भी ठहर रहे हैं तो वह आपके कैंप से कितनी दूर है क्योंकि ज्यादा सफर से ज्यदा थकान होती है और इसका सीधा असर ट्रेनिंग पर पड़ता है।“

यह भी पढ़ें: प्रशिक्षण अवकाश के दौरान एशिया में देखने लायक 3 जिम

साथ-साथ छुट्टियों का आनंद भी लेते रहें

ट्रेनिंग पूरे दिन जारी नहीं रहती इसलिए बाकी समय में आप दूसरी जगह की संस्कृति को समझने की कोशिश करें। आखिरकार आप छुट्टियों के सीजन में ट्रेनिंग कर रहे हैं ना कि ट्रेनिंग सेशन के समय छुट्टियों का आनंद ले रहे हैं।

यह एक ऐसी दुनिया है जहाँ नए दोस्त बनाना बेहद ज़रूरी है क्योंकि उनसे आपको काफी कुछ सीखने को भी मिलता है।

साफ कपड़े पहनें

आपके दिन का अधिकतर समय हो सकता है कि ट्रेनिंग में ही बीते इसलिए अच्छा यही होता है कि गंदे कपड़ों को को बार-बार ना पहनें।

कार्लो क्लॉस ने कहा है कि,”लोगों को ट्रेनिंग के लिए अलग और आम जीवन व्यतीत करने के लिए अलग कपड़े पहनने चाहिए। कुछ कैंप होते हैं जो आपको ट्रेनिंग के लिए कपड़े मुहैया कराते हैं लेकिन अच्छा यही होता है कि आप खुद के कपड़ों का ज्यादा इस्तेमाल करें। ट्रेनिंग के लिए कम से कम 2 जोड़ी ड्रेस का होना ज़रूरी है।

वहीँ यह एक मान्यता है कि ये ट्रेनिंग कैंप अधिकतर जंगलों में लगाए जाते हैं जो कि पूरी तरह गलत है।

अपना टारगेट खुद तय करें

ट्रेनिंग सेशंस की सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप अपना टारगेट खुद तय करें, फिर चाहे टारगेट छोटे समय के लिए हो या लंबे समय के लिए।

दूसरों से ज़रूर सीखें लेकिन आप कहाँ पहुंचना चाहते हैं यह आपको खुद ही तय करना है, यही जिंदगी का सबसे बड़ा नियम भी है। छोटे टारगेट तय करना अच्छा होता है जिससे आप उन्हें जल्दी और अधिक मेहनत के बिना प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: 5 तरीके जिनसे क्रॉसफिट आपकी मार्शल आर्ट्स स्किल्स में सुधार ला सकता है

परेशानी की कैंप्स में कोई जगह नहीं है

यह दुनिया का सबसे बड़ा सच है कि कोई व्यक्ति जब कोई काम शुरू करता है तो उसे अपने लक्ष्य तक पहुंचने का डर सता रहा होता है। परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि हम पहले भी कह चुके हैं कि आप छुट्टियों के सीजन में ट्रेनिंग कर रहे हैं ना कि ट्रेनिंग सेशन में छुट्टियां मना रहे हैं। जितना आप परेशानियों को खुद से दूर रखेंगे, उतना ही आपको नई चीजें सीखने में मजा आएगा।

कार्लो क्लॉस कहते हैं कि,”ट्रेनिंग कैंप्स को लेकर एक मान्यता यह भी है कि लोग इन्हें फाइट क्लब्स समझने की भूल कर बैठते हैं। कैंप्स में ज्यादा से ज्यादा दोस्ताना रवैया अपनाया जाता है जिससे सीखने वाले लोगों को अच्छा अनुभव मिल सके।“

यह भी पढ़ें: 10 तरह के मार्शल आर्ट्स जो आपको ONE CIRCLE में देखने को मिलेंगे