कैसे स्मिला संडेल ने शुरुआत में डर को काबू कर मॉय थाई में सफलता प्राप्त की – ‘मैं डरी हुई थी’

Smilla Sundell Allycia Hellen Rodrigues ONE Fight Night 14 7 scaled

स्मिला “द हरिकेन” संडेल भले ही इतिहास की सबसे युवा ONE वर्ल्ड चैंपियन हों, लेकिन वो आज के समय में दुनिया की सबसे खतरनाक फीमेल स्ट्राइकर्स में से एक हैं।

एक समय ऐसा भी था, जब उन्होंने मॉय थाई जिम में प्रवेश करते हुए हिचक हो रही रही थी। युवा स्वीडिश स्टार ने अपने देश में आत्मरक्षा के लिए कराटे सीखा, मगर जब उनका परिवार थाईलैंड आ बसा तो उन्होंने नए मार्शल आर्ट को सीखने का मन बनाया।

जब संडेल 12 साल की थी तो उन्होंने अपने माता-पिता और छोटी बहन लेया के साथ Yodyut Muay Thai जिम में कदम रखा। जिम में पहले ट्रेनिंग सेशन से पहले स्वीडिश स्टार को बेचैनी हो रही थी।

मौजूदा ONE विमेंस स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने इस बारे में कहा:

“मैं डरी हुई थी क्योंकि मैं बहुत छोटी थी। मेरे साथ मेरा परिवार और बहन थी इसलिए शुरुआती पांच मिनट के बाद चीजें आसान हो गईं। हमने पहले प्राइवेट ट्रेनिंग ली और उसके बाद ग्रुप क्लास जॉइन की।”

पहली बार ट्रेनिंग कर रही संडेल और उनकी बहन के चारों ओर जिम में प्रोफेशनल फाइटर और एमेच्योर फाइटर थे।

स्वीडिश स्टार शुरुआत में खुद को फिट रखने के लिए ट्रेनिंग शुरु की थी, लेकिन उन्हें मैट पर बड़े और तगड़े फाइटर्स देखकर कुछ अलग महसूस हुआ।

उन्होंने कहा:

“आप बड़ी मसल्स के साथ बड़े लोगों को देखते हो तो ये डरावना सा लगता है। लेकिन मैं जानती थी कि मैं उनसे फाइट नहीं कर रही। मैं सिर्फ खुद को फिट करने के लिए एक्सरसाइज कर रही थी।”

जल्द ही “द हरिकेन” को अहसास हुआ कि उन्हें कोई डर नहीं है।

बड़े प्रोफेशनल फाइटर्स का सामना करने की बजाय संडेल ने युवाओं के साथ मॉय थाई की ट्रेनिंग की और अच्छे वातावरण से उनके मॉय थाई करियर की नींव पड़ी।

संडेल ने कहा:

“जिम में बहुत सारे ट्रेनर्स थे, जिन्होंने हमारा ध्यान रखा। उनमें कुछ प्रोफेशनल और कुछ बिगिनर्स थे। इससे काफी मदद मिली।”

स्मिला संडेल को परिवार के साथ की वजह से कामयाबी मिली

स्मिला संडेल के पास डर की कोई वजह नहीं है, लेकिन वो मानती हैं कि पहले संकोच करती थीं।

स्वीडिश स्ट्राइकर को लगता था कि परफेक्ट तकनीक के प्रयास में खुद को शर्मिंदा कर देंगी और वो नहीं चाहती थी कि ऐसा करते हुए कोई घूरकर उन्हें देखे या मजाक बनाए।

उन्होंने कहा:

“मैं गलतियां नहीं करना चाहती थी। मैं पैड्स को किक करते हुए अजीब लग रही थी। मैं घबराई हुई थी कि कुछ गलत ना करूं, जिससे लोग मेरी तरफ देखें।”

इसके लिए संडेल ने एक खास तरीका निकाला। उन्होंने अपनी छोटी बहन लेया को इन तकनीकों को करने के लिए कहा ताकि उन्हें मूवमेंट समझने का मौका मिले और उन्हें राहत हासिल हो।

स्वीडिश स्टार ने बताया:

“मैं मानती हूं कि हर नई चीज असहज बनाती है। मेरे लिए ये काफी मुश्किल था। लेकिन मैंने अपनी बहन को ये सब करने के लिए कहा और उसके बाद खुद किया।”

अब मौजूदा ONE विमेंस स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन अपने परिवार के साथ ट्रेनिंग नहीं करतीं।

संडेल का कहना है कि अब वो खुद को मुश्किल परिस्थितियों में पाकर बेचैन नहीं होतीं और सुधार करने का प्रयास करती हैं।

उन्होंने बताया:

“मैं खुद का सर्वश्रेष्ठ रूप बनना चाहती हूं और जिस चीज से प्यार करती हूं, उसके जरिए अपने लक्ष्यों तक पहुंचना चाहती हूं। मुझे मेरे परिवार से बहुत साथ मिलता है, भले ही अब वो मेरे साथ ट्रेनिंग नहीं करते।”

https://www.instagram.com/p/CstdUyNJFSK/

किकबॉक्सिंग में और

Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800
Jacob Smith Denis Puric ONE Fight Night 21 24