मॉय थाई

ताकतवर मॉय थाई डिफेंस पाने के लिए 5 जरूरी बातें

मॉय थाई अन्य कॉम्बैट स्पोर्ट्स से काफी अलग है क्योंकि इसमें काफी सारी चीज़ों का ध्यान रखना जरूरी है।

“द आर्ट ऑफ 8 लिंब्स” में पंच, किक्स, नीज़, कोहनी और स्वीप्स तक सारी चीज़ें रहती है, ये सारे अटैक्स आपकी डिफेंसिव स्किल्स की परीक्षा लेते हैं।

यहां तक कि विश्व स्तरीय अनुभवी प्रतियोगी भी कई बार खुद को मुश्किलों में पाते हैं। इस वजह से मॉय थाई को सीखने की शुरुआत करने वाले हर व्यक्ति को अनुशासन काफी ज्यादा महसूस होता है।

आपको ज्यादा कंफर्टेबल बनाने के लिए जानें कुछ तरीकों के बारे में जो दुनिया के सबसे विविध स्ट्राइकिंग आर्ट्स में आपके डिफेंस को मजबूत करेगा।

एक टाइट गार्ड

मॉय थाई में खुद को बचाने का तरीका जानना अहम है, खासकर उस समय जब आपके ऊपर हर एंगल से वार हो रहा हो। आपका गार्ड किसी भी चीज़ को चेहरे या सिर पर ताकत से लैंड होने से रोक सकता है लेकिन ये आपके शरीर के हर भाग की रक्षा करने योग्य भी होना चाहिए।

स्पारिंग (प्रैक्टिस) के दौरान, इसका अर्थ है कि आपको एक टाइट गार्ड की आवश्यकता है, जो आपको देखने का मौका देता है कि क्या हो रहा है, जिससे आप जल्द ही पंचों से लेकर किक्स तक सब रोक सकते हैं।

यही चीज़ ONE फेदरवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन पेटमोराकोट पेटयिंडी एकेडमी ने चार्ली “बॉय” पीटर्स के अटैक्स को रोकते समय की थी।

पैरों की चाल

मॉय थाई में फुटवर्क की जरूरत न होना एक गलत तथ्य है।

भले ही आपको बॉक्सर की तरह कूदना नहीं पड़ता लेकिन अगर आपको पता हो कि कैसे दिशा बदलकर अलग हटना है, तो ये आक्रमक स्पारिंग पार्टनर पर हमला करने या बाद में अलग कॉम्बिनेशन लगाने के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकता है।

पकड़ बन जाने के बाद फुटवर्क काफी मुश्किल हो जाता है। बहुत बार क्लिंच पोजिशन से थ्रो करना पैरों के सही उपयोग की वजह से संभव हो पाता है।



सिर की मूवमेंट

अगर आप सोचते हैं कि सिर की मूवमेंट सिर्फ बॉक्सर्स के लिए रहती है तो एक बार और सोचें। जब आप किसी ऐसे व्यक्ति के साथ स्पारिंग करते हैं, जिसे पंच लगाना पसंद है तो आपके लिए सिर की मूवमेंट के बारे में पता होना काफी फायदेमंद हो सकता है।

मॉय थाई में सिर की जगह को बदलना किक्स और पंच रोकने का सबसे अच्छा तरीका है। हालांकि, नियम है कि कभी भी पंच या किक के नीचे न झुकें, जब तक ये चीज़ जरूरी न हो क्योंकि आप घुटने के अटैक के शिकार हो सकते हैं।

साथ ही ध्यान रहें कि आप ज्यादा हेड मूवमेंट्स न करें क्योंकि आपका ट्रेनिंग पार्टनर इसे जल्द ही भांप लेगा और आपके सिर पर पिंडली से हमला करेगा।

अगर आप एक अच्छे उदाहरण की तलाश में हैं तो ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रोडटंग “द आयरन मैन” जित्मुआंगनोन एक अच्छा विकल्प होंगे क्योंकि वो अचानक से सिर को सही तरह मूव करते हैं, जो उनके विरोधी के पंचों को रोकता है।

संतुलन

“द आर्ट ऑफ 8 लिंब्स” में डिफेंस एक और मुख्य पहलू है।

अगर आपका प्रतिद्वंदी किक या पंच लगाता है और वो आपके गार्ड के अंदर तक आ जाता है, तो आपके डिफेंस की अंतिम रेखा भी ताकतवर रहनी चाहिए।

ऐसा करने के लिए आपको संतुलित बनना होगा। इसका अर्थ है कि आपको अपने पैरों को थोड़ा चौड़ा रखना है जिससे आपके ऊपर अटैक होने के दौरान आप गिरे नहीं। इसका अर्थ ये भी है कि आप शॉट लेने के लिए सबसे पहले तैयार होंगे और ये आप समय के साथ सीख जाएंगे।

सही टाइमिंग

अच्छे डिफेंस के लिए टाइमिंग जरूरी है। आप सोचते होंगे कि टीप्स के नाम से प्रसिद्ध पुश किक्स को सिर्फ अपने ट्रेनिंग पार्टनर पर हमला करने के लिए उपयोग करना चाहिए लेकिन मॉय थाई में वो डिफेंस के लिए अहम हथियार साबित हो सकते हैं।

सही तरह से टाइम की गई टीप आपके स्पारिंग पार्टनर को पीछे या जमीन पर धकेल सकती है। जब आप उनके सिर तक आ जाएं तो आप उनपर कोई भी अटैक करने से पहले उन्हें दो बार सोचने पर मजबूर कर सकते हैं।

दो खेलों के ONE वर्ल्ड चैंपियन सैम-ए गैयानघादाओ की टाइमिंग इतनी अच्छी है कि वो अपने विरोधी पर किक इतनी तेज़ी से लगा देते हैं कि उनके प्रतिद्वंदी को इसे रोकने का मौका ही नहीं मिलता।

ये भी पढ़ें: नोंग-ओ ने बेहतर बॉडीवेट ट्रेनिंग रूटीन के लिए दिए 5 टिप्स