लाइफ स्टाइल

कैसे ‘Dragon Ball’ के सोन गोकू ने गुयेन ट्रान ड्युए नट को प्रेरणा दी

“नंबर 1” गुयेन ट्रान ड्युए नट ग्लोबल स्टेज पर एक असली मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट के रूप में नजर आते हैं लेकिन ड्रैगन बॉल की कहानी ने उन्हें एक बेहतरीन मार्शल आर्टिस्ट बनने की प्रेरणा दी थी।

31 वर्षीय स्ट्राइकर अपने बचपन में जापानी कॉमिक बुक्स के बहुत बड़े फैन हुआ करते थे और उन कहानियों ने उन्हें ताकतवर बनाया, आत्मविश्वास बढ़ाया और एक बेहतर एथलीट बनने में मदद भी की।

Nguyen Tran Duy Nhat shows off his Dragon Ball manga collection

उनकी युवावस्था के सबसे खुशनुमा पल ड्रैगन बॉल से संबंध रखते हैं और वो आज भी उनकी जिंदगी का एक अभिन्न हिस्सा हैं।

उन्होंने बताया, “बचपन में ड्रैगन बॉल मेरे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा हुआ करता था। प्राथमिक शिक्षा के दिनों में किसी कॉमिक बुक को खरीदने पर ऐसा एहसास होता था जैसे मुझे कितना बड़ा खज़ाना मिल गया है। मेरे पास अभी भी घर पर ड्रैगन बॉल की 67 मिनी बुक्स रखी हुई हैं।”

“मुझे उन्हें पढ़ना, अपने दोस्तों के साथ शेयर करना, कैरेक्टर्स के बारे में दोस्तों से बात करना और हर रोज बुकस्टोर जाकर ये चैक करना कि कोई नई बुक रिलीज़ तो नहीं हुई है, ये सब चीजें मुझे आज भी अच्छे से याद हैं।

“प्रकाशन ऑफ़िस प्रति सप्ताह केवल एक ही मिनी बुक को बेचा करता था जिसमें कुछ ही अध्याय होते थे, इसलिए मुझे नई बुक के लिए अगले हफ्ते का इंतज़ार करना पड़ता था। नए अध्याय का इंतज़ार करना बहुत कठिन होता था लेकिन जब भी नई बुक मेरे हाथों में आती तो खुशी से झूम उठता था।”



कहानी का नायक, सोन गोकू हो ची मिन्ह शहर से संबंध रखता था। वो सैयान जाति के सबसे महान योद्धा हुआ करते थे, जो बुरे लोगों से पृथ्वी की रक्षा करते थे।

ड्युए नट का परिवार कॉम्बैट से जुड़ा रहा है इसलिए मार्शल आर्ट्स जैसे उन्हें विरासत में मिला है। लेकिन जब उन्होंने गोकू की बहदुरी के बारे में पढ़ा तो उनके अंदर भी अपने स्पोर्ट से दुनिया के लिए कुछ अच्छा करने की इच्छा जागृत होने लगी थी।

वियतनामी एथलीट ने बताया, “मुझे उन किताबों में हर एक कैरेक्टर पसंद है, लेकिन किसी दूसरे लड़के की ही तरह सोन गोकू को अपना हीरो मानता था।”

“उनके पास ताकत थी लेकिन इसके बावजूद अपने प्रतिद्वंदियों को हराने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी होती थी। उनकी किक्स और पंच शानदार थे, वो दिल से अच्छे और पृथ्वी को बचाने की ज़िम्मेदारी अपने कंधों पर ली हुई थी। मेरी नजरों में वो एक असली मार्शल आर्टिस्ट हैं।”

ड्युए नट को डोरेमोन पढ़ना भी काफी पसंद था और नोबिता की जिंदगी के अनुभव को करीब से फॉलो किया करते थे। नोबिता, जो अक्सर रोबॉटिक कैट से मदद लिया करता था।

हालांकि, सोन गोकू के साहस ने ड्रैगन बॉल को उनकी सबसे फेवरेट कहानी बना दिया था, वो खुद को भी सैयान की तरह ढालना चाहते थे।

5 बार के WMF वर्ल्ड चैंपियन ने आगे कहा, “मैं दोनों को पढ़ता था लेकिन ड्रैगन बॉल ज्यादा पसंद था। उस कॉमिक में मुझे प्यार, प्रतिबद्धता और साहस भी दिखाई पड़ता था।”

“गोकू एक असली मार्शल आर्टिस्ट हैं, उनका कैरेक्टर ही बहुत अच्छा है। मैं अपनी जिंदगी में नोबिता नहीं बनना चाहता था जिसे लगभग हर काम के लिए डोरेमोन की मदद चाहिए होती है। मैं सोन गोकू बनना ज्यादा पसंद करता क्योंकि वो अपने दोस्तों को बचाने के लिए बड़ी-बड़ी मुसीबत मोल ले लेते थे।”

Vietnamese Muay Thai athlete Nguyen Tran Duy Nhat prays in the middle of the ring

“नंबर 1” तभी से अपने हीरो की तरह बनने की कोशिश करते रहे हैं।

इतनी सक्षमताएं होने के बाद भी सोन गोकू हमेशा कुछ नया सीखते रहते थे और उनकी ये बात भी ड्युए नट को काफी पसंद है और वो खुद भी ऐसा ही करने का प्रयास करते रहते हैं।

हालांकि, वियतनामी स्ट्राइकर के पास गोकू जैसी सुपरपावर भले ही ना हों लेकिन वो जानते थे कि अपनी स्किल्स में लगातार सुधार करने से उन्हें मॉय थाई में सफलता मिल सकती है।

उन्होंने कहा, “मैं अभी भी असल जिंदगी में सोन गोकू की तरह बनने की कोशिश करता हूँ।”

“गोकू का हमेशा मानना रहा है कि उन्हें अच्छी शेप में बने रहने के लिए खुद में सुधार करना जारी रखना होगा। ये धारणा ही उन्हें ताकत देती और अपने दुश्मनों को हराने के लिए ताकत भी देती थी।

“मुझे ये भावना बहुत पसंद है, मैं गोकू की ही तरह प्रतिदिन कुछ नया सीखने की कोशिश करता हूँ।”

 ये भी पढ़ें: रोडटंग जित्मुआंगनोन से मुकाबला करना चाहते हैं गुयेन ट्रान ड्युए नट